शुक्रवार, 22 अप्रैल 2022

पालिकाध्यक्ष ओमप्रकाश कालवा व ईओ विजयप्रतापसिंह पर भ्रष्टाचार के आरोप: भाजपा गर्म.

 

* करणीदानसिंह राजपूत *

सूरतगढ़ 22 अप्रैल 2022.

सीवरेज निर्माण कं को 1 करोड़ 48 लाख के   फर्जी भुगतान में पालिकाध्यक्ष ओमप्रकाश कालवा और अधिशासी अधिकारी विजयप्रतापसिंह गंभीर आरोपों में फंसे है और भाजपा के ताजा नोटिस की शहर में चर्चा जोरों पर है। मामला इतना अधिक गंभीर है कि अध्यक्ष ईओ और स्टाफ पर सस्पेंशन की तलवार सिर पर लटक सकती है।

भाजपा नगरमंडल और पार्षदों ने 21 अप्रैल 2022 को धरना प्रदर्शन का नोटिस अधिशासी अधिकारी विजयप्रतापसिंह को दिया है। 

* यह फर्जी भुगतान का मामला अध्यक्ष और ईओ हलके में लेते रहे कि जांच की मांग और फाईलों की नकलें मांगने वाले पार्षद कुछ दिन चिल्लाने के बाद चुप हो जाएंगे और मामला ठंडा हो जाएगा व घोटाला पच जाएगा। लेकिन यह मामला खत्म नहीं हो रहा है तथा जांच कराने की मांग कराने वालों की संख्या बढती जा रही है।

* मामला शिकायतों और खबरों के बाद भाजपा विधायक रामप्रताप कासनिया ने विधानसभा में उठाया। उसके बाद निरंतर उठता ही जा रहा है। 

* भाजपा के दो पार्षदों राजीव प्रतापसिंह और हरीश दाधीच  ने मार्च 2022 में 1 करोड़ 48 लाख का भुगतान कर दिए जाने पर संबंधित दस्तावेजों की नकलें मांगी। पार्षद को  नकलें निशुल्क दिए जाने का प्रावधान है। पार्षदों ने ईओ द्वारा नकलें नहीं देने पर 31 मार्च 2022 को उपखंड अधिकारी सूरतगढ़ को विकायत की और उसकी प्रति ईओ को दी। ईओ द्वारा 20 दिन और बिता दिए जाने पर भाजपा ने 21 अप्रैल 2022 को नोटिस दिया।


भाजपा के नगरमंडल अध्यक्ष सुरेश मिश्रा के साथ महामंत्री लालचंद शर्मा और पार्षद हरीश दाधीच आदि भी थे।  नोटिस पर पार्षदों हरीप्रसाद, राजीवप्रताप सिंह,सरला नायक,मोहनकंवर,बिरमा देवी तावणियां,संजय अग्रवाल, जगदीश मेघवाल, तारादेवी ताखर,संतोष गिरी और ओमप्रकाश अठवाल के भी हस्ताक्षर हैं।

नोटिस में लिखा गया है कि भाजपा के 2 पार्षदों राजीवप्रताप सिंह और हरीश दाधीच ने सीवरेज का संबंधित कार्य नहीं होने के बावजूद 1 करोड़ 48 लाख रूपयों का फर्जी भुगतान कर दिया गया जाने के दस्तावेजों की नकलें 31 मार्च 2022 को मांगी जो आज 21 अप्रैल 2022 तक नहीं दी गई। अब 3 कार्यदिवसों में नकलें दी जाएं। अन्यथा नगरपालिका कार्यालय पर धरना प्रदर्शन घेराव किया जाएगा।





भाजपा नगरमंडल अध्यक्ष ने राज्य सरकार के सभी संबंधित अधिकारियों को इसकी प्रति भिजवाते हुए सूचना दी है। 

** भाजपा के इस चेतावनी नोटिस की शहर में चर्चा गर्माई है वहीं भ्रष्टाचार के आरोप में अध्यक्ष ईओ और अन्य अधिकारी   निशाने पर हैं। शहर मे सीवरेज भ्रष्टाचार का  तूफान थम नहीं रहा है।

** इसी मामले में नकलें नहीं दिए जाने पर कांग्रेस के ब्लॉक अध्यक्ष और पार्षद पद परसराम भाटिया भी कुछ दिन पहले पालिका परिसर में धरने पर बैठ गए थे। ईओ ने कुछ नकलें ही दी लेकिन मापपुस्तिका,भुगतान स्वीकृति,जी शिड्यूल की नकलें नहीं दी। परसराम भाटिया भी आक्रोश में है। वे क्या करेंगे। समाचार अलग से होगा।०0०

***








यह ब्लॉग खोजें