गुरुवार, 9 मई 2019

सूरतगढ़ के होटल में गैंगरेप,अजमेर और ब्यावर के होटलों में भी किया दुष्कर्म

* जसरासर से अपहरण-मामले की सही जानकारी नहीं देने के आरोप में 1 थानाधिकारी और 1 सहायक थानेदार सस्पेंड* 


 बीकानेर के जसरासर थाने में गांव की युवती के साथ अपहरण व गैंगरेप  होने का मामला दर्ज हुआ है। 

इस मामले में सूरतगढ़ के होटल में एक रात और 1 दिन तक तीन अपहरणकर्ताओं द्वारा युवती से बलात्कार किए जाने का मामला एफ आई आर में दर्ज हुआ है।सूरतगढ़ का कौनसा होटल है और बिना परिचय पत्र के किस आधार पर इनको होटल में रूकने दिया? यह पुलिस अनुसंधान में ही उजागर होगा। 

इससे पहले युवती के साथ अजमेर के एक होटल और ब्यावर के एक होटल में भी उक्त तीनों अपहरणकर्ताओं ने दुष्कर्म किया।

 जसरासर थाने में पुलिस के समक्ष पीड़ित युवती अपने पिता के साथ उपस्थित हुई और घटनाक्रम दर्ज करवाया।

एफ आई आर के अनुसार युवती 27 अप्रैल 2019 को सुबह करीब 5:00 बजे शौच करके लौट रही थी,तब रास्ते में बोलोरो गाड़ी के साथ तीन जने महेंद्र रामनिवास और राजू राम खड़े थे जिन्होंने युवती को जबरदस्ती बेलोरो में डाला और बाद में कोई नशीला पदार्थ खिला दिया। ये तीनों व्यक्ति पहले अजमेर गए वहां एक होटल में  रूके और वहां तीनों ने उसके साथ  बलात्कार किया। 

 उसके बाद वे युवती को लेकर ब्यावर  चले गए चले गए। ब्यावर के एक होटल में रूके और तीनों ने दुष्कर्म किया। इसके बाद वहां से युवती को लेकर सूरतगढ़ पहुंचे। सूरतगढ़ के एक होटल में एक रात और एक दिन रुके तथा वहां भी तीनों ने दुष्कर्म किया।

उसके बाद तीनों युवती को उसके पीहर नवरंगदेसर के पास पटक कर फरार हो गए। 

पुलिस इन तीनों की खोज में लगी हुई है। ताजा जानकारी मीडिया पर आ रही है एसपी प्रदीप मोहन ने इसमें गंभीरता दिखाते हुए जसरासर के थाना अधिकारी  और एक सहायक थानेदार  को सस्पेंड किया है, आरोप है कि उन्होंने एफ आई आर के संबंध में उच्चाधिकारियों को सही जानकारी से अवगत नहीं कराया। युवती के लापता होने की सूचना पहले थाने में दर्ज कराई हुई थी।

************




आप भी विज्ञापन के द्वारा व्यवसाय मेंं लाभ उठाएं  94143 81356.

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें