मंगलवार, 24 मार्च 2020

आखिर संपूर्ण भारत में लॉकआउट जरूरी हुआ ताकि कारोना से बचाव हो सके. * करणीदानसिंह राजपूत *


*भारत में कारोना वायरस बचाव के लिए 25 मार्च से 14 अप्रैल तक लॉकआउट-पीएम मोदी का राष्ट्र को संबोधन*

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज रात  12:00 बजे से सारे देश में लॉकआउट कर दिए जाने की घोषणा कर दी। यह लॉकआउट 21 दिन यानी 3 सप्ताह 14 अप्रैल 2020 तक रहेगा।

कोरोना वायरस से बचाव के लिए यह कदम उठाया गया है। 

पहले से कदम तो उठाए हुए थे मगर अप्रयाप्त रहे थे। पूरे देश में टुकड़े-टुकड़े रूप में लॉकआउट राज्य सरकारों द्वारा किया गया।कुछ प्रदेश बाकी थे इसलिए बचाव का एक ही रास्ता सारे देश में अपनाने के लिए यह कदम उठाया गया। प्रधानमंत्री ने  24 मार्च 2020 की रात 8:00 बजे अपने संबोधन में यह  घोषणा की। उन्होंने कहा कि इससे गरीबों और जरूरतमंदों को बहुत मुश्किल होगी लेकिन राज्य सरकारें और सेवाभावी संस्थाएं इसके लिए आगे बढ़ कर कदम उठाएंगे और जैसे-तैसे यह संकट की घड़ी बीत जाएगी।

देश में भारतीय रेलवे की ओर से 31 मार्च तक यात्री रेलें बंद की घोषणा थी। केवल माल गाड़ियां ही चल रही है। इससे स्पष्ट है कि अब रेलवे और बसें भी नई घोषणाओं के अनुरूप ही संचालित होंगी।

संपूर्ण देश इस समय सिविल प्रशासन पुलिस स्थानीय निकाय ग्रामपंचायत यादि स्वास्थ्य विभाग के निर्देशों पर रहेगा। ये निर्देश समय समय पर आते रहेंगे जिनका पालन हर व्यक्ति के लिए करना अति आवश्यक है।00



कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें