मंगलवार, 2 जून 2020

“सेवा परमो धर्म” निराश्रित गौवंश की पेटभराई में 'यार जिगरी सेवा समिति सूरतगढ़ जुटी.


* करणीदानसिंह राजपूत *
👌सूरतगढ़ में निराश्रित गौ वंश को चारा,सब्जियां,गुड़,सर्दियों में दलिया खिलाने में क ई संस्थाएं जुटी है। संस्थाओं के कार्यकर्ता अपना धन और श्रम लगाते हैं और अन्य लोग भी दान चंदा आदि संस्थाओं को देते रहते हैं।
कोरोना विषाणु से बचाव में लोकडाउन में निराश्रित गौ वंश की सेवा करना बहुत बड़ा पुण्य का कार्य चल रहा है।
ऐसे ही सेवा कार्य में शहर की एक संस्था यार जिगरी सेवा समिति के कार्यकर्ता भी जुट गए। असल में संस्था विभिन्न धार्मिक कार्यों में कुछ सालों से सक्रिय रही है,लेकिन कोरोना संकट में अपनी सेवा में निराश्रित गौ वंश की पेट भराई में भी समय देने लगी हैँ।




संस्था के अध्यक्ष मनीष सेठिया के अनुसार
निराश्रित गौ वंश के लिए हरा चारा, हरी सब्ज़ी तथा गुड़ की सेवा प्रत्येक शनिवार तथा रविवार को की जाती है।
प्राय एक दिन का खर्च मात्र 251 रूपए और अधिक भी आता है। इस छोटी सी धन राशि से निराश्रित गौ वश के लिए बहुत अच्छी मात्रा में  हरी सब्ज़ी तथा चारे के व्यवस्था की जाती है।
इस छोटे से सहयोग से हम कोरोना संकट काल तथा भीषण गर्मी के समय बेजुबान पशुओं  की सहायता कर सकते है।
अध्यक्ष का लोगों से अनुरोध भी है कि अपने जन्मदिन,शादी के दिन,किसी स्मृति में धन का सहयोग कर हमारे साथ मिलकर इस छोटे से प्रयास को सफल बनाएं तथा खुद के लिए भी पुण्य के द्वार खोलें।
* सेवा स्थल *
पशु चिकित्सालय
खेजड़ी मंदिर के पास
गणेश मंदिर के पास
नंदी शाला,किशनपुरा आबादी।
👌सहयोग के लिए संपर्क करे : यार जिगरी सेवा समिति सूरतगढ़ – (YJSS SOG)
+91-9928743431
+91-8104087735
+91-7014126709
💐अध्य्क्ष मनीष सेठिया
सचिव पारस गोलछा
कोषाध्यक्ष दीपक बोथरा
सोशल मीडिया प्रभारी रवि देरासरी
सहसचिव राजीव देरासरी
उपाध्यक्ष राम किशन सोलंकी।
*****
👍 संस्था अध्यक्ष मनीष सेठिया द्वारा दी गई जानकारी पर आधारित लेख👍
*****


कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

यह ब्लॉग खोजें