रविवार, 21 जुलाई 2019

सूरतगढ़:तेरापंथ में मंत्र दीक्षा कार्यक्रम:मंत्र में शक्ति और संस्कार


अखिल भारतीय तेरापंथ युवक परिषद के निर्देशन में मंत्र दीक्षा का कार्यक्रम देशभर में रखा गया है। इसी के अंतर्गत मंत्र दीक्षा का कार्यक्रम तेरापंथ युवक परिषद सूरतगढ़ द्वारा शासन श्री मुनि विमल कुमार जी के सानिध्य में तेरापंथ भवन में रखा गया। जिसमें 25 बच्चों की उपस्थिति रही।

नवकार मंत्र के मंगलाचरण से कार्यक्रम की शुरुआत मुनिश्री द्वारा हुई। तत्पश्चात ज्ञानशाला की प्रशिक्षिकाओ द्वारा गीतिका प्रस्तुत की गई।  बच्चों द्वारा त्रिपदी वंदना की गई। सभी का स्वागत तेयुप अध्यक्ष दीपक बोथरा द्वारा किया गया। मुनिश्री द्वारा मंत्र दीक्षा का महत्व समझाया गया व महामंत्र की उपयोगिता समझाई गई। कार्यक्रम में पीलीबंगा से महिला मंडल की बहनें अखिल भारतीय तेरापंथ महिला मंडल की राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्या श्रीमती पुष्पा नाहटा के नेतृत्व में मुनिश्री के दर्शनों हेतु आई। श्रीमती नाहटा ने भी मन्त्र के महत्व पर व जैन विद्या की परीक्षा के बारे में बताया।  श्रीगंगानगर से भी श्रावक महासभा के कार्यकारिणी सदस्य व जैन संस्कारक श्री विमल कोटेचा के नेतृत्व में आये। कोटेचा जी ने जैन संस्कार के बारे में बताया व मन्त्र दीक्षा के उद्देश्य पर भी प्रकाश डाला। मुनिश्री मधुर जी ने भी अपना उद्धबोधन दिया। अणुव्रत समिति के अनिल कुमार रांका ने भी अपनी भावनायें प्रस्तुत की। मुनिश्री विमल कुमार जी द्वारा दीक्षांत प्रवचन एवं बच्चों को मंत्र दीक्षा प्रदान की गई व बताया कि मंत्र दीक्षा से बालकों में नमस्कार महामंत्र का स्मरण करने के संस्कार जागृत होते हैं। आज के यह छोटे-छोटे बच्चे समाज एवं राष्ट्र की रीढ़ है। इन्हें संस्कारों के ढांचे में ढालना स्वस्थ समाज की संरचना करना है। मुनिश्री जी ने फरमाया मंत्र शक्ति का प्रतीक है। शक्ति के अभाव में ज्ञान उपयोग नहीं हो सकता, ना ही आनंद की प्राप्ति।  नमस्कार महामंत्र अनंत शक्तियों का भंडार है।

प्रवचन के तत्पश्चात बच्चों को युवक परिषद द्वारा मन्त्र दीक्षा की पुस्तक व माला पारितोषिक के रूप में दिए गए।कार्यक्रम संचालन मुनिश्री धन्य कुमार जी द्वारा किया गया एवं आभार ज्ञापन  कोषाध्यक्ष भरत ऋषि रांका द्वारा दिया गया। कार्यक्रम में तेरापंथ युवक परिषद के सन्तोष बोरड़, अमन रांका, दीपेंद्र रांका, नितिन सेठिया, मनोज श्रीमाल आदि का सहयोग रहा। इस कार्यक्रम के दौरान महिला मंडल द्वारा जैन विद्या के फॉर्म भरवाये गये एवम अणुव्रत समिति द्वारा जल संरक्षण व स्वच्छ जल हेतु एक बेनर का विमोचन करवाया गया व शहर में लोगों को जागरूक करने हेतु उसे ऑटो पर लगवाया गया।




कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें