शनिवार, 20 जुलाई 2019

श्री गंगानगर- गांव 71 आरबी में आयोजित हुई रात्रि चौपाल

* विधवा को मिली पेंशन, पात्र को खाद्य सुरक्षा का लाभ* 

*रात्रि चैपाल का उद्देश्य ग्रामीणों के बीच बैठकर उनकी समस्या हल करना*

श्रीगंगानगर, 20 जुलाई। जिला कलक्टर श्री शिवप्रसाद मदन नकाते ने कहा कि रात्रि चैपाल का उद्धेश्य ग्रामीणों के बीच बैठकर उनकी समस्याओं को जानना व समाधान करने के साथ-साथ सरकार द्वारा संचालित योजनाओं की जानकारी देकर पात्र नागरिकों को लाभांवित करना भी है।

जिला कलक्टर श्री नकाते शुक्रवार को रायसिंहनगर क्षेत्र की ग्राम पंचायत 71 आरबी में आयोजित रात्रि चैपाल में आवश्यक निर्देश दे रहे थे। उन्होंने कहा कि ग्रामीणों के बीच आने से उनकी छोटी-मोटी समस्याएं गांव में ही हल हो जाती है। इसलिये उन्हें अनावश्यक जिला मुख्यालय तक नही आना पडे़गा। रात्रि चैपाल में विधवा महिला रतनीदेवी ने विधवा पेंशन के लिए प्रार्थना पत्र दिया जिला कलक्टर ने विकास  अधिकारी को तत्काल विधवा पेंशन स्वीकृत करने के निर्देश दिये। वहीं पर गरीब बलजिन्द्र सिंह ने राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा का लाभ लेने के लिए जिला कलक्टर के समक्ष उपस्थित हुआ। पूर्व में उसे बताया गया कि 12 बीघा भूमि होने के कारण लाभ नही मिलेगा जबकि जिला कलक्टर ने उसकी भूमि के कागजात देखकर ज्ञात हुआ कि 12 बीघा भूमि मे कई हिस्सेदार है इसी आधार पर बलजिन्द्र सिंह के परिवार को राष्ट्रीय सुरक्षा का लाभ अगस्त माह से मिलना शुरू होगा। इसी प्रकार अमरजीत सिंह को भी रात्रि चौपाल मे मौके पर ही राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा स्वीकृत की गई। 

रात्रि चैपाल में ग्रामीणों ने 71 आरबी मे विद्युत लाईन की समस्या बताई जिला कलक्टर ने विद्युत विभाग के अधीक्षण अभियन्ता व उनकी पूरी टीम को मौका देखकर आवश्यक कार्यवाही के निर्देश दिए। इसी प्रकार 72 आरबी के ग्रामीणों  ने जीएलआर मे पेयजल आपूर्ति नही होने की शिकायत की जिला कलक्टर ने पेयजल विभाग को निर्देश दिये कि जीएलआर मे जलापूर्ति की जाये। गांव 9 एफएफ में 60 लाख रूपये की राशि से लम्बित पेयजल परियोजना की शिकायत मिलने पर जिला कलक्टर ने सबंधित सहायक अभियंता को चार्जशीट देने एंव परियोजना को जल्द पूर्ण करने के निर्देश दिये। इसी प्रकार 14 आरबी मे हरिजन बस्ती मे पाईप लाईन की समस्या के समाधान के लिये पेयजल विभाग को आवश्यक निर्देश दिए। 


रात्रि चौपाल में ग्रामवासियों ने आर्मस लाईसेन्स नवीनीकरण नहीं  होने की समस्या बताई जिला कलक्टर ने बताया कि एडीएम सूरतगढ का पद रिक्त होने के कारण हथियार लायसेंस नवीनीकरण नही किये जा रहे थे अब एडीएम सूरतगढ का कार्यभार एडीएम सतर्कता गंगानगर को दिया गया है तथा नवीनीकरण का कार्य प्रारम्भ कर दिया गया है।

 रात्रि चैपाल में खाला निर्माण , डिग्गी निर्माण का भुगतान, भूमि के इन्तकाल, नरेगा योजना मे भुगतान सहित निजि व सार्वजनिक समस्यायें सामने आई। जिला कलक्टर ने एक-एक समस्या की सुनवाई करते हुए आवश्यक समाधान किये। जिला कलक्टर ने ग्रामीणों को बताया कि कृषि कार्य के लिए किसान समूह बनाकर ट्रैक्टर , कृषि औजार, डेयरी, कूलिंग प्लांट इत्यादि स्थापित करना चाहे तो इसके लिए नाबार्ड द्वारा 40 प्रतिशत की अनुदान राशि देने का प्रावधान है। 

रात्रि चैपाल में ग्रामीणो को बताया कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा के लाभ के लिए ई-मित्रा के माध्यम से आवेदन किया जा सकता है। ऐसे गरीब परिवार जिनकी रसोई गैस नही है, वे प्रधानमंत्राी उज्जवला योजना में रसोई गैस का लाभ ले सकते है। श्रम विभाग की शुभ शक्ति , प्रसुति योजना की जानकारी दी गई। कृषि विभाग द्वारा नरमा कपास में लगने वाले रोग व उपचार की जानकारी दी गई। इसी प्रकार समाज कल्याण, शिक्षा विभाग, चिकित्सा विभाग सहित विभिन्न विभागों की जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी गई। 

रात्रि चैपाल में मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री सौरभ स्वामी, भारतीय प्रशासनिक सेवा के प्रशिक्षु श्री मोहम्मद जुनेद, एसडीएम श्री संदीप कुमार, जला रसद अधिकारी श्री राकेश सोनी, प्रवर्तक अधिकारी श्री सुरेश कुमार, विद्युत के अधीक्षण अभियन्ता श्री के.के. कस्वा, उपनिदेशक कृषि श्री जी.आर. मटोरिया, महिला अधिकारिता विभाग की सहायक निदेशक श्री विजय कुमार सहित विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय, ब्लाॅक स्तरीय अधिकारी व ग्रामीणजन उपस्थित थे।


--------------



कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें