Thursday, September 27, 2012

फोटो फीचर: चल अकेला मस्त अकेला- छायाचित्र एवं शब्द - करणीदानसिंह राजपूत

फोटो फीचर: चल अकेला मस्त अकेला-        छायाचित्र एवं शब्द - करणीदानसिंह राजपूत

चल अकेला मस्त अकेला, 
घग्घर पानी की खुशबू लेता,
 सदाबहार साइकिल की सवारी, 
नीलगगन और धरती प्यारी
चल अकेला मस्त अकेला।

नोट- यह नयनाभिराम दृश्य सूरतगढ़ से हनुमानगढ़ की चलती हुई रेलगाड़ी में से केमरे में उतारा गया।
-----------------------------------------------



No comments:

Post a Comment

Search This Blog