सोमवार, 18 मार्च 2019

चिकित्सा शिविर : महावीर इन्टरनेशनल सूरतगढ़ एवं आयुर्वेद विभाग राजस्थान का संयुक्त आयोजन.

**अर्श, भगन्दर आयुर्वेद अंतरंग शल्य चिकित्सा**


^ विशेष रिपोर्ट- करणीदानसिंह राजपूत ^

चौपड़ा धर्मशाला, सूरतगढ़ में चल रहे 10 दिवसीय निःशुल्क अर्श, भगन्दर आयुर्वेद अंतरंग शल्य चिकित्सा शिविर का रविवार सायं को समापन समारोह आयोजित किया गया। कार्यक्रम की शुरूआत अतिथियों द्वारा भगवान धन्वन्तरी की पूर्जा अर्चना कर की गई। 

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सूरतगढ़ के विधायक श्री रामप्रताप कासनिया ने सभी रोगियों की शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करते हुए चिकित्सकीय दल व संस्था सदस्यों को धन्यवाद दिया एवं अपना हरसंभव सहयोग देने का आश्वासन दिया। 

कार्यक्रम अध्यक्ष आयुर्वेद विभाग श्रीगंगानगर के उपनिदेशक बलदेव राज अरोड़ा ने शिविर का अवलोकन भी किया व इसकी व्यवस्थाओं में सेवारत सभी की सराहना की एवं अपनी ओर से यथासंभव सहयोग देने का आश्वासन दिया। 

कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि नगरपालिका के अधिशाषी अधिकारी लालचन्द सांखला ने शिविर के सभी सहयोगियों का धन्यवाद किया।


रोगियों की शल्य चिकित्सा करने वाले सीकर के शल्य चिकित्सक डॉ. ओमप्रकाश चेचु ने रोगियों को खानपान के बारे में आवश्यक दिशा निर्देश देते हुए सभी को जीवनशैली के बारे में बताया व कहा कि शिविर में भर्ती सभी अब रोगी नहीं रहे बल्कि लाभार्थी बन गये हैं। कब्ज व गलत आहार-व्यवहार से इस तरह के रोग पनपते हैं और इस तरह के सभी रोग आयुर्वेदिक चिकित्सा पद्धति से जड़ से समाप्त किये जा सकते हैं। डॉ. चेचु ने शिविर में सहयोगी चिकित्सीय स्टाफ सहित संस्था सदस्यों का धन्यवाद करते हुए भविष्य में भी अपनी सेवायें देने का आश्वासन दिया।


डॉ. जितेन्द्र सिंह राठौड़ ने पथ्य-अपथ्य के बारे में बताया। कार्यक्रम के प्रारम्भ में संस्था अध्यक्ष वीर नत्थूराम कलवासिया ने सभी अतिथियों का स्वागत किया।






शिविर संयोजक चन्द्र सिंह चौधरी ने बताया कि शिविर में कुल 195 रोगियों की जांच कर शल्य चिकित्सक डॉ. ओमप्रकाश चेचु द्वारा अपनी अनुभवी टीम के सहयोग से 93 रोगियों के सफल ऑपरेशन किये गये। 


 साध्वी पूर्ण प्रज्ञा  जी ने शुद्ध आहार व जीवनशैली हेतु मार्गदर्शन किया व सभी के स्वास्थ्य हेतु मंगल पाठ किया।

शिविर में स्वास्थ्य प्राप्त करने वाले व उनके परिचारकों में करणीदान सिंह राजपूत ने कहा कि सेवा कार्य में महावीर इंटरनेशनल का हर पदाधिकारी व कार्यकर्ता दिल से सेवा में लीन रहते हैं। राजपूत ने चिकित्सक डा.ओमप्रकाश चेचू व अन्य चिकित्सकोंं व नर्सिंग स्टाफ की सराहना की।


भागीरथ शर्मा, सुरेश कुमार, लालचन्द, नीलम मिढ़ा आदि ने भी अपने अनुभवों को साझा करते हुए शिविर आयोजन में चिकित्सीय स्टाफ, नर्सिंग स्टाफ व संस्था के सेवा कार्यों की प्रशंसा करते हुए धन्यवाद दिया।

 संस्था सचिव वीर दिलीप मिश्रा ने अतिथियों, चिकित्सकों, नर्सिंग कर्मियों सहित सभी का आभार व्यक्त किया।

समारोह के दौरान स्वाईन फ्लू की रोकथाम हेतु जिले एवं संभाग में काढ़ा वितरण में व अर्श, भगन्दर शिविरों में सर्वश्रेष्ठ कार्य करने पर डॉ. सीमा चौहान, डॉ. जितेन्द्र सिंह राठौड़ व श्री चन्द्र सिंह चौधरी को विभाग द्वारा सम्मानित किया गया। 




मंच का संचालन संजय बैद ने किया। सभी लाभार्थी सन्तुष्ट नजर आये। शिविर के परियोजना निदेशक वीर विजय कुमार सावनसुखा व वीर ओमप्रकाश कारगवाल के अनुसार शिविर हेतु सेठ सुखलाल चौपड़ा मेमोरियल ट्रस्ट सूरतगढ़ द्वारा चौपड़ा धर्मशाला (श्री विजय वल्लभ जैन धर्मशाला) व नरेश नागपाल द्वारा चारपाईयां एवं गंगा फिल्टर वाटर द्वारा शुद्ध पेयजल निःशुल्क उपलब्ध करवाया गया तथा जनता रोग निदान केन्द्र के संचालक ब्रह्मानन्द शर्मा द्वारा निःशुल्क जांचें की गई। साथ ही द्वारा पूराराम सहित कई जनों ने गुप्तदान के रूप में शिविर हेतु आर्थिक सहयोग भी किया। 


सूरतगढ़ ओपन रोवर क्रू के रोवर तुषार कामरा के नेतृत्व में रोवर्स व समाजसेवी रमेश चन्द्र माथुर, रमेश तिवाड़ी, आत्माराम महर्षि आदि ने शिविर में विभिन्न प्रकार से सहयोग किया।

चिकित्सकीय दल में डॉ. ओमप्रकाश चेचु, डॉ. जितेन्द्र सिंह राठौड़, डॉ. राजेश कनवारिया, डॉ. सीमा चौहान, डॉ. सपना खत्री व नर्सिंग स्टाफ में सोहनलाल ढ़ाका, ब्रह्मानन्द शर्मा, सेवानिवृत ओमप्रकाश शर्मा, सरस्वती, कुलविन्द्रकौर एवं परिचारक ओमप्रकाश, पंकज कुमार, सुमन तथा सफाई कर्मचारी कमल कुमार, शंकरलाल ने अपनी सेवायें दी।

संस्था द्वारा सभी अतिथियों व चिकित्सकीय दल सहित सभी सहयोगियों को प्रोत्साहन स्वरूप सम्मानित किया गया।



कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें