शुक्रवार, 28 मई 2021

वाह! रेलवे के सफाई कर्मचारी:स्टेशनों पर कोरोना संक्रमण रोकने में सराहनीय सेवाएं.

 


* करणीदानसिंह राजपूत *


कोरोना संक्रमण की महामारी को रोकने के लिए उत्तर पश्चिम रेलवे के प्रमुख स्टेशनों पर सफाई कर्मचारी दिन रात रेलवे परिसरों को स्वच्छ रखने में जुटे हुए है, जिससे यात्रियों को संक्रमण से बचाया जा सके।


उत्तर पश्चिम रेलवे के उपहाप्रबंधक (सामान्य) व मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी लेफ्टिनेंट शशि किरण के अनुसार कोरोना महामारी में हर कोई अपने-अपने स्तर पर रोकथाम में जुटा हुआ है।







 रेलवे स्टेशनों पर कार्य करने वाले सफाई कर्मचारी रेलवे का एक ऐसा वर्ग है जो पूरी तरह बिना किसी प्रचार प्रसार के पूर्ण मनोयोग के साथ सेवा और समर्पण की भावना के साथ स्वच्छता के काम में जुटा हुआ  कोरोना संक्रमण के विरूद्व लडाई में अपना योगदान दे रहा है। वर्तमान परिस्थितियों में कोरोना संक्रमण को देखते हुये यात्रियों की संख्या में कमी जरूर आई है लेकिन रेलवे स्टेशनों पर सफाई में किसी भी प्रकार की कमी नहीं रखी गई है। 

रेलवे स्टेशनों पर सफाई व्यवस्था को सुदृढ़ कर हमेशा की तरह स्वच्छता का विशेष ध्यान रखा जा रहा है।  रेलवे स्टेशनों को साफ सुथरा रखने में सबसे बड़ा योगदान सफाई रेल कर्मचारियों का हैं, ये सफाई कर्मचारी दिन रात कार्य कर अपने काम पूरी मुस्तैदी से निभा रहे है। 


उत्तर पश्चिम रेलवे के प्रमुख स्टेशन पर दैनिक आधार पर यात्रियों की यात्रा संक्रमण मुक्त रखने के लिए रेलवे स्टेशन पर कार्यरत सफाई कर्मचारी भी पूरी मुस्तैदी के साथ लगातार कार्य कर रहे है। संक्रमण मुक्त करने के लिए प्रत्येक गाड़ी के आगमन/प्रस्थान के बाद प्लेटफाॅर्म धोया जाता है, सभी काॅमन ऐरिया जैसे वाटर हट, शौचालय, टिकट काउंटर, आगमन/प्रस्थान गेट, प्रतीक्षालय कक्ष आदि को निरंतर सैनेटाईज किया जा रहा है। इसके साथ ही सफाई कर्मचारियों को भी प्रत्येक एक घंटे के बाद सैनेटाईजिंग प्रोसेस द्वारा सुरक्षा उपलब्ध करवाई जा रही है। उन्हें मास्क/सैनेटाईजर की निरंतर आपूर्ति सुनिश्चित की जाती है एवं सफाई के उपकरणों को भी निरंतर संक्रमण मुक्त किया जाता है, जिससे रेल यात्रियों को संक्रमण रहित यात्रा उपलब्ध कराई जा सकें।०0०

---------





कोई टिप्पणी नहीं:

यह ब्लॉग खोजें