रविवार, 28 जून 2020

नशे के विरुद्ध समाज को संदेश देती बच्चों की चित्रकारी-हनुमानगढ़

नशेड़ी व्यक्ति परिवार व समाज पर बोझ: जाकिर हुसैन कलक्टर 


हनुमानगढ़, 26 जून, 2020.

 दवाओं के दुरूपयोग और अवैध तस्करी के खिलाफ आज अंतर्राष्ट्रीय दिवस के अवसर पर स्थानीय एएनएम ट्रेनिंग सैण्टर में ‘‘नशे के दुष्प्रभाव‘‘ विषय पर चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन किया गया।

कार्यक्रम में जिला कलक्टर जाकिर हुसैन, सीएमएचओ डॉ. अरूण कुमार, पीएमओ डॉ. एमपी शर्मा, आरसीएचओ डॉ. विक्रम सिंह, एसीएमएचओ डॉ. पवन कुमार, जिला समाज कल्याण अधिकारी डॉ. अभिषेक, एएनएम प्रशिक्षण केन्द्र के अधीक्षक रणवीर सिहाग, डॉ. एमएस बेनीवाल, पीआरओ सुरेश बिश्नोई, आईईसी-सीओ मनीष शर्मा एवं प्रशिक्षण केन्द्र का स्टॉफ उपस्थित था।





जिला कलक्टर जाकिर हुसैन ने मां सरस्वती के चित्र पर दीप्र प्रज्ज्वलित कर कार्यक्रम की विधिवत शुरूआत की। उन्होंने उपस्थित बालिकाओं को बताया कि नशा एक ऐसी बुराई है जो हमारे समूल जीवन को नष्ट कर देती है। नशे की लत से पीड़ित व्यक्ति परिवार के साथ समाज पर बोझ बन जाता है। युवा पीढ़ी सबसे ज्यादा नशे की लत से पीड़ित है। सरकार इन पीड़ितों को नशे के चुंगल से छुड़ाने के लिए नशा मुक्ति अभियान चलाती है, शराब और गुटखे पर रोक लगाने के भी प्रयास करती है। उन्होंने कहा कि हमें अपने परिजनों एवं परिचितों को इस बुराई से दूर रखने की हरसम्भव कोशिश करनी चाहिए ताकि हम एक समृद्ध समाज बनाने में सहयोग कर सकें। इस अवसर पर सीएमएचओ डॉ. अरूण कुमार, जिला समाज कल्याण अधिकारी डॉ. अभिषेक व अन्य अतिथियों ने भी नशे पर अपने-अपने विचार रखें। अतिथियों ने बालिकाओं द्वारा बनाई गई पेंटिंग्स का अवलोकन किया। चित्रकारी प्रतियोगिता में अच्छी पेंटिंग्स बनाने वाली छात्राओं एवं अच्छा परिणाम लाने वाली छात्राओं को अतिथियों द्वारा सम्मानित किया गया।००




कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

यह ब्लॉग खोजें