सोमवार, 23 मार्च 2020

बाहरी जिलों के नागरिक बिना अनुमति नही आ सकेंगे

श्रीगंगानगर, 23 मार्च2020.

 जिला कलक्टर श्री शिवप्रसाद एम. नकाते ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा घोषित लाॅकडाउन की अक्षरशः पालना सुनिश्चित की जाए। आवश्यक सेवाओं के अलावा यात्री वाहन नही चलेंगे तथा आम नागरिक अपने घरों में ही रहे। लाॅकडाउन की पालना नही करने पर धारा 188 व 144 में कार्यवाही की जाए। 

जिला कलक्टर सोमवार को कलैक्ट्रेट में वीसी के माध्यम से जिले के उपखण्ड अधिकारियों, पुलिस अधिकारियों तथा चिकित्सा विभाग के अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दे रहे थे। उन्होने कहा कि राज्य सरकार के निर्देशानुसार आवश्यक सेवाओं में जो कार्मिक लगे हुए है, उनके अलावा कार्मिक मुख्यालय पर रहेंगे तथा आवश्यकता पडने पर तत्काल उपस्थित होंगे। उन्होने कहा कि माल, सामान परिवहन करने वाले वाहनों को छूट रहेगी। 

जिला कलक्टर ने समस्त एसडीएम व बीसीएमएचओ को निर्देश दिए है कि ब्लाॅक स्तर पर कोरेन्टाइन सेंटर सरकार की गाईड लाईन के अनुसार तैयार किये जाए। सेंटर में बिजली, पानी, शौचालय तथा सूरज की रोशनी की व्यवस्था हो। उन्होने कहा कि आम नागरिक घरों में रहे, बहुत जरूरी होने पर ही एक व्यक्ति खाद्य वस्तुओं के लिए बाहर आ सकता है। कोई नागरिक निर्देशों की पालना नही करता है, तो एक वर्ष की सजा का प्रावधान है। उन्होने कहा कि प्रसव वाली महिला, बीमार व्यक्ति को चिकित्सालय जाने दे। शादी के अवसर पर 5 व्यक्तियों से ज्यादा न जाए। आमजन की जरूरत व खाद्य आपूर्ति के लिए आटा व दाल मिले संचालित की जा सकती है।

जिले में पंजाब व अन्य जिलों की सीमाओं पर 8 नाके लगाए गए है। दूसरे जिले के नागरिक के पास  मंजूरी है, तो जिले में आ सकेगा। इस जिले के नागरिक को बाहर किसी उचित कारण से जाना है तो संबंधित तहसीलदार से अनुमति लेकर जा सकेंगे। शहर में अनावश्यक किसी नागरिकों को घूमने न दे तथा कही पर भी भीड इक्कठी न होने दे। उन्होने कहा कि जिले में जो नागरिक दूसरे देशों से आए है, वे सभी चिन्हित व आईसोलेशन में है। चिकित्सक उन सभी का नियमित परीक्षण करे। पुलिस तथा राजस्व विभाग के कार्मिक इस बात कर ध्यान रखे कि इस तरह के चिन्हित नागरिकों पर सुबह शाम ध्यान रखा जाए, कि वे कही इधर-उधर न जाए। 

जिला कलक्टर ने निर्देश दिए कि जिले में संचालित नाको पर निरीक्षण के साथ-साथ चिकित्सा विभाग का नर्सिंग स्टाॅफ एवं एक शिक्षक को लगाया जाए। नर्सिंंग स्टाॅफ बाहर से आने वाले व्यक्ति जो  प्रथम दृष्टया खांसी, जुकाम, बुखार से पीड़ित तो नही है की जानकारी कर नाम पता इत्यादि नोट करेंगे। आशंका होने पर नजदीक के चिकित्सक से जांच करवाई जाए।


जरूरतमंद नागरिको को अन्नपूर्णा किट दिए जाएंगे


 जिला कलक्टर श्री शिवप्रसाद एम. नकाते ने कहा कि कोरोना संक्रण एवं बचाव के संदर्भ में जिले में धारा 144 लगी होने के कारण गरीब परिवारों व नागरिकों को जिला प्रशासन की ओर से अन्नपूर्णा किट दिए जाएंगे। इस कार्य के लिएं जिले के समस्त एसडीएम अपने क्षेत्रा के  भामाशाह, धार्मिक व सामाजिक संस्थाओं का सहयोग ले। कोई भी भामाशाह संस्थाएं अन्नपूर्णा किट देना चाहे तो वे संबंधित एसडीएम या जिला मुख्यलय के नियंत्रण कक्ष में अपना नाम व मोबाईल नम्बर लिखवा सकते है। नियंत्रण कक्ष के दूरभाष नम्बर 0154-2440988 है। 

पुलिस अधिकारी नाको पर सतर्क रहे

पुलिस अधीक्षक श्री हेमन्त शर्मा ने कहा कि पुलिस अधिकारी जिले में लगाए गए, 8 नाकों पर पूर्ण निगरानी रखे तथा 8-8 घण्टों के अनुसार अपनी पारिया निर्धारित करे। उन्होने कहा कि लाॅकडाउन के निर्देशों की भली प्रकार से पालना की जाए। श्री शर्मा ने कहा कि जिले में कही भी अनावश्यक नागरिक इक्कठे ना हो। स्थानीय निकाय भी शहरों में मुनियादी करवाए कि आमजन घरों में ही रहे। जो पुलिस कर्मी छुट्टिया बिताकर ड्यूटी पर आ रहे है, उनकी स्क्रीनिंग करवाई जाए। 

वीसी में एडीएम सतर्कता श्री अरविन्द जाखड, एसडीएम श्री उम्मेद सिंह रतनू,डाॅ0 मुकेश मेहता, जिला रसद अधिकारी श्री राकेश सोनी व जिले के समस्त एसडीएम, तहसीलदार तथा पुलिस के अधिकारी उपस्थित थे। 

-----------




कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें