सोमवार, 17 मई 2021

चक्रवर्ती तूफान को लेकर किसानों व नागरिकों को जिला प्रशासन ने किया अलर्ट- क्या करें ?

 




* करणीदानसिंह राजपूत *

श्रीगंगानगर, 17 मई 2021.

चक्रवर्ती तूफान का प्रभाव राजस्थान में होने के कारण जिला प्रशासन श्रीगंगानगर ने जिले के किसानों व नागरिकों को सतर्क रहने का सुझाव दिया है। 

जिला कलक्टर श्री जाकिर हुसैन ने बताया कि मौसम विभाग द्वारा जारी सुझाव एवं खाद्य सचिव राजस्थान सरकार के सुझावों पर सभी को ध्यान देना चाहिए। किसानों को सुझाव दिया गया है कि वे चक्रवर्ती तूफान से बचने के लिये व किसी प्रकार का नुकसान न हो, इसके लिये कल व परसों फसल न लाये तथा मौसम विभाग के सुझावों पर अमल करें। 

मौसम विभाग द्वारा जारी संभावित प्रभाव व सलाह के अनुसार भारी बारिश से निचले ईलाकों में जल भराव हो सकता है। आगामी मौसम के मध्यनजर किसानों को यह सलाह दी जाती है कि खुले आसमान अथवा खलिहान में पड़े अनाज को सुरक्षित स्थान पर भण्डारण करें। कृषि मण्डियों में खुले आसमान में रखे हुए अनाज को ढ़ककर व सुरक्षित स्थान पर रखें ताकि उन्हें भीगने से बचाया जा सके। खेतों में लगे सोलर सिस्टम को भी अचानक तेज हवाओं से नुकसान हो सकता है, इसलिये सुरक्षित स्थान पर रखे। यदि अपने आसपास मेघ गर्जना की आवाज सुनाई दे या बिजली चमकती हुई दिखाई दे, तो पेड़ के नीचे शरण न ले। तेज अंधड़ के समय बड़े पेड़ों के नीचे व कच्चे मकानों में शरण लेने से बचें। तेज अंधड़ से बिजली के तारों के टुटने एवं खम्भों के गिरने से क्षति होने की संभावना है। अंधड़ के समय दृश्यता कम होने से यातायात व्यवस्था प्रभावित हो सकती है, वाहन चालक विशेष सावधानी बरतें। 0०0

---------





कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें