Thursday, October 19, 2017

रावला तहसील घोषित :अनूपगढ़ जिला बनने का दबाव बढ़ा-करणीदानसिंह राजपूत -


 राजस्थान सरकार ने 18 अक्टूबर 2017 को रावला मंडी को राजस्व तहसील घोषित करने की अधिसूचना जारी कर दी। राजस्थान सरकार ने इलाके की कई सालों की मांग को दीपावली के अवसर पर पूरा कर अनूपगढ़ क्षेत्र के सीमा क्षेत्र निवासियों को यह उपहार दिया है। रावला मंडी के राजस्व तहसील घोषित होने के बाद अनूपगढ़ को जिला बनाने की संभावनाएं प्रबल हो गई है। इससे अनूपगढ़ को जिला बनाए जाने के लिए दबाव भी बढा है।  अनूपगढ़ को जिला बनाने की मांग को लेकर अनूपगढ इलाके के सभी प्रकार के संगठन पिछले कई सालों से लगातार धरना प्रदर्शन करके आंदोलन खड़ा किए हुए हैं। यह आंदोलन अभी भी जारी है। वर्तमान स्थिति में देखें तो रावला मंडी तहसील घोषित होने के बाद अनूपगढ़ को जिला बनाने की मांग में रावला मंडी घड़साना अनूपगढ़ और श्री बिजय नगर तहसीलें शामिल हैं।

सूरतगढ़ को जिला बनाए जाने की मांग भी पिछले 40 सालों से चल रही है। सूरतगढ़ उपखंड में अभी केवल सूरतगढ़ राजस्व तहसील और राजियासर व जैतसर उप तहसीलें हैं। राजस्थान सरकार यदि अनूपगढ़ को जिला बनाने की घोषणा करती है तो श्री गंगानगर जिले के पुनर्गठन में संभव है श्री बिजय नगर तहसील सूरतगढ़ में शामिल करके सूरतगढ़ को भी जिला बना दिया जाए। फिलहाल रावलामंडी को अनूपगढ़ को जिला बनाने की मांग में दबाव बढ़ा है। अनूपगढ़ पाक सीमा के अत्यंत नजदीकी कस्बा है इसलिए संभव है जिला मुख्यालय बनाने पर संकट बना रह सकता है। सीमा क्षेत्र के अत्यधिक नजदीक जिला मुख्यालय बनाने की घोषणा होने में अवरोध है मगर राजनीतिक दबाव से सब कुछ संभव हो सकता है।



No comments:

Post a Comment

Search This Blog