शनिवार, 10 अगस्त 2019

श्रीगंगानगर कलेक्टर और एसपी ने क्या कहा? छात्र संघ,पालिका,पंचायत। चुनावों बाबत-

 

कानून व्यवस्था अच्छी रहे, यह सामुहिक जिम्मेदारी : जिला कलक्टर

अधिकारियों में आपसी समन्वय अच्छा होना चाहिए : पुलिस अधीक्षक

श्रीगंगानगर, 10 अगस्त 2019.

जिला कलक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट श्री शिवप्रसाद मदन नकाते ने कहा कि जिले में कानून व्यवस्था अच्छी बनी रहे, इसके लिए जिले के प्रशासनिक अधिकारियों एवं पुलिस अधिकारियों की सामुहिक जिम्मेदारी है तथा जिले में कानून व्यवस्था बनाए रखना हमारी प्राथमिकता है।

जिला कलक्टर श्री नकाते शनिवार को कलैक्ट्रेट सभाहॉल में आयोजित कानून व्यवस्था से संबधी बैठक में आवश्यक निर्देश दे रहे थे। उन्होंने कहा कि स्वतंत्रता दिवस के अलावा छात्र संघ चुनाव, स्थानीय निकायों के चुनाव के बाद पंचायतीराज संस्थाओं के चुनाव निकट भविष्य में प्रस्तावित हैं , ऐसे में आमजन की शान्ति के लिए कानून व्यवस्था अच्छी बनाना हमारी जिम्मेदारी है। उन्होंने कहा कि जिले में कई बार नहरों के पानी वितरण , मोघों के आकार तथा सिंचाई पानी पर्ची को लेकर विवाद हो जाते हैं । अधिकारियों को बहुत ही सूझबूझ के साथ समस्या का निपटारा करना चाहिए। 

श्री नकाते ने कहा कि छात्र संघ चुनावों के दौरान इस बात का ध्यान रखा जाए कि कॉलेज के चुनाव कॉलेज के परिसर तक ही सीमित रहे। महाविद्यालय से बाहर कार्यालय खोलने, प्रचार तथा पोस्टर इत्यादि नहीं लगने दें । दीवारों पर पोस्टर लगाना या पुताई करने पर सम्पत्ति विरूपण अधिनियम के तहत संबंधित के विरूद्ध कार्यवाही की जाए। उन्होंने कहा कि निकट भविष्य में वाटर यूजर एशोसिएशन के चुनाव होने वाले है। मतदाता सूचियों के अद्यतन करने के कार्य में एसडीएम मोनिटर्रिंग के साथ-साथ पादर्शिता बरते। उन्होने कहा कि अधिकारियों का कोई निर्णय कानून व्यवस्था को प्रभावित करने वाला नही होना चाहिए। 

उन्होने कहा कि जिले के समस्त एसडीएम, तहसीलदार एवं पुलिस अधिकारियों को समन्वय रखते हुए कार्य करना चाहिए। शहरों में पार्किंग जोन, नोन पार्किंग जोन, इत्यादि निर्णय खण्ड स्तरीय यातायात सलाहकार समिति की बैठक में लिया जाए। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की मंशा के अनुरूप अवैध खनन नहीं  होनी चाहिए। अनूपगढ, घडसाना, विजयनगर क्षेत्र में नियमानुसार जिप्सम का खनन हो तथा लीज वाली भूमि से ही खनन किया जा सकता है। अवैध खनन करने पर लीज निरस्त की जा सकती है। उन्होंने सूरतगढ क्षेत्र में ओवरलोड वाहनों के विरूद्ध नियमित कार्यवाही करने के निर्देश दिए। उन्होने सीमा क्षेत्र में तारबंदी के पास होने वाली खेतीबाड़ी के संबंध में भी चर्चा की। 

पुलिस अधीक्षक श्री हेमन्त शर्मा ने कहा कि छात्रा संघ चुनाव शान्तिपूर्ण हो इसके लिए अभी से ही गंभीरता दिखाए। उन्होने कहा कि कोई चुनाव छोटा नही होता। जिले के एसडीएम व थानाधिकारियों की बैठक नियमित रूप से हो तथा अधिकारियों में अच्छे समन्वय व तालमेल रहना चाहिए। अच्छे समन्वय से बड़ी चुनौति को भी आसानी से निपटा जा सकता है। 

पुलिस अधीक्षक ने कहा कि छात्र संगठनों को जानकारी दी जाए कि कॉलेज का चुनाव कॉलेज तक ही सीमित हो। कॉलेज से बाहर कार्यालय नहीं खोलने दें तथा कानून की पालना की जाए। उन्होंनेे कहा कि जो भी कार्य करे, उसमें आमजन का हित होना चाहिए। उन्होने बीट कांस्टेबलों को ओर अधिक सक्रिय रखने का सुझाव दिया। बैठक में प्रत्येक उपखण्ड के अनुसार एसडीएम तथा पुलिस अधिकारी से क्षेत्र की की समस्याओं को सुना तथा आवश्यक निर्देश दिए गए।

बैठक में एडीएम सतर्कता श्री राजवीर सिंह, भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी श्री मोहम्मद जुनेद, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री सुरेन्द्र सिंह, एसडीएम सादुलशहर श्री यशपाल आहुजा, एसडीएम घडसाना श्रीमती संजू पारीक, एसडीएम करणपुर श्रीमती रीना छिंपा, रायसिंहनगर एसडीएम श्री संदीप कुमार, अनूपगढ एसडीएम श्री एम.एम. मीणा सहित जिले के प्रशासनिक अधिकारियों तथा जिले के पुलिस अधिकारियों ने भाग लिया। 

-----------

राजस्व प्रकरणों का समय रहते निपटारा करे : जिला कलक्टर

श्रीगंगानगर, 10 अगस्त। जिला कलक्टर श्री शिवप्रसाद मदन नकाते ने कहा कि राजस्व अधिकारियों को अपने-अपने राजस्व न्यायालयों में लम्बित प्रकरणों को निपटाने में तेजी लानी चाहिए। कोई भी प्रकरण अधिक लम्बे समय तक लम्बित नही रहना चाहिए।

जिला कलक्टर शनिवार को कलैक्ट्रेट सभाहॉल में आयोजित राजस्व अधिकारियों की बैठक में आवश्यक निर्देश दे रहे थे। उन्होने कहा कि रायसिहनगर, अनूपगढ तथा करणपुर तहसीलों का लैण्ड रिकार्ड डिजिटल कर दिया गया है तथा अन्य तहसीलों में भी लैण्ड रिकार्ड ऑन लाइन करने का कार्य प्रगति पर है। बैठक में जमा बंदी सेग्रीगेशन की प्रगति की समीक्षा की गई। उन्होने राजस्व प्रकरणों में 3 वर्ष से अधिक बकाया प्रकरणों के निस्तारण के लिए किए जा रहे प्रयासों की जानकारी ली। 

बैठक में आरसीएम पोर्टल को अपडेट, राजस्थान काश्तकारी अधिनियम की धारा 183 बी, एवं 183 सी के प्रकरणों, सीआरपीसी के लम्बित प्रकरणों, राजकीय भूमि पर अतिक्रमण के मामलों, बकाया आक्षेपों की स्थिति, राजस्व न्यायालयों के अलावा अन्य उच्च न्यायालयों में लम्बित प्रकरणों की स्थिति की समीक्षा की गई। नामांतरण निस्तारण, मुख्यमंत्रा कार्यालय से प्राप्त प्रकरणों, लोकायुक्त, मानवाधिकर आयोग, राज्य महिला आयोग से संबंधित बकाया प्रकरणों की प्रगति की समीक्षा की गई। बैठक में भूमि रूपान्तरण, पीएम किसान योजना, सहायत संबंधी प्रकरणों की समीक्षा कर आवश्यक निर्देश दिए गए।

बैठक में एडीएम सतर्कता श्री राजवीर सिंह, भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी श्री मोहम्मद जुनेद, एसडीएम सादुलशहर श्री यश्सपाल आहुजा, एसडीएम घडसाना श्रीमती संजू पारीक, एसडीएम करणपुर श्रीमती रीना छिंपा, रायसिंहनगर एसडीएम श्री संदीप कुमार, अनूपगढ एसडीएम श्री एम.एम. मीणा सहित जिले के  राजस्व अधिकारियों ने भाग लिया। 

-----------



कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें