Sunday, May 10, 2015

तुम्हारा अनछुपा प्यार:एक सच्च:


 

मुस्कुराती हुई नवयुवती और उसकी कमर को थामे मुस्कुराता हुआ युवक।
 तस्वीरों से लाखों ने देखा:
बड़े अखबार ने घर घर पहुंचाया:
- करणीदानसिंह राजपूत -
मुस्कुराती हुई नवयुवती और उसकी कमर को थामे मुस्कुराता हुआ युवक। हिन्दी में कितने ही प्रकार से पढ़ा जा सकने वाला आकर्षित करने वाला अंग्रेजी वाक्य...अनहाइड योर लव...।
तुम्हारा अनछुपा प्यार।
तुम्हारा बिना राज का प्यार।
तुम्हारा प्यार जो गुप्त नहीं।
तुम्हारा प्यार जो पर्दे में नहीं।
इसे एकदम साफ शब्दों में तुम्हारा खुला प्यार लिखा जा सकता था, लेकिन फिर वह बात नहीं रहती जो आकर्षण के साथ दिखाई जाने वाली थी। उसके लिए भी अंग्रेजी के ओपन योर लव लिखा जा सकता था।
लेकिन लिखा गया अनहाइड योर लव।
इन शब्दों से तस्वीर का लुक ही बदल गया।
उनके आकर्षक पहनावे पर नजरें टिकी होंगी।
अनहाइड योर लव लिखे होने के कारण तस्वीर के आकर्षण को सभी ने देखा होगा और युवक युवती की मुस्कुराहटों को दिल में महसूस किया होगा।
बस तस्वीर की इसी जिंदादिली को घर घर पहुंचाने का उद्देश्य अधूरा नहीं रहा होगा।
इसी जिंदादिली को जोड़ों ने अपने अपने दिलों के पास में महसूस किया होगा।
देश में अपनी बड़ी पहुंच को बताने वाले अखबार ने युवाओं को प्रभावित किया। या प्रभावित करने के लिए अपने मुख पर हसीन युवा लड़की लड़के की तस्वीर को अनहाइड योर लव के साथ हर जगह पहुंचा दिया।
लाखों परिवारों ने इस तस्वीर को देखा।
बड़े छोटे ने देखा।
बस। अब आगे क्या कहा जा सकता है।
इससे आगे की कहानी जो बनती है।

वो कहानी तस्वीर नहीं बनाती। 
वो कहानी अखबार नहीं बनाता।
मगर जब बनती है तो कोई रोक नहीं पाता।

वह कहानी एक नहीं अनेक अखबारों में छपती है।
लड़की चली गई प्रेमी संग।
इसके बाद न जाने कहानी कितने रूपों में कितनी घटनाओं में चलती है।
अनहाइड योर लव।
एक सच्च जो रूक नहीं रहा है।
एक सच्च जो बड़ी तेजी से समाज में फैलता जा रहा है।

कहानी-
करणीदानसिंह राजपूत
 

No comments:

Post a Comment

Search This Blog