Monday, August 10, 2015

सीएम हाऊस जैसा लुक देगा सूरतगढ़ एसडीएम हाऊस


नगरपालिका ने पीडब्ल्यूडी के एसडीएम आवास का मूल रूप नक्सा ही बदल दिया गया है
नगरपालिका ने उपखंड कार्यालय की चारदीवारी निर्माण का टेंडर निकाला और बनाई गई एसडीएम आवास की चार दीवारी
स्पेशल रिपोर्ट - करणीदानसिंह राजपूत
सूरतगढ़। सीएम हाऊस जैसा लुक देगा एसडीएम हाऊस और उसके लिए नगरपालिका की अध्यक्ष श्रीमती काजल छाबड़ा और ईओ प्रियंका बुडानिया की नजरों में नगरपालिका के धन से यह कार्य करवाया जा रहा है। एकदम सामने नजर आने वाला प्रमाण ही आम जनता के सामने रखा जा रहा है।
नगरपालिका ने 30 अप्रेल 2015 को टेंडर निकाले जो 1 मई को अखबारों में छपे। राजस्थान पत्रिका में छपे टेंडर की फोटो यहां दे रहे हैं। क्रमांक 9 में देखा जा सकता है। उपखंड कार्यालय की चार दीवारी का निर्माण रूपए 8 लाख। यह कार्य क्षेत्र पीडब्ल्यूडी का है और भवन उनके ही अधिकार में है। नगरपालिका वहां पर खर्च ही नहीं कर सकती। लेकिन इसमें भी गोलमाल हुआ कि चारदीवारी कार्यालय की बनाने के लिए टेंडर निकाला गया और चार दीवारी बनाई गई है एसडीएम हाऊस की। दोनों पास में है और एक साथ देखे जा सकते हैं।
उपखंड कार्यालय की चार दीवारी का निर्माण ऊंचा उठाने का कुछ साल पहले करवाया जा चुका था। उसकी आगे और पीछे की फोटो भी देख सकते हैं।
उपखंड कार्यालय व उपखंड अधिकारी का आवास दोनों ही पीडब्ल्यूडी अधिशाषी अभियंता कार्यालय के सामने ही 50 फुट की दूरी पर है। वहां हो रहा यह सारा निर्माण उनकी नजरों में है। आश्चर्य यह है कि एसडीएम आवास का मूल स्वरूप ही बदल दिया गया है जो सरकार की मंजूरी के बिना बदला ही नहीं जा सकता। एसडीएम हाऊस का लुक सीएम हाऊस जैसा दिखलाने के लिए पिछले 9 महीने से निर्माण चल रहा है। इसमें लगने वाला कई लाख रूपए कहां से आ रहा है? लेकिन नगरपालिका इसमें कुछ भी निर्माण नहीं करवा सकती।
नगरपालिका ने टेंडर निकाला उसमें अध्यक्ष काजल छाबड़ा व तत्कालीन ईओ तरसेम अरोड़ा के हस्ताक्षर हुए। लेकिन उसके बाद ईओ पद पर प्रियंका बुडानिया आ गई लेकिन उसने भी यह गलत कार्य रूकवाया नहीं। उसके पद संभालने के बाद भी यह कार्य जारी है। 


चार दीवारी बनाई गई है एसडीएम हाऊस की


उपखंड कार्यालय की चार दीवारी का निर्माण ऊंचा उठाने का कुछ साल पहले करवाया जा चुका था।
उपखंड कार्यालय की चार दीवारी का निर्माण ऊंचा उठाने का कुछ साल पहले करवाया जा चुका था।




पूर्व विधायक व वरिष्ठ वकील स.हरचंदसिंह सिद्धु का कहना है कि एसडीएम आवास पर पालिका किसी भी रूप में धन खर्च नहीं कर सकती क्योंकि यह पीडब्ल्यूडी के अंडर आता है। नगरपालिका द्वारा धन लगाना गलत है। नगरपालिका ने उपखंड कार्यालय की चारदीवारी निर्माण का टेंडर निकाला और उपखंड अधिकारी के आवास की चारदीवारी बनवाई है जिससे साबित होता है कि बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार हुआ है। इस मामले की जाँच जरूरी है।

सीएम हाऊस जैसा लुक देगा सूरतगढ़ एसडीएम हाऊस

No comments:

Post a Comment

Search This Blog