शुक्रवार, 28 जून 2019

शिक्षा क्षेत्र में योगदान-श्रीगंगानगर जिला स्तरीय भामाशाह सम्मान समारोह 2019.



श्रीगंगानगर, 28 जून 2019.

नोजगे पब्लिक स्कूल ओडिटोरियम में जिला स्तरीय भामाशाह सम्मान समारोह 2019 आयोजित हुआ।

 इस अवसर पर जिला कलेक्टर ने कहा कि भामाशाहों ने शिक्षण संस्थाओं में सहयोग राशि देकर निर्माण व विकास के कार्य करवाये है, वे सभी धन्यवाद के पात्र है। उन्होंने कहा कि हमारे ग्रंथों में शिक्षा के दान को सबसे बड़ा माना गया है। इसलिये शिक्षण संस्थाओं में सभी का सहयोग अपेक्षित है।

आयोजित समारोह में श्री श्योचंदराम पुत्र श्री सरदाराराम द्वारा राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय रामसराजाखडान में 2.25 लाख रूपये की राशि से मुख्य दरवाजे का निर्माण करवाया गया। 

श्री निरंजन सिंह पुत्र श्री हरभजन सिंह द्वारा राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय 9 जैड में 14 लाख 21 हजार 933 रूपये का सहयोग से विद्यालय की चारदीवारी व अन्य कार्य करवाए गए।

 साहबराम चाहर पुत्र श्री अर्जुनराम चाहर द्वारा राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय ठुकराना में 10 लाख एक हजार 400 रूपये का सहयोग एवं मंच फर्नीचर में सहयोग दिया गया। 

डॉ0 नगेन्द्र कौर पत्नि श्री बरजीत सिंह ग्रेवाल द्वारा राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय सादुलशहर में 1.15 लाख रूपये का सहयोग दिया गया। सिमरजीत कौर पत्नि श्री बोहड सिंह द्वारा राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय 6 पी में एक लाख 88 हजार 800 रूपये का सहयोग, 

श्रीमती भागवंती पारीक द्वारा राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय 90 जीबी में 1 लाख 50 हजार रूपये की राशि से इंटरलोकिंग निर्माण में सहयोग दिया गया, इसलिए इनका सम्मान होगा। शाला प्रेरक सम्मान श्री लालचंद शर्मा लालगढ जाटान को दिया गया। 

आयोजित समारोह में भामाशाह और प्रेरकों को राजकीय विधालयों में शैक्षणिक व सह-शैक्षणिक वातावरण में भौतिक निर्माण के लिये संसाधन जुटाने व आर्थिक सहयोग देने के लिये सम्मान दिया जाता है। आयोजित समारोह में जिला कलक्टर श्री नकाते व कार्यक्रम  के मुख्य अतिथि द्वारा भामाशाहों का शॉल उढाकर, नारियल, प्रशास्ति पत्र व सम्मान प्रतीक देकर सम्मानित किया गया। 

इस अवसर पर कार्यक्रम के मुख्य अतिथि नोजगे पब्लिक स्कूल की डायरेक्टर श्रीमती सुरेन सुदन, मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी श्री हरचंद गोस्वामी, जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक श्री सुख महेन्द्र सिंह, जिला शिक्षा अधिकारी प्रारम्भिक श्री दयाचंद बंसल, अतिरिक्त जिला शिक्षा अधिकारी श्री सुरेन्द्र सोनी सहित शिक्षण गण व भामाशाह व गणमान्य नागरिक उपस्थित थे। 




कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें