Monday, April 10, 2017

महावीर जयंती समारोह विधायक राजेंद्र भादू व पालिकाध्यक्ष काजल छाबड़ा के आतिथ्य में हुआ

 - करणीदान सिंह राजपूत - 

सूरतगढ़ 10 अप्रैल 2017.

 भगवान महावीर की जयंती समारोह यहां श्री माहेश्वरी सदन में आयोजित किया गया। जैन आचार्य श्रीमद् विजय आनंद महाराज साहब ने अपने उपदेश में बहुत ही सीख और चेताने वाली बात कही कि कर्मों का फल इसी जीवन में मिलता है​, इसलिए सोच और समझ कर कर्म करें। विजयानंद जी महाराज का यह उपदेश इसलिए महत्वपूर्ण है कि आज राजनेता, पैसे वाले,प्रभाव वाले लोग मंचों पर घोषणाएं कुछ भी करते रहें सच्चे बने रहें लेकिन उनकी नीयत और उनके कर्म भ्रष्टाचार से भरे हुए तथा सामाजिक नीतियों के विरुद्ध होते हैं।आज इस प्रकार का माहौल बना दिया गया है कि लाखों रुपए कमीशन भ्रष्टाचार में खाने वाला 10 मिनट किसी समारोह में जाकर कुछ अंश दान देकर अपने आप को पवित्र मान लेता है। वह सोच लेता है कि उसके सारे पाप  इस दान से और इस कुछ मिनट की समाजसेवा से धुल गए हैं। महावीर जयंती के पर्व पर जैन आचार्य विजय आनंद जी का उपदेश बहुत ही सीख देने वाला है। यह किसी एक को नहीं समाज के हर व्यक्ति को चेताता है कि वह जो कुछ कर रहा है उस पर किसी न किसी की नजर जरूर है और वह सर्वशक्तिमान इसी जन्म में उसके कर्मों का फल भी दे देता है। 9 अप्रैल को मनाए गए समारोह में जैन आचार्य विजय आनंद जी के अलावा मुनिराज  जयकीर्ति विजय और मुनि दिव्यांश विजय का भी सानिध्य रहा।




No comments:

Post a Comment

Search This Blog