रविवार, 14 अप्रैल 2019

सूरतगढ़-आधुनिक भारत के निर्माता है बाबा साहेब डॉ. भीमराव अंबेडकर - पवन सोनी



सूरतगढ- 14 अप्रैल 2019.

 आज प्रात 11 बजे मानवता के मसीहा, भारत रत्न बाबा साहेब डॉ. भीमराव अंबेडकर की 128 वीं जयंती के उपलक्ष में पवन सोनी के नेतृत्व में बड़ी संख्या में कार्यकर्ता एकत्रित होकर बाबा साहेब अमर रहे के नारे लगाते हुए केक काटा और और पुष्पांजलि अर्पित की। कार्यक्रम की अध्यक्षता जगदीश बिश्नोई ने की। कार्यक्रम में मुख्य वक्ता पवन सोनी ने बाबा साहेब की जीवनी पर प्रकाश डालते हुए कहा कि विश्व के सर्वश्रेष्ठ छः विद्वानों में से एक गिने जानेवाले विलक्षण प्रतिभा के धनी बाबा साहेब का जन्म 14 अप्रैल 1891 में को मध्य प्रदेश की महू छावनी की एक फौजी बैरिक में हुआ था। बाबा साहेब की शिक्षा एक साधारण स्कूल से शुरू होकर अंत में अमेरिका के कोलंबिया विश्वविद्यालय से डॉक्टरेट की पढ़ाई करके पूरी हुई। बाबासाहेब उच्च कोटि के समाजशास्त्री, अर्थशास्त्री, कानूनविद और राजनीतिज्ञ थे। बाबासाहेब 1947 में स्वतंत्र भारत के प्रथम कानून मंत्री बने एवं संविधान निर्मात्री समिति के सभापति बनकर भारतीय संविधान का निर्माण किया। भारतीय रिजर्व बैंक की स्थापना, वित्त आयोग की स्थापना, स्वतंत्रता चुनाव आयोग की स्थापना में अहम भूमिका निभाने के कारण बाबा साहब को आधुनिक भारत का निर्माता कहा जाता है। बाबा साहब ने अपने समाज को शिक्षित बनो, संगठित रहो और संघर्ष करने का आह्वान किया। बाबासाहेब 64 विषयो में मास्टर डिग्री की और 9 भाषाओं के ज्ञाता थे। बाबा साहेब की जयंती पूरे विश्व में विश्व विज्ञान दिवस के रूप में मनाई जाती है।


 कार्यक्रम में महावीर प्रसाद टाक, जगदीश विश्नोई, सुभाष गेदर, बालूराम जालप अध्यक्ष नगर कांग्रेस कमेटी ओबीसी, रामेश्वर भोभरिया, बलवन्त विश्नोई,  हेतराम कुचेरिया, पंकज गेदर, सुरेंद्र स्वामी, मनोहर नायक, राजाराम मेघवाल, दीपा राम नायक, कालूराम मेघवाल, महावीर घोड़ेला, सहीराम नायक, मनोज जाटव, राजपाल झटवाल आदि शामिल हुए।





कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें