गुरुवार, 7 जुलाई 2016

शराब पीने वालों को न वोट देंगे न बेटी देंगे का आह्वान


राजस्थान की स्वर्ण नगरी जैसलमेर को शराबमुक्त करने का आह्वान:


-स्पेशल रिपोर्ट-
जैसलमेर 6 जुलाई 2016. राजस्थान के शहर और गांव में सम्पूर्ण शराबबंदी की मुहिम चला रही श्रीमती पूजा छाबड़ा आज जैसलमेर पहुंची जहां सीएमएचओ कार्यालय के पीछे गाडिय़ा लौहार बस्ती में उनका स्वागत  आयोजनकर्ता जगदीश गाडोलिया लौहार,बिराराम गाडोलिया लौहार, अशोक जी चांवरिया,श्रीमती पप्पू देवी, और उगमा देवी ने किया। श्रीमती पूजा छाबड़ा ने वहां की महिलाओं से मिलकर उनके दर्द बांटे....श्रीमती पूजा छाबड़ा का समर्थन करते हुए समाज के लोगों के साथ साथ वहां की महिलाओं ने समर्थन करते हुए संकल्प लिया की शराब बेचने वाले और शराब का नशा करने वालों को ना तो कोई वोट देंगे और ना ही कोई अपनी बेटी देंगे और तन मन धन से इस सामाजिक बुराई को खत्म करने में साथ देने का आह्वान किया।
    जैसलमेर शहर के हनुमान चौक के अन्नपूर्णा होटल में श्रीमती पूजा छाबड़ा ने मीडिया कर्मियों/संवाददाताओं को बातचीत के दौरान कहा.....की बिहार में महिलाओं द्वारा आवाज उठाने पर की वहां शराबबंदी के पक्ष में मैंने बिहार के  मुख्य्मंत्री नीतीश कुमार जी से दिल्ली के मुलाकात की। उन्होंने राजस्थान में सम्पूर्ण शराबबंदी के पक्ष में मेरा समर्थन करने का वादा किया। मेरा यही उदेश्य है की जिस तरह आज शहर के ही नहीं अपितु गांवों और ढाणियों के लोग और विशेषकर शराब की समस्याओं से जूझ रही महिलाएं  इस मुहिम के लिए जुड़ रही है और आगे आ रही  है, मैं उनकी आभारी हंू...और मैं अपनी आखिरी सांस तक राजस्थान के जिले,गांव और ढाणियों में जा कर ऐसे ही लोगों से जुड़ती रहूंगी और इस मुहिम के लिए जीवनभर संघर्ष करती रहूंगी।

  श्रीमती पूजा छाबड़ा का राजस्थान की स्वर्णनगरी जैसलमेर पहुंचने पर जोरदार स्वागत किया गया। भारत की अंतर्राष्ट्रीय सीमा पर राजस्थान के जैसलमेर जिले की अंतिम ग्राम पंचायत  खुहड़ी ग्राम पंचायत के सरपंच श्री बादल गिरी जी  व सामाजिक कार्यकर्ताओं के साथ वहां ग्रामीण लोगों ने स्वागत किया। चेलक ग्राम पंचायत के पूर्व सरपंच सुखपाल सिंह जी और उनके साथ सामजिक कार्यकर्ता श्री सुख सिंह जी और श्री महेंद्र सिंह जी ने श्रीमती पूजा छाबड़ा के शराबबंदी मुहिम के पक्ष में साथ देने का आह्वान किया। इलाके में ग्राम पंचायत स्तर पर शराबबंदी कार्यक्रम रखने की घोषणा की और शहर में शरबबंदी लागू करने का संकल्प लिया।










कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें