बुधवार, 9 जून 2021

सचिन पायलट 11 जून को क्या करेंगे? अशोक गहलोत खेमा भी सतर्क।

 


* करणीदानसिंह राजपूत *


राजस्थान कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष सचिन पायलट  के हाल ही में सामने आए बयान के बाद प्रदेश की राजनीति में गर्माहट है। पायलट के बयान को एक बार फिर से राजनीतिक संकट की आहट माना जा रहा है।  पायलट खेमे में हो रही हलचल के चलते गहलोत खेमा भी सतर्क हो गया है। इस बीच 11 जून को पूर्व केंद्रीय मंत्री सचिन पायलट के पिता स्व. राजेश पायलट की पुण्यतिथि है। राजेश पायलट की पुण्यतिथि पर दौसा के भंडाना में सर्वधर्म प्रार्थना सभा और पुष्पांजलि कार्यक्रम का आयोजन होता है। उसमें सचिन पायलट भी शामिल होते हैं।


इस बीच पूर्व केंद्रीय मंत्री भंवर जितेंद्र सिंह का बयान भी सामने आया है. उसमें सिंह ने कहा है कि सचिन पायलट से किए गए वादे पूरे होने चाहिए. सचिन पायलट ने अपनी बात रख कर कुछ भी गलत नहीं किया. 


*11 जून को ही कांग्रेस का प्रदर्शन*


11 जून को सचिन पायलट के पिता राजेश पायलट की पुण्यतिथि है और इसी दिन प्रदेश कांग्रेस ने महंगाई के खिलाफ प्रदर्शन कार्यक्रम निर्धारित कर दिया है। इसके तहत प्रदेशभर में पेट्रोल पंपों पर किए जाने वाले इन प्रदर्शनों में पार्टी के सभी पदाधिकारियों और जनप्रतिनिधियों को शामिल होना होगा।  यहां यह बात भी गौर करने वाली है कि राजेश पायलट की पुण्यतिथि पर होने वाले पुष्पांजलि कार्यक्रम में बड़ी संख्या में कांग्रेसी नेता और जनप्रतिनिधि शामिल होने पहुंचते हैं और इस बार भी यह सब होने की संभावना है।

हालांकि राजेश पायलट मेमोरियल चैरिटेबल ट्रस्ट की ओर से सभी लोगों से अपील की गई है कि कोरोना संक्रमण और सरकार की गाइडलाइन के चलते दौसा पहुंचने की बजाय अपने स्थान से ही स्व. राजेश पायलट को श्रद्धांजलि अर्पित करें। 


सचिन पायलट भंडाना कार्यक्रम में पहुंचेंगे उनके समर्थक कई नेताओं-जनप्रतिनिधियों के भी उस कार्यक्रम में पहुंचने की संभावना है।


गहलोत खेमे में होने के बावजूद गुर्जर बाहुल्य क्षेत्रों से संबंध रखने वाले कई मंत्रियों-विधायकों का उक्त कार्यक्रम में पहुंचना मजबूरी होगा। ऐसे में देखना यह होगा कि ये पदाधिकारी-जनप्रतिनिधि अपने क्षेत्र में प्रदर्शन में हिस्सा लेते हैं या फिर पुष्पांजलि कार्यक्रम में शामिल होते हैं। राजस्थान की राजनीति में हर समय संकट तलाशने वाले सचिन पायलट के बयान से संकट का अनुमान लगा रहे हैं, लेकिन हो सकता है कि अनुमान लगाने में जल्दबाजी हो गई हो और 11 जून को कुछ भी असामान्य न हो।०0०

^^^^^^




कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें