गुरुवार, 19 मार्च 2020

कोरोना वायरस-प्रत्येक उपखण्ड पर आईसोलेशन व क्वारनटाईन सेन्टर चिन्हित होगा.


श्रीगंगानगर, 19 मार्च 2020.

जिला कलक्टर श्री शिवप्रसाद एम नकाते ने कहा कि उपखण्ड स्तर पर कोरोना वायरस के संक्रमण व बचाव को लेकर एक-एक आईसोलेशन एवं होम क्वारनटाईन सेन्टर के लिये भवन आरक्षित किये जायें। 

जिला कलक्टर गुरूवार को कलेक्ट्रेट में विडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से जिले के उपखण्ड स्तर के अधिकारियों व पुलिस अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि विश्व स्वास्थ्य संगठन तथा संयुक्त राष्ट्र द्वारा कोरोना संक्रमण को महामारी घोषित करने एवं भारत सरकार, राज्य सरकार तथा चिकित्सा विभाग द्वारा जारी एडवाईजरी के अनुसार इस महामारी को हल्के में नही लें।

तथा इस कार्य की पूर्व तैयारी गंभीरता के साथ की जानी है। उन्होंने उपखण्ड स्तर पर नियंत्रण कक्ष स्थापित करने के निर्देश दिये। 


आमजन को जागरूक करें


उन्होंने अधिकारियों को बताया कि आमजन को इस भंयकर बीमारी के बारे में जागरूक किया जाये। अपने हाथ से बार-बार मुंह, नाक, आंख को न छुएं। दिन में दो-तीन बार साबुन से अच्छी प्रकार 30 से 50 सैकण्ड तक अपने हाथों को साफ करें। आमजन को बताया जाये कि जो व्यक्ति बुखार, जुकाम, खांसी से पीड़ित है, वे ही मास्क का उपयोग करें। आमजन को बताये कि अपने घरों में रहें, अनावश्यक बाहर न जायें, भीड़ वाले क्षेत्र से बचें। 

स्थानीय निकाय सार्वजनिक स्थलों को सेनेटाईज करें

जिला कलक्टर ने जिले के सभी स्थानीय निकायों व विकास अधिकारियों को निर्देश दिये है कि अपने-अपने क्षेत्र में कार्यालयों, सार्वजनिक स्थलों, धार्मिक स्थलों तथा परिवहन के साधनों को सेनेटाईज करें। चिकित्सकों के अनुसार सोडियम हाइपोक्लोराईट के एक प्रतिशत घोल से सेनेटाईज किया जा सकता है। फर्श इत्यादि सेनेटाईज करने के 30 मिनट तक अच्छी तरह से सेनेटाईज होने दें। धार्मिक स्थलों में अधिक भीड़ न हो तथा मंदिरों के उपकरण आदि को नही छुने तथा विवाह समारोह जहां तक संभव हो, स्थगित किया जाये या बहुत ही सीमित संख्या के साथ विवाह कार्य सम्पन्न किया जा सकता है, इस बात की जानकारी आमजन को दें। 

श्री नकाते ने कहा कि स्थानीय निकायों द्वारा जो ऐतहियात के तौर पर जो कार्य किये जा रहे है, उनकी सूचना प्रतिदिन जिला मुख्यालय को देनी है। ब्लाॅक सीएमएचओ अपने स्तर पर आवश्यक सामग्री खरीद सकते है तथा ग्रामीण स्तर पर ग्राम स्वास्थ्य समितियों के पास 10-10 हजार रूपये की राशि उपलब्ध है, इस राशि का उपयोग भी सेनेटाईजेशन में किया जा सकता है। धार्मिक स्थलों के माध्यम से कोरोना वायरस के बचाव के लिये चिकित्सा विभाग द्वारा तैयार क्लिप प्रसारित करवाई जाये। 

जिला स्तर पर संचालित नियंत्रण कक्ष

20 मई को आयोजित होने वाली ग्राम सभाएं भी स्थगित कर दी गई है। जिला स्तर पर चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के नियंत्रण कक्ष के दूरभाष नम्बर 0154-2445071 तथा जिला प्रशासन के नियंत्रण कक्ष 0154-2440988 पर सूचना दी जा सकती है। 

विदेश से आये नागरिकों की सूचना दें

जिला कलक्टर श्री नकाते ने बताया कि जिले में किसी भी देश से आये हुए नागरिकों की सूचना चिकित्सा विभाग, जिला प्रशासन, ब्लाॅक स्तर के नियंत्रण कक्ष या संबंधित क्षेत्र के एसडीएम व थानाधिकारी को इसकी सूचना दी जा सकती है, जिससे किसी प्रकार का संक्रमित व्यक्ति बिना आईसोलेशन के न रहें। 


सार्वजनिक स्थलों व न्यायालयों में अनावश्यक भीड़ न होः- पुलिस अधीक्षक


पुलिस अधीक्षक श्री हेमन्त शर्मा ने प्रशासनिक व पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिये कि अपने-अपने क्षेत्र में होने वाली शादियों को ध्यान में रखकर संबंधित परिवारों को समझाईश करें कि परिवार के सीमित सदस्यों में ही शादी समारोह आयोजित किया जाये। समझाईश के साथ-साथ यह बताये कि जिले में धारा 144 प्रभावी है तथा आदेशों का उल्ल्घंन करने पर इस्तगासा दायर किया जायेगा। 

उन्होंने कहा कि सरकार एवं चिकित्सा विभाग द्वारा जो एडवाईजरी जारी की गई है एवं जिला मजिस्ट्रेट द्वारा जो आदेश दिये गये है, उनकी पालना सुनिश्चित की जाये। पुलिस अधीक्षक श्री शर्मा ने कहा कि आगामी दिनों में नवरात्रा का पर्व आने वाला है, इस संबंध में भी प्रबुद्धजनों से बातचीत की जाये तथा उन्हें सहयोग करने के बारे में बताया जाये।

 सोशल मीडिया पर किसी तरह की अफवाह फैलाने वालों पर नजर रखनी है तथा पुलिस निदेशालय द्वारा जो आदेश दिये गये है, उनकी अक्षरशः पालना की जाये।


 सार्वजनिक स्थलों व न्यायालय परिसर में भी अनावश्यक भीड़ न हो, इस बात का ध्यान रखा जाये। 


सोडियम हाईपोक्लोराईट के एक प्रतिशत घोल से सेनेटाईज करेंः- सीएमएचओ

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. गिरधारी लाल ने बताया कि कोरोना वायरस के संक्रमण एवं बचाव के संबंध में जो नागरिक बुखार, जुकाम, खांसी से पीड़ित है, उन्ही लोगों को मास्क का इस्तेमाल करना चाहिए। सार्वजनिक स्थलों, अपने घरों को सोडियम हाईपोक्लोराईट के एक प्रतिशत घोल से अपने वातावरण को सेनेटाईज किया जा सकता है। स्वस्थ नागरिक अपने घर में रहें, भीड़ वाले क्षेत्र में जाने से बचें। किसी व्यक्ति को बुखार, जुकाम, खांसी है तो वह बिना किसी घबराहट के संबंधित चिकित्सक के पास जाकर उपचार लें। खांसी, बुखार व जुकाम से पीड़ित रोगी से दूरी बनाकर रखें तथा हाथों को साबुन से अच्छी तरह साफ करते रहें। 

वीडियों कान्फ्रेंसिंग में अतिरिक्त जिला कलक्टर सर्तकता श्री अरविन्द जाखड़, एसडीएम श्री उम्मेद सिंह रतनू, पुलिस अधिकारी श्री स्माईल खान सहित अन्य अधिकारी तथा जिले के एसडीएम, तहसीलदार, विकास अधिकारी तथा थानाधिकारी वीसी के माध्यम से जुड़े हुए थे। 

-------------

कोरोना वायरस के संक्रमण व बचाव को लेकर 

परिवहन विभाग द्वारा निजी बस संचालकों की बैठक 

श्रीगंगानगर, 19 मार्च। विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा कोरोना वायरस को वैश्विक महामारी घोषित किया गया है।  कोरोना वायरस जनित कोविड-19 बीमारी को निष्प्रभावी करने एवं आमजन के बचाव हेतु भारत सरकार एवं राज्य सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देशों की पालना में परिवहन विभाग कार्यालय में गुरूवार को जिले में संचालित निजी बस संचालकों की एक बैठक का आयोजन किया गया।  

जिला परिवहन अधिकारी सुमन ने बैठक में बस संचालकों को बस चलाने वाले चालक एवं परिचालकों को मास्क पहनकर, हाथों को सेनेटाइज करने के उपरंात ही वाहन संचालन करने हेतु निर्देशित किया गया।  इसके साथ ही बस की सीटों, हैण्डल इत्यादि को भी नियमित रूप से सेनेटाइज करने हेतु, बस में परिवहन करने वाले यात्रियों को भी सेनेटाइज करने, ओवरक्राडिंग नहीं करने हेतु भी निर्देशित किया गया, जिससे कोरोना वायरस से बचाव किया जा सके, जिस पर सभी बस संचालकों द्वारा सहमति व्यक्त की गई। इसके साथ ही बस संचालकों को बस में यात्रा करने वाले यात्रियों को कोरोना वायरस से बचाव की जानकारी के पम्पलेट भी उपलब्ध करवाये गये, ताकि आमजन को जानकारी उपलब्ध करवाते हुए कोरोना वायरस से बचाव किया जा सके।  

आयोजित बैठक मंे विराट ट्रेवल्स, शाईन स्टार ट्रेवल्स, जमींदारा ट्रेवल्स, संगम ट्रेवल्स, टांटिया ट्रेवल्स, चैधरी मोटर्स, जटाना ट्रेवल्स, सिद्धार्थ टूर एण्ड ट्रेवल्स, जसूजा मोटर्स, शेखावत ट्रेवल्स, जगदीश पे्रेमी, लोक परिवहन बस प्रतिनिधी इत्यादियों द्वारा अपनी उपस्थिति दर्ज करवाई गई।

---------

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

यह ब्लॉग खोजें