शनिवार, 10 अगस्त 2019

सूरतगढ़:नगरपालिका बैठक नहीं हो पाई-विधायक रामप्रताप ने लगाए आरोप


*करणीदानसिंह राजपूत*


रामप्रताप कासनिया ने आज 10 अगस्त 2019 को नगर पालिका की बैठक में नगर पालिका बोर्ड की कार्यप्रणाली और भ्रष्टाचार के अनेक गंभीर आरोप लगाए। इसके बाद पार्षदों ने भी बहुत जबरदस्त हंगामा किया। पार्षदों का आरोप था कि नगर पालिका की बैठक में हस्ताक्षर पहले करवाए जाते हैं और बाद में अपने मनमर्जी तरीके से कार्यवाही लिख दी जाती है इसलिए कोई हस्ताक्षर नहीं करेंगे। शोर-शराबे के बाद नगर पालिका की बैठक आगे किसी दिन के लिए स्थगित हो गई। 

नगर पालिका पर भयानक आरोप लगे हुए हैं और उनका जवाब किसी के पास नहीं है।

विधायक रामप्रताप कासनिया ने बैठक की शुरुआत ही आरोपों से शुरू की। बैठक स्थगित होने के बाद पत्रकारों को भी कहा कि भयानक भ्रष्टाचार है,कोरम पूरा होते हुए भी बैठक करने की हिम्मत नहीं है।

विधायक रामप्रताप कासनिया ने नगरपालिका के भ्रष्टाचारों और सीवरेज सिस्टम में हुए घोटालों पर विधानसभा में भी वक्तव्य दिया था।

नगर पालिका बोर्ड भारतीय जनता पार्टी का है और उसमें भाजपा की काजल छाबड़ा अध्यक्ष और पवन औझा उपाध्यक्ष हैं।

( विस्तार से समाचार बाद में)

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें