गुरुवार, 21 मई 2020

सूरतगढ़: बाजारों में फेंका कचरा: जुर्माने से आएगी अक्ल.



* करणीदानसिंह राजपूत *

कोरोना लाकडाउन में बाजार बंद था तब सड़कें साफसुथरी चमक रही थी और पूरा बाजार खुलने के पहले दिन की शाम को सड़कों पर डाल दिया गया कचरा। 

दुकनदारों ने  सारा दिन का एकत्रित पैकिंग का कचरा शाम को दुकानें बंद करते वक्त सड़कों पर डाल दिया। यह कचरा हवा से दूर दूर तक उड़ता फैल रहा था। रेलवे रोड की लगभग दुकानों के आगे भी कचरा फेंका हुआ था।

नगरपालिका ने बहुत समझाया था लेकिन बिना जुर्माने के दुकानदार मानने वाले नहीं है।

प्रशिक्षु आईएएस मो.जुनैद नगरपालिका में ईओ लगाए गए तब उन्होंने कचरा सड़कों पर फेंक रहे दुकनदारों पर तत्काल ही जुर्माना लगाया था। नगरपालिका के पास वह अधिकार खत्म नहीं हुआ है। नगरपालिका को सड़कों पर और नालियों में सफाई रखनी है तो कड़ा कदम उठाना ही होगा।**






कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

यह ब्लॉग खोजें