सोमवार, 22 फ़रवरी 2021

गंगानगर जिले में राष्ट्रीय उच्च मार्ग,बाईपास,शहर में वाहनों की गति निर्धारित



* करणीदानसिंह राजपूत *

श्रीगंगानगर, 22 फरवरी। जिला कलक्टर श्री महावीर प्रसाद वर्मा की अध्यक्षता में आज 22 फरवरी 2021 को कलेक्ट्रेट सभाहाॅल में जिला यातायात प्रबंध समिति की बैठक आयोजित हुई। 

* जिला कलक्टर श्री वर्मा ने जिले के भीतर स्पीड लिमिट के लिये आवश्यक दिशा निर्देश जारी किये हैं । 

* निर्देश के तहत नेशनल हाईवे पर स्पीड 90 किलोमीटर प्रतिघंटा, बाईपास पर 50 तथा शहर के भीतर 30 किलोमीटर प्रतिघंटा की स्पीड रहेगी। 

नेशनल हाईवे पर ट्रक व मोटरसाईकिल की स्पीड 60 किलोमीटर प्रतिघंटा रहेगी।

* इसी प्रकार लालगढ़ छावनी में 40 व बाहरी क्षेत्रा में 60 किलोमीटर प्रतिघंटा की स्पीड रहेगी। 

* इसी प्रकार शहर के बाहरी क्षेत्रों में, कस्बे के बाहर के क्षेत्र में 60 किलोमीटर प्रतिघंटा की स्पीड रहेगी। 

इस बैठक में जिला कलक्टर ने निर्देशित करते हुए कहा कि शहर में यातायात व्यवस्था को सुगम बनाने व सड़क दुर्घटनाओं में कमी लाने के लिये सभी अवैध कट्स को बंद किया जायेगा।

जिला कलक्टर ने कहा कि शहर के मुख्य मार्गों के डिवाईडर्स पर भी अनावश्यक कट्स को बंद कर दें। बैठक में चौराहों को छोटा करने, शहर में बेसहारा पशुओं की रोकथाम, मुख्य बस स्टैण्ड को स्थानांतरित करने, जिला परिवहन कार्यालय भवन एवं ड्राईविंग ट्रैक हेतु भूमि की उपलब्धता पर विस्तार से चर्चा की गई।


 जिला परिवहन अधिकारी के कार्यालय भवन एवं ड्राईविंग ट्रैक के लिये चुनावढ़ कोठी के पास भूमि का आवंटन किया गया है। 


जिला कलक्टर श्री वर्मा ने कहा कि बस स्टैण्ड के बीच में गाड़ी खड़ी करना और आवाज़ लगाकर सवारियां बिठाना आदि पर कार्यवाही की जाये। जिला परिवहन अधिकारी द्वारा बताया गया कि आमजन को यातायात नियमों की जानकारी देने के साथ-साथ वाहनों पर रिफ्लेक्टर टेप लगाई जा रही है व दुपहिया वाहन चालकों को हेलमेट व चैपहिया वाहन चालकों को सीट बेल्ट आवश्यक है, इसके लिये उन्हें प्रेरित किया जा रहा है। 

 उन्होंने कहा कि रिद्धि-सिद्धि काॅलोनी के सामने हनुमानगढ़ रोड़ पर, जयदीप बिहाणी काॅलेज के गेट के सामने स्पीड ब्रेकर बनाकर थ्री डी पेंटिंग बनाई जाये ताकि वाहनों की स्पीड कम रहे। 

जिला पुलिस अधीक्षक श्री राजन दुष्यंत ने कहा कि सड़क दुर्घटनाओं में कमी लाना अतिआवश्यक है व यातायात के नियमों का पालन अवश्य करें। उन्होंने कहा कि शहर के भीड़-भाड़ वाले इलाकों में जहां भी व्यवस्था में सुधार की आवश्यकता है, उसे नियंत्रित किया जायेगा व सभी सड़कों पर दोनों तरफ लाईन्स डलवाई जायेंगी ताकि यातायात व्यवस्थित चले। उन्होंने सभी विभागों सार्वजनिक निर्माण विभाग, परिवहन, नगरपरिषद, नगरविकास न्यास को निर्देशित किया कि वे समन्वय स्थापित कर शहर की यातायात व्यवस्था को सुचारू रखें क्योंकि मानव जीवन को बचाना अतिआवश्यक है तथा दिये गये निर्देशों की पालना सुनिश्चित करें। 

बैठक में यूआईटी सचिव डाॅ. हरितिमा, जिला परिवहन अधिकारी श्री विनोद कुमार, सभी उपखण्ड अधिकारी, नगरपरिषद आयुक्त श्री सचिन यादव सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे। ००

--------








कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

यह ब्लॉग खोजें