गुरुवार, 13 जून 2019

तूफान 'वायु'चक्रवाती तूफान बना-5 सौ गांव खाली करवाए


गुजरात के लिए अगले 24 घंटे काफी भारी हो सकते हैं। मौसम विभाग के मुताबिक, वायु चक्रवात अब राज्य से महज 100 किमी दूर रह गया है। यह गुजरात के तटीय इलाकों पोरबंदर और दीव से गुजरेगा।

 ऐसे में 13 जून की सुबह हवा की गति 145 से 155 किमी प्रति घंटे से 170 किमी प्रति घंटे तक हो सकती है। तूफान को देखते हुए पूरे राज्य में हाई अलर्ट घोषित किया गया है।

आईएमडी ने कहा, ‘‘चक्रवात वायु बेहद गंभीर चक्रवाती तूफान में बदल गया है। इसके कारण बृहस्पतिवार सुबह 145 से 170 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से धूल भरी आंधी चलेगी।’’ भारतीय वायु सेना के एक अधिकारी ने बताया कि पश्चिमी तट पर रह रहे लोगों को एहतियाती तौर पर निकालने में आईएएफ की मदद करने के लिए राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) की टीमें गुजरात पहुंचनी शुरू हो गई है।

  

40 गाड़ियां रद्द- वेस्टर्न रेलवे चलाएगा 3 स्पेशल ट्रेनें


वायु साइक्लोन के चलते वेस्टर्न रेलवे ने 40 ट्रेनें रद्द कर दी हैं। साथ ही, 28 ट्रेनों को आंशिक रूप से रद्द करने का ऐलान किया है। इसके अलावा साइक्लोन से प्रभावित होने वाले लोगों को निकालने रेलवे ने 3 स्पेशल ट्रेनें चलाने का फैसला किया है। ये ट्रेनें गुरुवार (13 जून) को राजकोट डिविजन, भावनगर डिविजन और वेरावल से चलेंगी।

  

गृहमंत्री अमित शाह ने की यह अपील

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि मौसम विभाग ने गुजरात के पोरबंदर और दीव तट से साइक्लोन के गुजरने की जानकारी दी है। मैं लोगों की सुरक्षा की प्रार्थना करता हूं। गृह मंत्रालय राज्य सरकारों के साथ-साथ केंद्र शासित प्रदेशों के भी संपर्क में है। एनडीआरएफ की 52 टीमें तैनात कर दी गई हैं।

   

500 गांव कराए गए खाली

गुजरात रेवेन्यू डिपार्टमेंट के अडिशनल चीफ सेक्रेटरी पंकज कुमार ने बताया कि तूफान को देखते हुए तटीय इलाकों के 500 से अधिक गांव खाली करा लिए गए हैं। 2.15 लाख लोगों को शेल्टर होम में शिफ्ट कर दिया गया है। संवेदनशील इलाकों में पुलिस बुधवार देर रात से गश्त शुरू कर देगी


सोमनाथ मंदिर से टकराईं तेज हवाएं।

साइक्लोन वायु का असर गुजरात में नजर आने लगा है। बुधवार दोपहर धूल भरी तेज हवाएं सोमनाथ मंदिर से टकराईं। मौसम विभाग ने अनुमान जताया है कि गुरुवार सुबह लैंडफॉल हो सकता ह

   

सौराष्ट्र व कच्छ की तरफ बढ़ रहा है साइक्लोन वायु

चक्रवात ‘वायु’ के ‘बेहद गंभीर चक्रवाती तूफान’ में बदल जाने के कारण महाराष्ट्र में मुंबई और पड़ोस के कुछ तटीय इलाकों में बुधवार सुबह तेज हवाएं चलीं। मौसम विभाग ने यह जानकारी दी। भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) ने चक्रवात की गंभीर स्थिति को अद्यतन करते हुए कहा है कि चक्रवात पड़ोसी राज्य गुजरात के सौराष्ट्र और कच्छ क्षेत्रों की ओर लगातार बढ़ रहा है।

   

मोरबी पहुंची NDRF की टीम

वायु साइक्लोन को देखते हुए नेशनल डिजास्टर रिस्पॉन्स टीम मोरबी पहुंच चुकी है। मौसम विभाग का अनुमान है कि वायु साइक्लोन गुरुवार तड़के पोरबंदर और महुआ के तटीय इलाकों में पहुंच सकता है।

अहमदाबाद से कल इन शहरों के लिए नहीं उड़ेगी कोई भी फ्लाइट।

साइक्लोन वायु को देखते हुए अहमदाबाद के सरदार वल्लभभाई पटेल इंटरनेशनल एयरपोर्ट से पोरबंदर, दीव, कांदला, मुंदरा और भावनगर जाने वाली फ्लाइट्स 13 जून को रद्द रहेंगी।

   

ओखा से राजकोट जाएंगी 2 स्पेशल ट्रेन

वायु साइक्लोन से निपटने के लिए वेस्टर्न रेलवे ने 2 स्पेशल ट्रेनें चलाने का फैसला किया है। ये ट्रेनें शाम 5:45 और रात 8:05 बजे ओखा से राजकोट और अहमदाबाद जाएंगी।

   

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें