बुधवार, 13 मार्च 2019

हाफिज सईद के पैसों से गुरुग्राम में खरीदी गई प्रॉपर्टी! ऐसे हुआ खुलासा

हाफिज सईद से जुड़े होने और टेरर फंडिंग के आरोपी कश्मीरी कारोबारी जहूर अहमद शाह वटाली की एक संपत्ति जब्त की गई है। गुरुग्राम स्थित इस प्रॉपर्टी की कीमत बाजार मूल्य के मुताबिक एक करोड़ बताई जा रही है।


March 13, 2019.


हरियाणा के गुरुग्राम में इस प्रॉपर्टी का हो सकता है हॉफिज कनेक्शन. (फोटो सोर्स: ANI and Express Archive)

आतंकियों के लिए फंडिंग के आरोपों में घिरे कश्मीरी कारोबारी जहूर अहमद शाह वटाली के खिलाफ एजेंसियों का शिकंजा कसता जा रहा है। वटाली पर पाकिस्तान स्थित हाफिज सईद के आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा से जुड़े होने का आरोप है। प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने वटाली के गुरुग्राम में लगभग एक करोड़ रुपये की संपत्ति को जब्त कर लिया।

ईडी के वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक वटाली के खिलाफ यह कार्रवाई धनशोधन निरोधक अधिनियम के तहत अमल में लाई गई। गौरतलब है कि जहूर अहमद शाह वटाली को एनआईए ने लश्कर-ए-तैयबा को फंडिंग करने के मामले में गिरफ्तार किया था। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक जहूर आतंकी सरगना हाफिज सईद का फाइनैंसर है। गुरुग्राम स्थित जब्त होने वाला विला वटाली ने ही खरीदा था। बाजार मूल्य के हिसाब से इस विला की कीमत एक करोड़ रुपये के करीब बताई जा रही है। एलआईए ने 2017 में आतंकियों की मदद करने के आरोप में वटाली समेत 18 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया था। मामले में जाच अभी तक जारी है।


खबर है कि जब्त किया गया विला ‘फलाह-ए-इंसानियत फाउंडेशन’ के पैसों से खरीदा गया था। इस संस्था को मुंबई हमले का मास्टरमाइंड हाफिज सईद पाकिस्तान से संचालित करता है। इस विला का आतंकी कनेक्शन होने के प्रमाण खंगाले जा रहे हैं। दरअसल, इसकी पहली मंजिल को अभी जब्त किया गया है, जबकि इसकी दूसरी और तीसरी मंजिल किसी और के नाम है। पहली मंजिल सर्वा जहूर के नाम से है, जो हजूर का कोई रिश्तेदार हो सकता है। पहली मंजिल में कश्मीरी परिवार भी रहता है।

साभार जनसत्ता आन लाइन 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें