गुरुवार, 28 मार्च 2019

बिना मन्जूरी के वाहन चुनाव प्रचार में न लगायें-जब्त होगा:अन्य महत्वपूर्ण जानकारियां

* ईवीएम का विधानसभावार हुआ रेन्डेमाईजेशन*

* नाम निर्देशन में शपथ पत्र पूर्ण रूप से भरा हो*


श्रीगंगानगर, 28 मार्च 2019.

 लोकसभा आम चुनाव 2019 के दौरान गुरूवार को कलैक्ट्रेट सभा हाल में ईवीएम का प्रथम रेन्डेमाईजेशन विधानसभावार किया गया। कलैक्ट्रेट सभा हाल में राजनैतिक दलो की उपस्थिति में रेन्डेमाईजेशन किया गया। 


जिला कलक्टर एंव जिला निर्वाचन अधिकारी श्री शिवप्रसाद मदन नकाते ने राजनैतिक दलों के पदाधिकारियों को बताया कि लोकसभा आम चुनाव 2019 में मतदाता पर्ची को पहचान के रूप में उपयोग नही कर सकेगे। यह पर्ची केवल सूचना के लिये होगी। भारत निर्वाचन आयोग ने मतदाता पहचान पत्र के अलावा फोटोयुक्त 11 दस्तावेज चिन्हित किये है, जिन्हे दिखाकर मतदान किया जा सकता है। 


श्री नकाते ने बताया कि उम्मीदवार व राजनैतिक दल चुनाव प्रचार में बिना अनुमति के वाहन का उपयोग न करें। बिना अनुमति का वाहन पकडे जाने पर जब्त किया जायेगा तथा चुनाव प्रक्रिया समाप्ति के बाद ही छोडा जायेगा। उन्होने कहा कि आयोग के निर्देशानुसार प्रचार के लिये वाहन, रैली, जनसभा इत्यादि कार्यक्रमो के लिये आनलाईन आवेदन करने की सुविधा है। उन्होंने बताया कि नाम निर्देशन के दौरान उम्मीदवार द्वारा दिया जाने वाला शपथ पत्र पूर्ण रूप से भरा होना चाहिये तथा कोई भी कालम खाली नही छोडना है। 

जिला निर्वाचन अधिकारी ने राजनैतिक दलो के पदाधिकारियों को बताया कि आयोग के निर्देशानुसार अभ्यर्थी का किसी तरह का अपराधिक प्रकरण है, की जानकारी निर्धारित प्रपत्र सी-1 व सी-2 में तीन बार समाचार पत्रों मे व तीन बार इलैक्ट्रोनिक चैनल में मतदान से 48 घण्टे पूर्व प्रकाशित एवं प्रसारित करवाना होगा। उन्होंने कहा कि लोकसभा आम चुनाव 2019 के दौरान सभी राजनैतिक दलों  उम्मीदवारों को आदर्श आचार संहिता की पालना सुनिश्चित करनी होगी। 

बैठक में एडीएम शहर श्री राजवीर सिंह, एसडीएम श्री मुकेश बारहठ, जिला सूचना विज्ञान अधिकारी श्री अश्विनी पालीवाल, अतिरिक्त सूचना विज्ञान अधिकारी श्री परमजीत सिंह, आईएनसी से श्री भीमराज डाबी, बीजेपी से श्री विजय शर्मा, सीपीआईएम से श्री विजय रैवाड, रिछपाल सिंह सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे। 


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें