सोमवार, 4 मार्च 2019

बालाकोट एयर स्ट्राइक - जैश के आतंकी कैंप में करीब 300 मोबाइल थे सक्रिय:

नई दिल्ली,4-3-2019.भारतीय वायु सेना द्वारा बालाकोट में आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के ठिकानों पर की गई एयर स्ट्राइक पर उठ रहे सवालों के बीच बड़ा खुलासा हुआ है। 

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, नेशनल टेक्निकल रिसर्च ऑर्गेनाइजेशन (एनटीआरओ) के सर्विलांस में खुलासा हुआ है कि बालाकोट स्थित जैश-ए-मोहम्मद के कैंप में करीब 300 मोबाइल फोन सक्रिय थे जहां भारतीय वायु सेना ने एयर स्ट्राइक को अंजाम दिया था।

 इसी तरह के सक्रिय लक्ष्यों की जानकारी अन्य भारतीय खुफिया एजेंसियों द्वारा भी उपलब्ध कराई थी। खुफिया एजेंसियों ने सैटेलाइट के जरिए बालाकोट स्थित में जैश-ए-मोहम्मद के कैंप में काफी संख्या में आतंकियों के मौजूद होने के इनपुट दिए थे। इसी सूचना के बाद भारतीय वायु सेना ने 26 फरवरी को मिराज लड़ाकू विमानों के जरिए आंतकी कैंपों पर एयर स्ट्राइक की थी। 

इससे पहले ऐसे सवालों पर वायु सेना प्रमुख बीएस धनोआ ने कोयंबटूर में एक प्रेस कांफ्रेंस के दौरान सिलसिलेवार जवाब दिए। इस दौरान उन्होंने मिग 21 को हर लिहाज से बेहतरीन लड़ाकू विमान बताया। एयर चीफ मार्शल ने विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान को लेकर सवालों के भी जवाब दिए। उन्होंने कहा कि वायु सेना मरने वालों की गिनती नहीं करती और बालाकोट आतंकी शिविर पर हवाई हमले में हताहत लोगों की संख्या की जानकारी सरकार देगी। उन्होंने कहा कि मरने वालों की संख्या लक्षित ठिकाने में मौजूद लोगों की संख्या पर निर्भर करती है।( अमर उजाला से साभार- देश के कई अखबारों में आन लाईन है यह खास खबर)





कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें