मंगलवार, 12 मार्च 2019

चुनाव:लोकसभा 2019- महत्वपूर्ण सूचना- जानिए


श्रीगंगानगर, 12 मार्च। जिला कलक्टर श्री शिवप्रसाद मदन नकाते ने कहा कि स्वतंत्रा, निष्पक्ष एवं भयमुक्त वातावरण में लोकसभा का चुनाव सम्पन्न करवाना हम सभी की जिम्मेदारी है। चुनाव कार्य में जिस अधिकारी को जो उतरदायित्व दिये गये है, उन्हें भली प्रकार से पूर्ण किया जाना है। चुनाव जैसे कार्य में किसी तरह की लापरवाही असहनीय होगी। 

जिला कलक्टर श्री नकाते मंगलवार को एसडी महाविधालय के ऑडिटोरियम में सैक्टर अधिकारियों, पुलिस अधिकारियों, सुपरवाईजर व फ्लाईंग स्कोड के प्रशिक्षण व रवानगी के अवसर पर आवश्यक निर्देश दे रहे थे। उन्होंने कहा कि सैक्टर अधिकारी चुनाव कार्य की एक महत्वपूर्ण कड़ी है। प्रत्येक सैक्टर अफसर को लगभग 10 के आसपास मतदान केन्द्र दिये गये है। सैक्टर अधिकारी आज से ही अपने मतदान केन्द्रों का सघन निरीक्षण करेंगे। मतदान केन्द्र में मूलभूत सुविधाएं, बिजली, पानी, फर्नीचर, शौचालय इत्यादि की व्यवस्थाएं देखेंगे। सैक्टर अधिकारी के क्षेत्र वाले मतदान केन्द्रों का एक रूट चार्ट तैयार करना होगा। 

उन्होंने कहा कि सैक्टर आफिसर अपने दौरे के दौरान गांव में पटवारी, ग्राम सेवक से भी मिलेंगे तथा आमजन से बातचीत कर यह सुनिश्चित करेंगे कि कोई व्यक्ति, परिवार या समूह किसी के दवाब या प्रलोभन में है तो प्रभावित करने वाले तथा प्रभावित होने वाला दोनों का चिन्हिकरण किया जायेगा। सैक्टर आफिसर की रिपोर्ट के आधार पर अतिसंवेदनशील केन्द्रों का निर्धारण किया जायेगा तथा उसी के अनुरूप सुरक्षा जाब्ता लगाया जायेगा। 

जिला कलक्टर ने कहा कि सभी सैक्टर अधिकारियों को मजिस्ट्रेट की शक्तियां प्राप्त है। एक साथ प्रशिक्षण का मतलब चुनाव की गंभीरता को समझना है। अपने उतरदायित्वों में किसी प्रकार की कमी आने पर राजकीय सेवा में आंच आ सकती है। चुनाव में लगे अधिकारियों को ईमानदारी व संवेदनशीलता के साथ अपने कर्तव्यों को पूरा करना है। उन्होंने कहा कि फ्लाईंग स्कोड के लिये सहायक रिटर्निंग अधिकारी नाके वाले स्थान चिन्हित करेंगे। उसी के अनुरूप फ्लाईंग स्कोड को स्थान बदल-बदल कर लगाया जायेगा। 

चुनाव के दौरान 50 हजार रूपये से अधिक की राशि का परिवहन नही होगा। अधिक राशि पाये जाने पर संतोषजनक जवाब या साक्ष्य नही देने पर राशि जब्ती की कार्यवाही होगी तथा इसकी रसीद संबंधित व्यक्ति को दी जायेगी। जब्त की गई राशि सहकोष कार्यालयों व थानों में जमा की जायेगी। संबंधित व्यक्ति जिला स्तरीय समिति में अपील कर, साक्ष्य प्रस्तुत कर अपनी राशि छुडवा सकता है। 

जिला कलक्टर ने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग सी-विजिल ऐप को लेकर काफी सक्रिय है। उसी के अनुरूप हमें सक्रिय रहकर 100 मिनट में प्राप्त शिकायत का निस्तारण करना है। जिला निर्वाचन अधिकारी को शिकायत प्राप्त होने के बाद 5 मिनट में संबंधित फ्लाईंग स्कोड को प्रेषित की जायेगी। 15 मिनट में फ्लाईंग स्कोड को मौके पर पहुंचकर अपनी रिपोर्ट करनी होगी। शिकायत झूठी पाई जाने पर ड्रॉप होगी, सही होने पर उसका निस्तारण किया जायेगा। 

उन्होंने कहा कि एफएसटी के वाहनों में जीपीएस सिस्टम स्थापित किया जायेगा, जिससे प्रत्येक वाहन की लोकेशन ट्रेस की जा सकेगी। कोई भी अधिकारी अपना कार्य क्षेत्रा छोडकर नही जा सकेंगे। जिला कलक्टर ने कहा कि सैक्टर ऑफिसर मतदान दलों को रवानगी से लेकर मतदान केन्द्र तक पहुंचने, शान्तिपूर्ण मतदान करवाने तथा मतदान के पश्चात ईवीएम संग्रहण केन्द्र में जमा करवाने तक पूर्ण जिम्मेदारी रहेगी। 

इस अवसर पर अतिरिक्त जिला कलक्टर प्रशासन व उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्री ओ.पी.जैन, राजस्व अपील अधिकारी श्री राकेश शर्मा, मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री सौरभ स्वामी ने विस्तारपूर्वक चुनाव से संबंधित जानकारियां दी। उन्होंने चुनाव प्रक्रिया, मजिस्ट्रेट की शक्तियां, विभिन्न धाराओं के बारे में बताया। 

इस अवसर पर अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुश्री हरितिमा, गंगानगर एसडीएम श्री मुकेश बारहठ, रायसिंहनगर एसडीएम श्री संदीप कुमार, करणपुर एसडीएम श्री रिना छिम्पा, अनूपगढ एसडीएम श्री मनमोहन मीणा, अतिरिक्त जिला शिक्षा अधिकारी श्री सुरेन्द्र सोनी सहित जिले के समस्त एसडीएम, तहसीलदार, पुलिस अधिकारी, सैक्टर आफिसर, फ्लाईंग स्कोड व सुपरवाईजर उपस्थित थे। 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें