शुक्रवार, 9 अप्रैल 2021

श्री जाकिर हुसैन ने जिला कलेक्टर श्रीगंगानगर का पदभार ग्रहण किया-विशेष रिपोर्ट.

 






* करणीदानसिंह राजपूत *
श्रीगंगानगर, 9 अप्रैल 2021.

श्रीगंगानगर जिले में 51 वें जिला कलेक्टर श्री जाकिर हुसैन ने प्रातः 10.15 पर जिले के कलेक्टर का कार्यभार संभाला।
जिला कलेक्टर का स्वागत एडीएम प्रशासन श्री भंवानी सिंह ने किया।
इस अवसर पर एसडीएम श्री उम्मेद सिंह रत्नु, जिला परिषद सीईओ श्री अशोक कुमार मीणा, यूआईटी सचिव डाॅक्टर हरीतिमा जोशी, पीएचईडी अधीक्षण अभियंता श्री बलराम शर्मा भी उपस्थित रहे और जिला कलेक्टर को पुष्पगुच्छ भेंट कर जिला प्रशासन की टीम ने उनका स्वागत किया।

* हनुमानगढ़ में जिला कलेक्टर रहे श्री जाकिर हुसैन का कोरोना काल में शानदार कार्य रहा। जब कर्फ्यू ग्रस्त इलाके से लोगों की डिमांड आई कि हमारा दूध कोई नहीं ले रहा तो एमडी डेयरी को कह कर दूध खरीद करवाई और तत्काल पेमेंट करवाया। कर्फ्यू ग्रस्त इलाके में आवारा पशुओं के लिए चारे की व्यवस्था करवाई। कर्फ्यू ग्रसत इलाके में लोगों ने कहा कि कैश पैसे खत्म हो गए तो डोर टू डोर मोबाइल एटीएम की व्यवस्था करवा दी। कोटा की एक लड़की ने लाॅक डाउन में काॅल किया तो उसे कोटा से तुरंत हनुमानगढ़ लाने की व्यवस्था करवाई। कलक्ट्रेट परिसर में ड्राइवर्स के बैठने के लिए कमरा बनवाया। इनके नेतृत्व में जिले में साम्प्रदायिक सौहार्द और मजबूत हुआ। इन्होंने गुरुद्वारे में कई बार माथा टेका तो मंदिरों में कई बार गए। क्रिसमिस पर चर्च में 3 घंटे का समय दिया। यानी सभी जाति धर्म, सम्प्रदाय के लोगों को अपनत्व दिया। पिछले हफ्ते ही कलक्ट्रेट परिसर में गांधी जी की मूर्ति बनवाई और उस्का मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत से उद्धघाटन करवाया।
इनके कार्यकाल में नोहर भादरा में नहरी पानी चोरी को रुकवाने का ऐतिहासिक कार्य किया। नहर बनने के 18 साल बाद पहली बार पानी चोरी रुकी। इन्होंने लाॅ एंड आर्डर के मामले भी शांति से निपटाए।
इनके नेतृत्व में लोकसभा, नगरीय निकाय, पंचायत चुनाव शांति पूर्वक सम्पन्न करवाये गए।
इन्होंने जिले में हैप्पीनेस इंडेक्स बढ़ाने में कोई कमी ना छोड़ी। इनका मानना है कि सरकारी पैसे से सेवा का मौका मिला है इसमें कोई पीछे नहीं छूटना चाहिए। आम आदमी के प्रति इनकी सद्भावना व अच्छे व्यवहार ने एक अलग पहचान बनायी है।
श्रीगंगानगर जिले में भी जिला कलेक्टर श्री जाकिर हुसैन के  नेतृत्व में जिला प्रशासन और भी अच्छा कार्य करेगा।*
* जाकिर हुसैन की सेवाएं *
मूल रूप से झुंझुनूं जिले के रहने वाले जाकिर हुसैन का जन्म 29 जनवरी 1962 को हुआ। इससे पहले प्रबंध निदेशक, राजस्थान सहकारिता डेयरी फेडरेशन लिमिटेड जयपुर एवं संयुक्त शासन सचिव, वित्त (व्यय-।।।) विभाग, जयपुर के पद पर सेवारत रहे। वर्ष 2017 नवंबर माह में लेखा सेवा से आईएएस बने जाकिर हुसैन के परिवार में कई अफसर हैं। हुसैन पांच भाइयों में से सबसे छोटे हैं। उनसे बड़े भाई अशफाक हुसैन पहले से ही आईएएस है। वह आरएएस से आईएएस बने थे। उनसे भी बड़े भाई लियाकत अली आईपीएस से रिटायर हुए। लियाकत अली आरपीएस से आईपीएस बने थे। एक भाई प्राइवेट जॉॅब में और एक भाई शिक्षक है। परिवार की दूसरी पीढ़ी में भी कई अफसर हैं। लियाकत अली के पुत्र शाहीन अली आरएएस हैं, शाहीन की प|ी मोनिका अग्रवाल राजस्थान जेल सर्विस की अधिकारी हैं। आईएएस अशफाक हुसैन की पुत्री फरहा हुसैन आईआरएस अफसर हैं, फरहा के पति कमर आईएएस हैं।00

***********





कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें