रविवार, 23 फ़रवरी 2020

राजेंद्र भादू और भाइयों के कटले कोठी के भूखंडों की जांच हो रही


**शिकायत पर जांच -मूल रूप में कैसे मिली जमीनें?अगर विस्तार हुआ तो कैसे हुआ? **


++ करणीदानसिंह राजपूत ++


सूरतगढ़। नगर पालिका के अधिशासी अधिकारी लालचंद सांखला ने बताया कि पूर्व विधायक राजेंद्र सिंह भादू उनके भाइयों का कटला और भादू  की कोठी आदि की जमीन मूल रूप से कहां से आई और बाद में इसमें कोई खांचा भूमि आदि जोड़ी तो कैसे जोड़ी आदि की जांच की जा रही है।


सांखला ने बताया कि कई फाईलों में यह जांच की जा रही है। सांखला के अनुसार फाईलों की संख्या दस बारह से अधिक हो सकती है। स्टाफ कर रहा है यह जांच।

बताया गया कि यह जमीनों की जांच शिकायत पर चल रही है और गड़बड़ मिली तो नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी। 

राजेंद्र सिंह भादू व भाईयों के कटले को 13 दिसंबर 2019 को सीज किया गया था कि ताजी जानकारी में बताया कि यह प्रकरण उपनिदेशक बीकानेर के समक्ष विचाराधीन है। भादू भाईयों ने उपनिदेशक के समक्ष अपील की है। ईओ को भी नोटिस मिले हैं। अभी तक दो तारीखें पड़ी हैं जिन पर अन्य सरकारी कार्यों के कारण पहुंचा नहीं जा सका। 

ईओ से स्पष्ट पूछने पर उत्तर मिला कि भादू कटले की जांच सीज आदि की किसी भी प्रकार की कार्यवाही रंजिश से नहीं की गई है,जो भी कार्रवाई की गई वह कटले निर्माण में स्वीकृति के विपरीत पाए जाने पर नोटिस और जवाब मिलने पर नियमानुसार की गई थी। अब आगे निर्णय उच्चाधिकारियों के द्वारा होगा।( वार्ता 20 फरवरी 2020)  00( ब्लास्ट की आवाज. कापी नहीं करें)

*********





कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

यह ब्लॉग खोजें