गुरुवार, 2 जुलाई 2015

पट्टाघोटाला:बनवारी की शिकायत में 61 नाम:ईओ मदन बुडानिया पर आरोप:



पूर्व पालिकाध्यक्ष ने जाँच व पट्टा निरस्त करने का मांग पत्र दिया था:

बनवारीलाल ने लिखा कि ईओ मदनसिंह बुडानिया ने भ्रमित कर पट्टे जारी करवाए:
5 साल बाद पत्र परेशानी का कारण बनेगा:लोग नकलें निकलवाऐंगे और जाँच करवाऐंगे:

स्पेशल रिपोर्ट-करणीदानसिंह राजपूत
सूरतगढ़,2 जुलाई।
बनवारीलाल मेघवाल ने अपने पालिका अध्यक्ष काल में जो शिकायत पत्र जयपुर भेजा उसमें लिखा कि नया अध्यक्ष बना था और ईओ मदनसिंह बुडानिया ने भ्रमित कर पट्टे जारी करवाए। बुडानिया ने पूछने पर इन पट्टों को नियमानुसार सही बतलाया। अगर ये पट्टे गलत हैं तो बुडानिया के विरूद्ध कार्यवाही की जाए तथा पट्टों को निरस्त किया जाए। बुडानिया के बाद ईओ पद पर आए भंवरलाल सोनी ने बनवारीलाल को बताया कि पट्टे नियम विरूद्ध हैं। विदित रहे कि मदनसिंह बुडानिया यहां दुबारा और आए या लाए गए। सेवानिवृति पर शानदार समारोह हुआ और अब उनकी बेटी प्रियंका बुडानिया ईओ पद आई हैं या लाई गई हैं।
बनवारीलाल मेघवाल ने जिन लोगों के नाम लिखे हैं वे यहां दिए जा रहे हैं।
1.दुर्गादेवी पत्नी श्यामसुंदर खंडेलवाल नगरपालिका में भूमि शाखा इंचार्ज।
2.अशोक कुमार पुत्र श्यामसुंदर खंडेलवाल नगरपालिका में भूमि शाखा इंचार्ज।
3.कृष्ण तरड़
4.करूणा रत्न पत्नी विजयकुमार शर्मा। विजयकुमार शर्मा आरसीपी कर्मचारी थे।
5.हंसराज पुत्र नन्दलाल यादव
6.जयदेव पुत्र रघुनाथ सहाय
7.आनन्द पुत्र रघुनाथ सहाय
8.हनुमान पुत्र हीरालाल पुत्र रघुनाथ सहाय
9.देवेन्द्र वर्मा पुत्र राजेन्द्र वर्मा
10.फकीरचंद नाई पुत्र प्रभाती लाल नाई
11.चेतराम पुत्र सुरजाराम आसेरी
12.कलावन्ती पत्नी भागीरथ सुथार
13.मुरलीधर पुत्र किशनलाल पारीक
14.जसवीरसिंह पुत्र स्वर्णसिंह रामगढिया
15.बाबूलाल पुत्र छबीलाराम
16.सुभाष पुत्र छबीलाराम
17.मदनलाल पुत्र लछमन राम मेघवाल
18.जयभगवान पुत्र कस्तूरीलाल
19.नंदलाल पुत्र मंहगाराम
20.राजकुमारी पत्नी रघुनाथ राम
21.बन्तासिंह पुत्र मालासिंह
22.गुड्डीदेवी / रतनलाल
23.मीरादेवी पत्नी कृष्णचन्द्र गोदारा
24.मक्खूशाह पीर पुत्र मिल्लूशाह पीर
25.सुभाषचन्द्र /अशोककुमार/सुरेशकुमार/महेशकुमार/संजयकुमार/दिनेशकुमार  पिसरान नन्दकिशोर
26.नन्दराम पुत्र चेतराम
27.पार्वतीदेवी पत्नी शंकरलाल
28.परमेश्वरीदेवी पत्नी छगनलाल
29.विजय शंकर पुत्र शिवपतराय मून्धड़ा
30.नरेन्द्रकुमार पुत्र सोहनलाल गोलछा
31.संपतलाल पुत्र सोहनलाल गोलछा
32.पवन ओझा पुत्र शंकरलाल उस समय इनकी पत्नी पार्षद थी।
33.मंगतराय अग्रवाल पुत्र गजानन्द अग्रवाल
34.पूनमचंद जैन वार्ड नं 17 पुराना
35.संतोषदेवी पत्नी दलेलसिंह। पति एमइएस में नौकरी। राष्ट्रीय उच्च मार्ग पर।
36.सौरभकुमारी पत्नी अनिलकुमार अग्रवाल। राष्ट्रीय उच्च मार्ग पर।
37.हीरालाल पुत्र ओमप्रकाश राष्ट्रीय उच्च मार्ग पर।
38.दलीपकुमार पुत्र हरसुखराम राष्ट्रीय उच्च मार्ग पर।
39.संजयकुमार पुत्र पूनमचंद राष्ट्रीय उच्च मार्ग पर।
40.जितेन्द्र कांडा पुत्र छगनलाल कांडा राष्ट्रीय उच्च मार्ग पर।
41.रामचन्द्र पुत्र होलाराम अरोड़ा राष्ट्रीय उच्च मार्ग पर।
42.हेतराम पुत्र लूणा राम
43.केहरसिंह पुत्र लूणा राम
45.आत्मचन्द्र पुत्र श्योजी राम
46.छोटू खां पुत्र सन्तू खां
47.राजू खां पुत्र छोटू खां
48.सोना पत्नी बून्दी राम
49.कलाली देवी प्तनी स्व.नानुराम
50.लूणाराम पुत्र कल्याणा राम
51.मनजीतकौर पत्नी अजैबसिंह
52.गजेन्द्रसिंह पुत्र सोहनसिंह
53.मुन्नी देवी पत्नी रामेश्वर लाल
54. महावीरसिंह पुत्र लालसिंह
55.मानक पुत्र नत्थूराम
56.विनोद कुमार पुत्र उत्तमचन्द्र
=======

भंवरलाल सोनी

मदनसिंह बुडानिया के स्थानानतरण के बाद यहां आए भंवरलाल सोनी ईओ ने यह तो साफ कर दिया कि पट्टे नियम विरूद्ध जारी हुए हैं तब बनवारीलाल ने अपना बचाव करने की सोच के साथ यह पत्र लिखा। लेकिन जब पट्टे नियम विरूद्ध जारी हुए तो बनवारीलाल व मदनसिंह बुडानिया ने साधुत्व के नाते तो इनको जारी नहीं किया होगा। इनमें भारी भरकम डील हुई होगी और किस किस रूपए लिए गए होंगे? यह जाँच में ही उजागर हो सकेगा।  आखिर उस डील की रकम का हिस्सेदार कौन कौन रहा होगा? इस पत्र ने लोगों के लिए भारी परेशानी पैदा करदी है। मदनसिंह बुडानिया की पुत्री प्रियंका बुडानिया अब यहां ईओ आई है या लाई गई है लेकिन क्या वह जाँच को प्रभावित नहीं करेगी।
बनवारीलाल मेघवाल का पत्र 8 पेज फोटो देखने के लिए यहां क्लिक करें।

सूरतगढ़ में बनवारी के पत्र से पट्टे वालों में खलबली:8 पेज:

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें