मंगलवार, 10 मार्च 2020

*👌रंग गुलाल लगाने में मिलेगी सफलता* कविता -करणीदानसिंह राजपूत


होली के पावन पर्व पर 

शुभकामनाएं मिल रही थी। 

सोशलमीडिया पर नैट पर

लगातार दिन रात 

सभी सफलताएं मिलने की शुभकामनाएं मिल रही थी।


मैं पंडित जी के पास गया।

उन्होंने हाथ की रेखाओं को देखा

हाथ को उलट पुलट कर देखा।

पंडित जी बोले,

आपके हाथ की रेखाएं स्पष्ट बता रही हैं। 

रंग गुलाल लगाने का योग बन रहा है। मैंने पूछा कुछ और भी बताएं।

वे बोले अरे,

यह तो बहुत बड़ी सफलता है।

इसे कम नहीं समझो।

रंग गुलाल लगाना।

मैंने पंडित जी को

दक्षिणा दी।

उन्होंने भी सफलता का

आशीर्वाद दिया।

तुम हंसी खुशी से

रंग गुलाल लगाओगे।

****

करणीदानसिंह राजपूत,

सूरतगढ़।

++++


कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

यह ब्लॉग खोजें