शुक्रवार, 8 फ़रवरी 2019

मलकाना कलां में नशा मुक्ति शिविर:पुलिस का आयोजन


श्रीगंगानगर, 8 फरवरी 2019.

 जिला पुलिस अधीक्षक श्री हेमन्त कुमार शर्मा के निर्देशानुसार पुलिस प्रशासन द्वारा स्वास्थ्य एंव शिक्षा विभाग के सहयोग से जिला स्तर पर चलाए जा रहे नशा मुक्ति अभियान के अन्तर्गत पुलिस थाना केसरीसिंहपुर द्वारा राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय मलकाना कलां में नशा मुक्ति जन जागृति कार्यशाला एंव निशुल्क नशा मुक्ति परामर्श शिविर का आयोजन किया गया। इस कार्यशाला में राजकीय उ0मा0वि0 मलकाना कलां के विद्यार्थियों सहित भारी संख्या में ग्रामीणों ने भाग लिया ।

       कार्यशाला के मुख्य वक्ता नशा मुक्ति विशेषज्ञ डॉ.रविकान्त गोयल ने इस अवसर पर कहा कि नशा हजार मुसीबतों की जड है। दिहाडी मजदूरी करने वाले अनेकों लोग अपने दिनभर की कमाई को शाम के समय नशे में बरबाद कर देते हैं तथा खाली हाथ घर जाकर गाली गलौच, मारपीट व तोडफोड करते है ऐसे लोगों के परिजन अकारण ही मारपीट, अपमान व अभाव आदि यातनाएें भोगने को मजबूर हो जाते है। डा0 गोयल ने बताया कि ऐसे व्यक्ति उनसे अपना इलाज करवाकर नशा छोड देते है जिसके फलस्वरूप उनके जीवन में सुखद परिवर्तन स्पष्ट दृष्टि गोचर होने लगते हैं एंव उनके परिवार में सुख, शांति समृद्वि संतुष्टि आदि सगुण स्थापित हो जाते हैं खुशियों एंव आशाओं के दीपक जलने लगते हैं। डा0 गोयल ने नशे से बचने, बचाने ,छोडनें, छुडवाने के सरल उपायों की जानकारी देते हुए उपिंस्थत जन समूह से नशा मुक्त समाज की रचना करने आहवान किया।

       पेरालीगल वोलन्टीयर इन्द्रमोहन सिंह जुनेजा ने अपने सम्बोधन में कहा कि नशा विनाश का ही दूसरा रूप है, नशा करने वाला अपना धन , स्वास्थ्य , सम्मान , भविष्य व अपने अच्छे साथी खो देता है तथा अभावग्रस्त होकर एकाकी जीवन जीता हुआ दर दर की ठोकरें खाने को मजबूर हो जाता है। नशे से बचाव में ही मानव की भलाई है। जुनेजा ने पुलिस द्वारा चलाए जा रहे नशा मुक्ति अभियान की जानकारी देते हुए इसकी सफलताओं पर प्रकाश डाला ।

       कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पुलिस थाना केसरीसिंहपुर के एएसआई भूराराम ने कहा कि आम लोग नशा बेचने वाले लोगों की सूचना पुलिस तक पहुंचाए ताकि समाज में जहर फैला रहे लोगों पर प्रभावी कार्यवाही की जा सके। जो लोग किसी भी कारण नशे की चपेट में आ गये हैं वे जिला पुलिस प्रशासन एंव स्वास्थ्य विभाग द्वारा संचालित पुराना राजकीय चिकित्सालय परिसर स्थित  राजकीय नशा मुक्ति परामर्श एंव उपचार केन्द्र की सेवांए लेकर नशा छोडें। 

------------

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें