बुधवार, 30 अक्तूबर 2019

नगरपालिका चुनाव चुनाव निष्पक्ष, शान्तिपूर्वक व भयमुक्त वातावरण में हों- जिला निर्वाचन अधिकारी



श्रीगंगानगर, 30 अक्टूबर 2019.

 जिला कलक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री शिवप्रसाद मदन नकाते ने कहा कि नगरपालिका आम चुनाव 2019 निष्पक्ष, शान्तिपूर्वक व भयमुक्त वातावरण में सम्पन्न होने चाहिए।

जिला कलक्टर श्री नकाते बुधवार30-10-2019 को कलेक्ट्रेट सभाहाॅल में नगरपालिका आम चुनाव 2019 सम्पन्न कराने के लिये गठित प्रकोष्ठों की तैयारियों की समीक्षा के दौरान आवश्यक निर्देश दे रहे थे। उन्होंने कहा कि गत लोकसभा चुनाव में भी सभी चुनाव में लगे कार्मिकों ने भली प्रकार से अपनी जिम्मेदारी का निर्वह्न किया था। उन्होंने कहा कि प्रत्येक चुनाव को एक नई तैयारी के साथ सम्पूर्ण करने चाहिए। चुनाव आयोग के निर्देशों, निर्धारित समय के अनुरूप सभी कार्य सम्पादित करने होते है। चुनाव जितना छोटा होगा, वह उतना ही मुश्किल होता है। इसलिये चुनाव किसी भी स्तर का हो, उसे गंभीरता के साथ लेना चाहिए। 

जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि 1 नवम्बर से लोकसूचना के साथ नामांकन लेने की प्रक्रिया प्रारम्भ होगी। 5 नवम्बर तक नाम निर्देशन जमा हो सकेगें। 6 नवम्बर को प्राप्त नाम निर्देशों की संवीक्षा होगी। आठ नवम्बर तक नाम वापिस लिये जा सकेगें तथा 9 नवम्बर को चुनाव चिन्ह आवंटन तथा 16 नवम्बर को प्रातः 7 बजे से सायं 5 बजे तक मतदान होगा। 19 नवम्बर को मतगणना होगी। 

जिला कलक्टर ने कहा कि रिटर्निंग अधिकारी, सहायक रिटर्निंग अधिकारी व पुलिस अधिकारी सभी मतदान केन्द्रों का शत-प्रतिशत भौतिक सत्यापन कर लें। भवन के रास्ते, दरवाजे इत्यादि देख लें। उन्होंने पुलिस विभाग को निर्देश दिये कि नगरपालिका चुनाव के दौरान संबंधित क्षेत्र में शस्त्र जमा कराने की कार्यवाही करें। चुनाव के दौरान अपराधिक प्रवृति के लोगों को पाबंद करने की कार्यवाही की जाये तथा गश्त भी बढ़ा दें। चुनाव के दौरान अवैध शराब की ब्रिक्री न हो इस पर ध्यान रखा जाये। 

जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि चुनाव के दौरान नियंत्रण कक्ष की स्थापना करें तथा नियंत्रण कक्ष प्रभावी रूप से कार्यशील होना चाहिए। चुनाव लड़ने वाले अभ्यर्थियों के लिये पर्याप्त मात्रा में आवेदन फार्म रखे जाये। नामांकन लेने के दौरान पर्याप्त पुलिस जाब्ता लगाया जाये। चुनाव के दौरान बिना मंजूरी के किसी प्रकार के होर्डिंग्स, वाहन, लाउडस्पीकर का उपयोग नही कर सकेगें। मंजूरी संबंधित आरओ से प्राप्त की जा सकती है। 

श्री नकाते ने ईवीएम की तैयारी, ईवीएम स्ट्राॅंग रूम, एफएलसी तथा ईवीएम के रेण्डेमाईजेशन के संबंध में चर्चा कर आवश्यक निर्देश दिये। उन्होंने मतदान दलों के गठन, कानून व्यवस्था प्रकोष्ठ, रूट चार्ट, मतदान, मतगणना, यातायात प्रकोष्ठ, ईवीएम प्रकोष्ठ, प्रशिक्षण, मतपत्रा मुद्रण, डाकमतपत्रा, सांख्यिकी, आईटी प्रकोष्ठ, एमसीसी, एमसीएमसी एण्ड मीडिया प्लान प्रकोष्ठ, स्वीप, आचार संहिता प्रकोष्ठ, चुनाव पर्यवेक्षक प्रकोष्ठ, वीडियोग्राफी, विशेष योग्यजन, वृद्धजन सहायता प्रकोष्ठ से संबंधित कार्यों की समीक्षा की गई।

बैठक में मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री सौरभ स्वामी, राजस्व अपील अधिकारी श्री करतार सिंह पूनिया, जिला आबकारी अधिकारी प्रतिष्ठा पिलानिया, भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी श्री मोहम्मद जुनैद, न्यास सचिव डाॅ. हरितिमा, एसडीएम गंगानगर श्री मुकेश बारहठ, एसडीएम पदमपुर श्री सुभाष, एसडीएम सूरतगढ श्री मनोज कुमार मीणा, जिला रसद अधिकारी श्री राकेश सोनी सहित चुनाव में लगे अधिकारी तथा विभिन्न प्रकोष्ठों में लगे प्रभारी अधिकारी उपस्थित थे।

-----------





कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें