मंगलवार, 4 फ़रवरी 2020

सड़क सुरक्षा सप्ताह- दुर्घटनाग्रस्त को चिकित्सालय पहुंचाएं, कोई पूछताछ नहीं होगी-एडीएम डा. गुंजन


* जागरूकता रैली का हुआ आयोजन*

श्रीगंगानगर,4 फरवरी 2020.

अतिरिक्त जिला कलक्टर प्रशासन डाॅ. गुंजन सोनी ने कहा कि दुर्घटनाओं में कमी लाने तथा आमजन को जागरूक करने के लिये सड़क सुरक्षा सप्ताह का आयोजन किया जाता है। उन्होंने कहा कि अपने जीवन तथा दूसरों के जीवन को सुरक्षित रखने के लिये यातायात नियमों का पालन अवश्य करना चाहिए। 

डाॅ. सोनी मंगलवार को रामलीला मैदान में राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा सप्ताह के दौरान आयोजित कार्यक्रम में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि नियमों तथा निर्देशों का उल्लंघन करने पर दुर्घटनाएं घटित होती है। उन्होंने विद्यार्थियों को सुझाव दिया कि 18 वर्ष की आयु होने के बाद नियमानुसार वाहन चलाने का लाईसेंस बनवाकर वाहनों को चलाना चाहिए। कम आयु में वाहन चलाने पर परिजनों को सजा का प्रावधान है। सुरक्षा के लिये हेलमेट तथा सीट बेल्ट का सदैव उपयोग करना चाहिए। 

अतिरिक्त जिला कलक्टर सर्तकता श्री अरविन्द जाखड़ ने कहा कि यातायात नियमों की पालना के साथ-साथ सड़कों पर लगाये गये संकेत चिन्हों का विशेष ध्यान रखना चाहिए। बच्चों को वाहन नही चलाना चाहिए। उन्होंने कहा कि दुर्घटना होने पर पीड़ित नागरिक को तत्काल नजदीक के चिकित्सालय में पहुंचाना चाहिए। मदद करने वाले नागरिक से किसी प्रकार की पूछताछ नही की जायेगी। 

यह कार्यक्रम परिवहन विभाग, पुलिस, सार्वजनिक निर्माण विभाग, शिक्षा, चिकित्सा तथा नगरपरिषद के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित किया गया। जिला परिवहन अधिकारी सुश्री सुमन ने आगन्तुकों का आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम का संचालन नगरपरिषद के श्री प्रेम चुघ तथा लक्ष्मीनारायण शर्मा ने किया। एडीएम प्रशासन द्वारा उपस्थित विधार्थियों को राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा सप्ताह की शपथ दिलवाई गई। 


जागरूकता रैली का आयोजन


31वां राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा सप्ताह के दौरान परिवहन विभाग द्वारा जागरूकता रैली का आयोजन किया गया। जागरूकता रैली को महाराजा गंगासिंह चैक से अतिरिक्त जिला कलक्टर प्रशासन डाॅ. गुंजन सोनी, अतिरिक्त जिला कलक्टर सर्तकता श्री अरविन्द जाखड़ तथा जिला परिवहन अधिकारी सुश्री सुमन ने हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। इस अवसर पर पुलिस अधिकारी श्री स्माईल खान, अधीक्षण अभियंता पेयजल श्री बलराम शर्मा, परिवहन निरीक्षक श्री मनीष चुघ, श्रीमती मोनिका यादव सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे। जागरूकता रैली में स्काउट गाईड के अलावा विभिन्न शिक्षण संस्थाओं के विधार्थियों ने भाग लिया। 

जागरूकता रैली में विद्यार्थियों ने बैनर व तख्तियां ली हुई थी, जिन पर सीट बैल्ट व हेलमेट का उपयोग करने, नशे में गाड़ी नही चलाने, दो पहिया वाहनों पर तीन सवारी नही बैठने, हेलमेट बोझ नही जिन्दगी है, वाहनों को पार्किंग स्थल पर ही खड़ा करें, लगातार आठ घंटे से ज्यादा वाहन न चलाये तथा ओवरटेक करने में जल्दबाजी न करे इत्यादि संदेश लिखे हुए थे। जागरूकता रैली महाराजा गंगासिंह चैक से रवाना होकर रेलवे स्टेशन रोड़ होते हुए मुख्य मार्ग से रामलीला मैदान में आयोजित कार्यक्रम में पहुंची।

जयपुर से आये कलाकारों ने नुक्कड़ नाटक के माध्यम से परिवहन नियमों की जानकारी दी तथा उन्होंने यह बताने का प्रयास किया कि यातायात नियमों की अवहेलना करने पर किस प्रकार इंसान अपना जीवन खो देता है।

******

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें