मंगलवार, 30 जून 2020

श्रीगंगानगर-रेलवे के सीआरएस उम्मेदपाल सिंह सेवानिवृत्त हुए


श्रीगंगानगर, 30 जून 2020.

 रेल आरक्षण केंद्र के चीफ रिजर्वेशन सुपरवाइजर श्री उम्मेदपाल सिंह  लगभग 35 वर्ष की सेवा के बाद आज मंगलवार को सेवानिवृत्त हो गये। इस अवसर पर रेलवे स्टेशन परिसर में एक लघु कार्यक्रम के अंतर्गत उन्हें विदाई दी गयी। बहुत ही कम संख्या वाले इस कार्यक्रम में स्टेशन अधीक्षक श्री दिनेश त्यागी, जेडआरयूसीसी सदस्य श्री भीम शर्मा, पूर्व सीआरएस श्री जगदीश अरोड़ा सहित रेलवे की वाणिज्यिक व अन्य शाखा के कर्मचारी अधिकारी उपस्थित रहे। 

इस अवसर पर श्री भीम शर्मा ने कहा कि श्री उम्मेदपाल सिंह की शुरू से सेवानिवृत्त होने तक सेवा के साक्षी रहे है। इन्होंने अपने कार्यकाल के दौरान अपनी सरल, सौम्य व मृदुभाषी शैली के चलते सभी पर अमिट छाप छोड़ी हैं। इन्होने 21 मई 1985 में पहली ज्वाइनिंग रिजर्वेशन क्लर्क के रूप में गंगानगर में ही की थी। उस समय मैन्युअल रिजर्वेशन होता था। आज से ठीक 25 वर्ष पूर्व जब तत्कालीन रेलवे बोर्ड अध्यक्ष श्री अशोक भटनागर श्रीगंगानगर पधारे थे, उस समय उन्होनेे अपने कर कमलों से की बोर्ड का बटन दबाकर आधुनिक आरक्षण प्रणाली की शुरूआत की थी, उस दिन भी उम्मेदपाल सिंह श्रीगंगानगर में ही नियुक्त थे। इस अवसर पर भीम शर्मा ने श्री उम्मेदपाल सिंह को शाॅल ओढाकर उनका सम्मान किया। श्री जगदीश अरोड़ा ने कहा कि श्री उम्मेद सिंह ने अपने कार्यकाल के दौरान हर जगह अच्छे संबंधों के चलते पूरे शहरभर में अपनी शानदार पहचान बनाई है। शहर में लगभग सभी लोग श्री उम्मेदपाल सिंह को पहचानते हैं। 


स्टेशन अधीक्षक श्री दिनेश त्यागी ने कहा कि उम्मेद पाल सिंह सदैव मिलनसारिता के साथ काम करते रहे है।

 इस अवसर पर पार्सल कार्यालय के श्री ए.के. सिंह सहित अन्य कर्मचारियों ने भी उनके कार्यकाल को सराहा। 

श्री उम्मेदपाल सिंह को वर्ष 1989 में हैड रिजर्वेशन, 1998 में रिजर्वेशन सुपरवाइजर के पद पर पदोन्नत किया। वर्ष 2011 में इनको रिजर्वेशन के सबसे बडे पद चीफ रिजर्वेशन सुपरवाइजर के पद पर पदोन्नत किया गया। विभाग द्वारा वर्ष 1995, 2006, 2013 व 2018 में उत्कृष्ट सेवाओं के लिए सम्मानित किया गया।००

---------





कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

यह ब्लॉग खोजें