Thursday, March 23, 2017

सूरतगढ़ में एटा सिंगरासर माइनर आंदोलनकारियों का महापड़ाव

-  करणीदान सिंह राजपूत -

 सूरतगढ़ 23 मार्च 2017.

 सूरतगढ़ तहसील के टीबा क्षेत्र के गांव के किसानों ने एटा सिंगरासर माइनर की मांग को लेकर पूर्व घोषणा के अनुसार आज 23 मार्च को सूरतगढ़ के इंदिरा सर्किल पर बिगुल बजा दिया। इंदिरा सर्किल पर नेताओं ने वक्तव्य दीजिए सभी की एक ही मांग थी। एटा सिंगरासर माइनर हर हालत में लेकर रहेंगे। आंदोलनकारियों के साथ काफी संख्या में महिलाएं भी मौजूद थी। 

नारेबाजी के साथ आंदोलनकारी आज सूरतगढ़ पहुंचे आंदोलनकारियों का महापड़ाव उपखंड कार्यालय के आगे शुरू होना था जहां पर सभी कार्यालयों के रास्तों पर लकड़ों के अवरोधक लगा दिए गए हैं।

 किसानों की यह मांग लगातार जारी है। आज किसानों के महापड़ाव और सूरतगढ़ की ओर बढ़ने के जोशीले चित्र यहां दिए जा रहे हैं।

 सूरतगढ़ शहर में करीब 80 हजार की आबादी है। अनेक संगठन है, लेकिन ऐसा लग रहा है सभी संगठन और नेता भाषणों से सहयोग दे रहे हैं। मौके पर केवल ग्रामीण नजर आते हैं। क्या शहर और गांव का इतना ही नाता है कि गांव के लोग शहरों से चीजें खरीदते रहें शहर वालों की बिक्री कराते रहें और शहर वाले कमाई करते रहे? बस । 

शहर में समस्त राजनीतिक दलों के हजारों कार्यकर्ता है और होना तो यह चाहिए था की इस महापड़ाव में किसानों की संख्या से 4-5 गुना अधिक संख्या में शहरी लोग पहुंचते और हर प्रकार का सहयोग करने में आगे रहते। हो सकता है अब शहर के लोग अपनी जिम्मेदारी समझते हुए किसानों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर इस महापड़ाव में अपनी उपस्थिति दर्ज करवाएं।




,

No comments:

Post a Comment

Search This Blog