सोमवार, 27 जुलाई 2020

जैतसर फार्म में 160 मेगावाट का सोलर प्लांट लगेगा- सांसद द्वारा सीएमसीएस भवन का शिलान्यास

 

* केन्द्रीय फार्म के 340 हैक्टर भूमि पर लगेगा राज्य का सबसे बड़ा पाॅवर प्लांट*


श्रीगंगानगर, 27 जुलाई 2020.

 पूर्व केन्द्रीय राज्यमंत्री एवं सांसद श्री निहालचंद ने कहा कि जैतसर सोलर प्लांट से इस क्षेत्र को बिजली पर्याप्त मात्रा में आपूर्ति संभव होगी तथा इस क्षेत्र को आर्थिक गति मिलेगी। 

श्री निहालचंद सोमवार को केन्द्रीय जैतसर फार्म में 160 मेगावाट के सोलर प्लांट के सीएमसीएस के भवन के शिलान्यास कार्यक्रम में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि यह सोलर प्लांट इस वर्ष में बिजली का उत्पादन प्रारम्भ कर देगा। यह सोलर प्लांट राष्ट्रीय बीज निगम लिमिटेड के 340 हैक्टर जमीन पर स्थापित किया जाना प्रस्तावित है। 

श्री निहालचंद ने कहा कि केन्द्र सरकार विधुत के क्षेत्र में बहुत तेज गति से कार्य कर रही है। आने वाले समय में पूरा देश विधुत के क्षेत्र में आत्मनिर्भर होगा तथा प्रत्येक किसान, उद्यमी, परिवारों को जरूरत के अनुसार उच्च गुणवत्ता की विधुत उपलब्ध होगी। उन्होंने कहा कि विधुत के अलावा सड़क विकास, कृषि विकास, शिक्षा, चिकित्सा तथा प्रत्येक नागरिक को शुद्ध पेयजल मिलें, इसके लिये बड़ी-बड़ी परियोजनाएं प्रगतिरत है। उन्होंने कहा कि देश में सौर उर्जा के विकास के लिये केन्द्र सरकार द्वारा अधिक प्रयास किये जा रहे है। किसानों को सिंचाई के लिये भी अनुदान पर सोलर की सुविधा उपलब्ध है। नागरिक अपने घरों में भी अनुदान पर सोलर प्लांट स्थापित कर सकते है। 

श्री निहालचंद ने ग्राम बाजुवाला के निकट 710 करोड़ रूपये की लागत से 340 हैक्टर भूमि पर लगने वाले राजस्थान के सबसे बड़े 160 मेगावाट सोलर प्लांट का शिलान्यास किया। इस प्लांट को एनटीपीसी के द्वारा तैयार किया जा रहा है। इस सोलर प्लांट के शुरू होने से रोजगार के अवसर बढ़ेंगे तथा किसान, मजदूर व आमजन इससे लाभान्वित होंगे। इस अवसर पर परियोजना प्रमुख श्री अखिल गर्ग तथा नेशनल प्रोजेक्ट के श्री ए.के.सिंह उपस्थित थे।

---------


कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

यह ब्लॉग खोजें