शनिवार, 28 सितंबर 2019

आईपीएस ममता राहुल बिश्नोई के भाई सुनील ने गोली मार आत्महत्या की

बीकानेर।

आइपीएस ममता राहुल बिश्नोई के छोटे भाई ने शुक्रवार रात को घर के कमरे में खुद को गोली मार ली, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। 

घटना के समय घर के सभी सदस्य मौजूद थे। गोली की आवाज सुनकर कमरे की तरफ दौड़े। कमरे के अंदर का दृश्य देखकर परिजनों के होश उड़ गए। घर में कोहराम मच गया।


 परिजनों ने नयाशहर पुलिस को घटना की जानकारी दी। सूचना मिलने के बाद बीकानेर रेंज आइजी जोश मोहन व पुलिस मौके पर पहुंचे।

पुलिस अधीक्षक प्रदीप मोहन शर्मा ने बताया कि आइपीएस ममता बिश्नोई का छोटा भाई  सुनील पुत्र स्व. ईश्वर बिश्नोई वैध मघाराम काॅलोनी में परिवार सहित रहता था। शुक्रवार रात करीब आठ बजे उसने घर के कमरे में जाकर खुद को गोली मार ली, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। उसका शव कमरे में लहूलुहान हालत में फर्श पर पड़ा था। प्रथमदृष्टया आत्महत्या लग रही है। 

आइपीएस ममता एवं जोधपुर ग्रामीण एसपी राहुल बारहठ को घटना की इत्तला दी गई है, वे बीकानेर के लिए रवाना हो गए है। शव का पोस्टमार्टम शनिवार को कराया जाएगा। आइपीएस ममता व एसपी राहुल बारहठ  के आने के बाद शव को पीबीएम अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया जाएगा।

आत्महत्या के कारणों का पता नहीं चला है। सुनील ने अपने लाइसेंसी रिवाॅल्वर से कनपटी पर गोली मारी है। सिर, नाक व मुंह से खून निकला हुआ है।

मामला पुलिस अधिकारी के रिश्तेदार से जुड़ा होने के कारण पुलिस ने कमरे को सील कर देने के साथ-साथ घर के आसपास के 50 मीटर के इलाके को सील कर दिया। वहां आने-जाने पर रोक लगा दी है। सुरक्षा में पुलिस जवानों को तैनात किया गया है। सीओ सिटी सुभाष शर्मा, कोटगेट, सिटी कोतवाली पुलिस भी मौके पर पहुंची।

मृतक सुनील दो बहिनों का इकलौता भाई था। इनका पुश्तैनी गांव पांचू है, यह काफी समय से यहां रह रहा था। जानकारी के मुताबिक सुनील की पत्नी भी आरपीएस की तैयारी कर रही है।


गौरतलब है कि आइपीएस ममता राहुल बिश्नोई बीकानेर में एसीबी पुलिस अधीक्षक के पद पर रही थी। यहां से उनका स्थानांतरण अजमेर जीआरपी एसपी पद पर हुआ। हाल ही में हुए स्थानांतरण में ममता को जोधपुर में जीआरपी लगाया गया। ममता के पति आइपीएस राहुल बाहरठ जोधपुर ग्रामीण पुलिस अधीक्षक के पद पर कार्यरत है। 

*******


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें