गुरुवार, 28 फ़रवरी 2019

श्रीगंगानगर से बान्द्रा टर्मिनल के लिये जल्द शुरू हो सकती है ट्रेन

श्रीगंगानगर, 28 फरवरी। श्रीगंगानगर रेलवे स्टेशन से जल्द ही एक ओर नई गाडी को झंडी दिखाई जा सकती है। यह गाडी श्रीगंगानगर से मुम्बई के उपनगरीय स्टेशन बान्द्रा टर्मिनल के लिये संचालित किया जाना प्रस्तावित है। 


जेडआरयूसीसी के पूर्व सदस्य श्री भीम शर्मा ने बताया कि इस गाड़ी का प्रस्ताव इंडियन रेलवे टाईम टेबल कमेटी में पारित हो चुका है। अब इसे रेलवे बोर्ड से मंजूरी मिलनी बाकी है। उन्होंने बताया कि जो प्रस्ताव बनाकर भेजा गया था, उसके अनुसार यह गाडी सप्ताह में दो दिन संचालित होगी। श्रीगंगानगर से यह गाडी प्रत्येक मंगलवार व शनिवार को रात्रि 12.30  बजे रवाना होकर वाया हनुमानगढ़, नोहर, भादरा, सादुलपुर, चुरू, रतनगढ, सुजानगढ, मेडता रोड, जोधपुर, लूनी होते हुए गुजरात के रास्ते 1610 किलोमीटर का सफर तय कर बुधवार व रविवार को प्रातः 6.25 बजे बान्द्रा टर्मिनल पहुंचना प्रस्तावित है। वापसी में बान्द्रा टर्मिनल से प्रत्येक वीरवार व रविवार को प्रातः 8.05 बजे रवाना होकर दोपहर 2 बजे श्रीगंगानगर पहुंचना प्रस्तावित है। इसके शुरू होने से श्रीगंगानगर व चुरू जिले की जनता को गुजरात व मुम्बई के लिये सीधी रेल सेवा की सुविधा मिल सकेगी।

 उधर दूसरी ओर श्रीगंगानगर से वाया केसरीसिंहपुर, करणपुर, गजसिंहपुर, रायसिंहनगर, जैतसर, सूरतगढ़, बीकानेर के रास्ते मुम्बई के लिये सीधी दैनिक रेल सेवा का प्रस्ताव रेलवे बोर्ड के विचाराधीन है।





मंगलवार, 26 फ़रवरी 2019

मैं हूं हिन्दुस्तान, नशे में पाकिस्तान



मैं हूं हिन्दुस्तान, 
नशे में पाकिस्तान
पगलाया पाकिस्तान
हिन्दुस्तान का जब हो नाम
तब पगलाए पाकिस्तान
मेरा तिरंगा चूमे आकाश
तब पगलाए पाकिस्तान
संसार में गूंजे मेरा नाम
तब तड़पे पाकिस्तान
कहीं अध्यक्षता हो मेरी
दारूमें बहके पाकिस्तान
मेरा नारा लोग लगाएं
जमीं पर लोटे पाकिस्तान
मेरा नाम जब जब गूंजे
गरळावै पाकिस्तान
हिन्दुस्तान को सब माने
नशे में बहके पाकिसतान
मेरे साथ सूरज चमके
अंधियारे में पाकिस्तान
मैं हूं हिन्दुस्तान
पगलाया पाकिस्तान
मेरा नाम मित्रता तगड़ी


दारू में पगलाया पाकिस्तान।
मैं जब चाहूं थप्पड़ से
रसातल जाए पाकिस्तान
मैं हूं हिन्दुस्तान
नशे में मरता पाकिस्तान
पगलाया पाकिस्तान।


 

- करणीदानसिंह राजपूत
विजयश्री करणी भवन,
सूर्योदयनगरी,मिनी मार्केट
सूरतगढ़।

^^^^^^^^^^^^^^^^^^^^^^^^^
4-1-2016.
update 21-7-2016. 
update 10-8-2016.  
update 21-9-2016
update    1-5-2017.
update    25-1-2018.
Update   15- 2-2019.
Update.   26-2-2019.
*******************


मेरा तिरंगा आज भी ऊंचा-कविता-करणीदानसिंह राजपूत






कविता
 मेरा तिरंगा आज भी ऊंचा
   -  करणीदानसिंह राजपूत

मेरा तिरंगा आज भी ऊंचा
मेरे नाम की चतुर्दिक गूंज
मैं प्रगति की ओर निरंतर
आगे बढ़ता जा रहा

तुम्हारी ओछी सोच
मुझे गिराने की
मेरा नाम मिटाने की
तुम लेते रहो सपने
और एक दिन
तीर उल्टा जब खाओगे
नेस्तनाबूद हो जाओगे

तुमने कितनी बार टक्करें ली
हर बार मुंह की खाई
बेशर्मी तुम्हारे जेहन में
मात खाने को फिर पागलपन
कीड़ा तुम्हारे कुलबुलाने लगा है

सच, तम्हारे में अक्ल नहीं
मोल उधार भी तो मिलती नहीं
तुम्हारा जन्म हुआ बुद्धिहीन अवस्था में
और तुम भी तो
बुद्धि वाले पैदा नहीं कर पाए

नापाक तुम और नापाक इरादे
कच्चे कोठे से ढह जायेंगे
तुम्हे तो मरना है
आत्महत्या करके
मुझे छेड़ कर
यही तो कर रहे हो
--------------------

करणीदानसिंह राजपूत,
स्वतंत्र पत्रकार
23, करनाणी धर्मशाला,
सूरतगढ़  335 8o4
राजस्थान
94143 81356
------------------------------------------------------------
पाठकवृंद 13-8-2011 को यह कविता लिखी गई और ब्लॉग व फेस बुक पर डाली गई थी।
आज भी परिस्थितियां बदली नहीं है।


Up date 26-2-2019.
********************




सूरतगढ़ एसडीएम सीता शर्मा का तबादला

दि. 25-2-2019.

सूरतगढ़ से उपखंड अधिकारी श्रीमती सीता शर्मा का स्थानांतरण छतरगढ़ उपखंड अधिकारी पद पर हुआ है।

*******




शुक्रवार, 22 फ़रवरी 2019

केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल देश का शक्तिशाली गौरव

--------- यह रूपक 26-2-2016 को राजस्थान में आकाशवाणी के सभी केन्द्रों से एकसाथ प्रसारित हुआ था।


रूपक- करणीदानसिंह राजपूत,

23,करनाणी धर्मशाला,

सूरतगढ़।

मो.फोन. 94143 81356.

==================================================

उदघोष ध्वनि...........

ध्वनि के साथ-

पुरूष आवाज-राजस्थान की रण विजेता धरती के श्रीगंगानगर जिले के विश्व विख्यात सूरतगढ़ में सूर्याेदयनगरी क्षेत्र में इंदिरागांधी नहर की टिब्बा कॉलोनी है।


नारी -आवाज-इस कॉलोनी के एक तरफ आकाश छूते रेतीले टिब्बे हैं और दूसरी ओर मैदानी लहलहाते खेत।


पुरूष आवाज-यह एक ऐसा क्षेत्र है जहां देश के लिए कुछ कर गुजरने का जोश पैदा होने लगता है।


नारी आवाज-कुछ कर गुजरने की कहानी....रोमांचित होने की कहानी। देश के गौरव की कहानी हर कोई सुनना चाहेगा।


पुरूष आवाज-यह कहानी है सीआरपीएफ की कहानी। केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल की कहानी... जिसमें साधारण जवानों को विभिन्न तरह की ट्रेनिंग से सुदृढ जवानों में ढाल दिया जाता है।


नारी आवाज-ये जवान देश के विभिन्न क्षेत्रों में विभिन्न राज्यों में विभिन्न प्रकार की सुरक्षा सेवाओं में बुलंद हौंसले और जोश के साथ कर्तव्य पर डट जाते हैं।


पुरूष आवाज-ध्यान से सुनें यह केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल की कहानी जो कल आपके  या किसी के भी परिवार को नया रास्ता दिखलाने वाली हो सकती है।


नारी आवाज-सूर्याेदय की पहली किरण के साथ ही भारत माता के जय घोष और सीआरपीएफ सदा अजेय के नारों के साथ शुरू होती है ट्रेनिंग।


पुरूष आवाज- कदम ताल.... दाएं बाएं.... दाएं बाए.... लेफ्ट राईट...लेफ्ट

राईट...दौड़...कूद...ऊंची कूद...लम्बी कूद...। दौड़।


नारी आवाज- संपूर्ण मैदान में जवानों की हलचल शुरू हो जाती है।


पुरूष आवाज-सच में यह ड्रिल देखने वाली होती है। एकटक देखते रहें और इतना खो जाएं कि समय का ध्यान ही नहीं रहे।


नारी आवाज- यही तो खासियत होती है जो जवानों को सुदृढ जवानों में ढाल देती है।


पुरूष आवाज-ये ड्रिल कौन कौनसी होती है और किस तरह के कर्तव्यों या ड्यूटी में काम आती हैं। इसकी जानकारी जरूरी है कि आखिर केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल को किस तरह के कार्य करने होते हैं।


नारी आवाज- भीड़ नियंत्रण जो कभी साधारण नहीं होती। समारोहों की भी भीड़ हो सकती है तो दंगाईयों की भीड़ भी हो सकती है। लाठी पत्थरों वाली भीड़ भी हो सकती है और हथियारों वाली भीड़ भी हो सकती है। यानि कि दंगाईयों की भीड़। जिसका नियंत्रण भी करना होता है।


पुरूष आवाज- आतंकवाद विरोधी आपरेशन में भी ड्यूटी होती है।


नारी आवाज- वाम चरम पंथ से निपटने का कार्य भी बड़ी होशियारी से करना होता है।

पुरूष आवाज- देश में कहीं न कहीं चुनाव भी होते रहते हैं। इनमें बड़े चुनाव में मतदान के वक्त जहां पर संवेदनशील इलाके हों...तनाव वाले इलाके हों...वहां ड्यूटी करना और बड़े पैमाने पर सुरक्षा व्यवस्था का कार्य करना होता है।


नारी आवाज-अति विशिष्ट लोगों की सुरक्षा का प्रबंध करना होता है।


पुरूष आवाज- अति विशिष्ट स्थलों की सुरक्षा का दायित्व भी सौंपा जाता है।


नारी आवाज - युद्धकाल में आक्रमण से बचाव का कार्य।


पुरूष आवाज- संयुक्त राष्ट्र संघ के शांति मिशन में भी जरूरत होने पर शामिल होने की ड्यूटी हो सकती है।


नारी आवाज- प्राकृतिक आपदाओं के समय बचाव व राहत कार्यों में ड्यूटी। भूकम्प बाढ़ और अन्य प्रकार की आपदाएं भी हो सकती हैं।


पुरूष आवाज- हमारे देश में कहीं पहाड़ कहीं रेतीले और कहीं दुर्गम जंगली वन क्षेत्र..जहां पर पर्यावरण सुरक्षा और जीवों की सुरक्षा में भी ड्यूटी लग सकती है।


नारी आवाज- यानि कि अलग अलग रोमांच को अनुभव करने की ड्यूटियां....वाह कितनी शानदार और जानदार रहती हैं ये ड्यूटियां।


पुरूष आवाज- जब इतनी प्रकार की दुरूह कर्तव्यों पर दिन रात सेवाएं होती हैं तो निश्चित है कि ये सभी ड्यूटियां आधुनिक हथियारों व साधनों के बिना नहीं हो सकती। जवानों व अधिकारियों को क्या क्या सीखना और अपने पास में रखना होता है।


नारी आवाज-प्रशिक्षण में मनोबल और हथियार दोनों काम देते हैं।


पुरूष आवाज- जवानों के पास आधुनिक हथियार और उनको चलाने का प्रशिक्षण। ऐसे उपकरण जिनसे रात्रि में देखा जा सके। उच्च तकनीक वाले रेडियो संपर्क उपकरण। इलाके की भौगोलिक स्थिति, नक्शे समझने और वनों की जानकारी। इन सबको ध्यान में रख कर प्रशिक्षण पाठ्यक्रम तैयार किया जाता है। बैंड की ध्वनि के साथ...


पुरूष आवाज- केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल आज विश्व का सबसे बड़ा अद्र्ध सैनिक बल है। विश्व के बड़े लोकतांत्रिक भारत देश में आवश्यकता के अनुरूप सेवाओं में ढाल कर यह बल कर्तव्य निर्वहन करता है। इसके कर्तव्यों की कई जानकारियां आपने सुनी लेकिन राज्यों की आवश्यकता के अनुसार भी यह बल अपनी सेवाएं देता है। इन्हीं सेवाओं के अनुरूप ही प्रशिक्षण व अभ्यास यानि कि ड्रिल करवाई जाती है।

ड्रिल की आवाजें विभिन्न ध्वनियां....


नारी आवाज- यूनिफार्म ड्रिल,हथियार ड्रिल, वाहन ड्रिल,रात्रि ड्रिल,खेल कूद ड्रिल आदि। इसके अलावा हेलि स्लिंदरिंग का अभ्यास आत्म विश्वास बढ़ाने के लिए कराया जाता है जिसमें जँगल में रहने का प्रशिक्षण कराया जाता है।


पुरूष आवाज- इस पुलिस बल की स्थापना देश की आजादी से पहले 27 जुलाई 1939 के दिन मध्यप्रदेश के नीमच स्थान पर हुई थी। उस समय इसका नाम क्राउन रिप्रजेन्टेटिव पुलिस था। आजादी के बाद 28 दिसम्बर 1949 को इसका नाम बदल कर केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल कर दिया गया। आजादी के बाद इसके कर्तव्य में बदलाव आ गया और बहुआयामी सेवाओं में इसने सदैव अपनी दक्षता का उच्च कोटि का परिचय दिया।


नारी आवाज-चाहे वाम पंथी उग्रवादियों का क्षेत्र हो,चाहे पूर्वाेत्तर का खतरनाक पहाड़ी इलाका हो,चाहे पंजाब के कट्टर उग्रवादी हों,चाहे जम्मू कश्मीर में पनप रहे आतंकवादी हों,हर खतरनाक जान जोखिम संघर्ष में केन्द्रीय रिजव पुलिस बल ने अपना उत्तरदायित्व बखूबी निभाया।


पुरूष आवाज- अमरनाथ यात्रा,जम्मू कश्मीर आँदोलन,कंधमाल जैसी घटना हो,सभी में केन्द्रीय रिजव पुलिस बल की भूमिका सराहनीय रही है।

नारी आवाज-केन्द्रीय रिजव पुलिस बल आज तीन अति कठिन इलाकों पूर्वाेत्तर विद्रोह,जम्मू कश्मीर आतंकवाद और वामपंथी उग्रवाद यानि कि नक्सलियों से प्रभावित क्षेत्र में ड्यूटी पर लगी हुई है।

नारी आवाज- नक्सलवादियों से प्रभावित क्षेत्र में सबसे अधिक ध्यान देना पड़ता है जहां पर इलाकाई जटिलताएं गंभीर है। नक्सलवादी आम नागरिकों पर,पुलिस पर और गश्ती दलों पर घात लगा कर हमले करते रहे हैं। वे लोग राष्ट्रीयता से दूर अपनी निम्र सोच के अनुसार आम नागरिकों को विकास से दूर रखना खहते हैं। लोगों के जीवन पर अपना अधिकार बनाए रखना चाहते हैं। ऐसी स्थिति में कोई भी सरकार अपने नागरिकों का जीवन खतरे में नहीं डाल सकती।

पुरूष आवाज-  केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल की नियुक्ति से नक्सलवादियों के हमले कम हुए हैं तथा आम नागरिकों के मारे जाने की संख्या भी कम हुई है।


नारी आवाज- केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल नक्सलवादियों से गैर कानूनी हथियार बरामद करने में भी सफल रही है।


पुरूष आवाज- केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल के विशेष संगठन कोबरा कमांडो को 24 नवम्बर 2011 के आक्रामक अभियान में बड़ी सफलता मिली थी। दुरूह इलाकों में जहां पर नागरिक प्रशासन व पुलिस प्रशासन नहीं पहुंच पाया था वहां पर कोबरा कमांडो ने पहुंच कर आक्रामक कार्यवाही की जिससे नक्सली भाग खड़े हुए। इस प्रकार के इलाकों में आम नागरिकों के लिए अनेक प्रकार की सुविधाएं देने दिलाने में भी केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल का विशेष सहयोग रहता है।


नारी आवाज- बुनियादी प्रशिक्षण के बाद अनेक प्रकार के विशेष प्रशिक्षण

दिए जाते हैं जिनके कारण ही कोबरा कमांडो आदि को सफलता मिलती है और केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल सदा अजेय का नारे की गगनचुम्बी गूंज होती है।


पुरूष आवाज- केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल ने पाकिस्तान के साथ हुए दो युद्धों 1965 और 1971 में अपनी उच्च कोटि की ड्यूटी देकर शौर्य दिखलाया।


नारी आवाज-संसद भवन पर 13 दिसम्बर 2001 को आतंककारी हमले में केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल ने अपनी इसी शौर्य एवं वीरता का अनूठा परिचय दिया और इतिहास में नाम लिखाया। केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल ने केवल 30 मिनट के अल्प समय में 5 आतंकवादियों को मार गिराया और हमारे जप प्रतिनिधियों व वहां कार्यरत अधिकारियों व कर्मचारियों की रक्षा की।


पुरूष आवाज- केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल को इसीलिए अनेक प्रकार के

प्र्र्र्रशिक्षण दिए जाते हैं। प्रशिक्षण में जितना अधिक पसीना बहाऐंगे,युद्धकाल व अन्य खतरनाक हालातों में उतना ही कम खून बहाना पड़ेगा। यह भी संभव है कि खून बहाए बिना ही आतंकवादियों,उग्रवादियों व नक्सलवादियों की सफलता से पकड़ हो और उन पर अंकुश लगे।


नारी आवाज- जवानों की ट्रेनिंग कभी खत्म नहीं होती। सदा अजेय रहने के लिए सदा नए नए प्रशिक्षण चलते ही रहते हैं।


पुरूष आवाज- सीआरपीएफ के जवानों के रोमांचकारी स्टंट प्रदर्शन भी देखने वाले दांतो तले अंगुलियां दबा लेते हैं। जवान की छाती रखा शिलाखंड तोडऩा। जवान की छाती पर से मोटरसाईकलों का गुजरना। आग के गोले में से छलांग लगाना आदि अनेक स्टंट प्रदर्शन।

 -समापन-

::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::


बुधवार, 20 फ़रवरी 2019

सूरतगढ़ पुलिस ने नकली नोट छापने वाला मुखिया गिरफ्तार किया


* करणी दान सिंह राजपूत*

 तीन राज्यों राजस्थान पंजाब हरियाणा में नकली नोट का धंधा करने वाले गिरोह के तीन जनों की गिरफ्तारी के बाद सूरतगढ़ पुलिस को बहुत बड़ी कामयाबी मिली है। इस गिरोह का मुखिया सुरजीत निवासी हुडीना( महेंद्रगढ-हरियाणा )को पुलिस ने नारनौल हरियाणा से गिरफ्तार किया।

इसके घर से नकली नोट छापने की सामग्री प्रिंटर इंक कागज नंबरिंग मशीन आदि पुलिस पहले बरामद कर चुकी थी।नकली नोट भी 20 हजार रूपये छपे हुए बरामद हुए थे। सूरतगढ़ के थाना अधिकारी पुलिस इंस्पेक्टर निकेत कुमार पारीक ने बताया कि 13 फरवरी को मुकदमा दर्ज किए जाने के बाद तत्परता से बनाई गई टीम और तत्परता से हुए कार्य से गिरफ्तारियां हुई जिसके कारण बहुत बड़ा अपराध इस क्षेत्र में पकड़ा गया। अभी मुखिया को गिरफ्तार किया गया है जिसका 22 फरवरी तक अदालत से रिमांड प्राप्त हुआ है।

आगे अनुसंधान में और कार्यवाही होने की पूर्ण संभावना है।

सूरतगढ़ में 2000 के नकली नोट प्रचलन में आने की सूचना पर पुलिस ने सूरतगढ़ के अश्विनी पुत्र प्रसाद गिरी और मोहम्मद हुसैन को पकड़ा इनसे 40,000 के नकली नोट बरामद हुए।इसके बाद अबोहर के अंग्रेज सिंह को पकड़ा और 20 के नोट बरामद हुए। इसका एक समाचार अलग से इसी साइट पर चल रहा है।

सोमवार, 18 फ़रवरी 2019

सांसद निहाल चंद कोटे की राशि सदुपयोग करने में राजस्थान में प्रथम

* करणीदानसिंह राजपूत *

राजस्थान के 25 संसदीय क्षेत्रों में गंगानगर के सांसद एवं पूर्व केन्द्रीय राज्यमंत्री श्री निहालचंद ने सर्वाधिक राशि का उपयोग विकास व निर्माण कार्यों में किया है। 

जिला परिषद से मिली जानकारी के अनुसार गत 5 वर्षों में प्रत्येक सांसद को सांसद क्षेत्र  विकास योजना में 25-25 करोड़ रूपये की राशि निर्माण व विकास के लिये दी गई थी। सांसद श्री निहालचंद ने दिसम्बर 2018 तक 25 करोड़ में से 22.5 करोड़ रूपये की राशि का सदुपयोग कर राज्य में पहला स्थान प्राप्त किया है। इसी प्रकार देश में 40वां स्थान रहा है। श्री निहालचंद ने छत्तीस प्राईवेट बिलों में से तीन बिल स्वयं प्रस्तुत कर 23वीं रैंक प्राप्त की है। इसी प्रकार संसद में उपस्थिति 89.19 प्रतिशत रही, जो उपस्थिति की 40वीं रैंक है। श्री निहालचंद द्वारा संसद में लगभग 37 बार विभिन्न महत्वपूर्ण विषयों पर बहस की गई। 

रविवार, 17 फ़रवरी 2019

कश्मीर के हुर्रियत व अलगाववादी नेताओं की सुरक्षा हटी. हर साल करोड़ों खर्च करती थी सरकार

जम्मू कश्मीर के पुलवामा में आतंकी हमले के बाद केंद्र सरकार की सख्ती के बाद जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने हुर्रियत और अलगाववादी नेताओं की सुरक्षा हटा ली है। 

गृहमंत्रालय के आदेश के बाद कश्मीर के हुर्रियत और अलगाववादी नेता मीरवाइज उमर फारूक, अब्दुल गनी बट्ट, बिलाल लोन, फजल हक कुरैशी, शब्बीर शाह की सरकारी सुरक्षा हटा ली गई है। सुरक्षा के साथ-साथ उन्हें मिल रही सारी सरकारी सुविधाएं छीन ली गई है। 

पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद सरकार ने यह बड़ा फैसला किया। इस हमले में देश से अपने 40 जवानों को खो दिया। 

 केंद्र सरकार इन अलगाववादी और हुर्रियत नेताओं की सुरक्षा पर करोड़ों रूपये खर्च करती है। 

 पिछले साल छपी एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक केंद्र सरकार ने पिछले 10 सालों में जम्मू कश्मीर के हुर्रियत नेताओं की सुरक्षा पर करीब 11 करोड़ रुपए खर्च किए हैं। हुर्रियत के 14 नेताओं पर सरकार ने साल 2008 से लेकर साल 2017 के बीच सुरक्षा मद में 11 करोड़ की मोटी रकम खर्च की। हुर्रियत के कई नेताओं को 5 सिक्योरिटी गार्ड और 4 पर्सनल सिक्योरिटी ऑफिसर मिले हुए थे,जिसे सरकार ने अब हटा लिया है।


हुर्रियत नेता उमर फारूख पर साल 2015 में  सुरक्षा पर 34 लाख रुपए खर्च किए गए तो साल 2016 में 36 लाख रुपए और साल 2017 में  37 लाख रुपए खर्च कर दिए। 

साल 2015 से 2017 के बीच हुर्रियत नेता प्रोफेसर अब्दुल गनी बट की सुरक्षा और ट्रांसपोर्टेशन पर करीब 2.15 करोड़ रुपए खर्च किए गए। 

जबकि इसी दौरान आगा सैयद हसन मौलवी, मौलवी अबास अन्सारी और बिलाल गनी लोन की सुरक्षा पर 1 करोड़ रुपए खर्च किए गए।


पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद सरकार ने कश्मीर के इन हुर्रियत नेताओं की सुरक्षा और सरकारी सुविधाएं हटा ली है। 


श्रीगंगानगर लोकसभा सीट:भाजपा टिकट:अशोक आसेरी भी दावेदार(गैर मेघवाल)


श्री गंगानगर लोकसभा चुनाव 2019 के लिए इस बार भारतीय जनता पार्टी की टिकट के लिए चर्मकार समुदाय के भाजपा नेता इंजीनियर अशोक कुमार आसेरी ने भी दावा किया है।


 श्री गंगानगर लोकसभा सीट पर  करीब 18 लाख 50 हजार वोट है जिनमें  31-32 प्रतिशत करीब 6 लाख वोट अनुसूचित जाति वर्ग के हैं।



(मेघवाल समाज)


 मेघवाल समुदाय के सूरतगढ़ विधानसभा क्षेत्र में 17 से 19 हज़ार रायसिंहनगर में 12 से 14 हजार श्रीकरणपुर में  12 से 14 हजार श्रीगंगानगर में 15 हजार संगरिया में 10 हजार  पीलीबंगा में 25 हजार हनुमानगढ़ में 15 हजार सादुलशहर में 15 हजार हैं।

 अनुमान है कि 127000 मेघवाल वर्ग के वोट हैं जिन्हें अधिकतम माना जाए तो 140000 के करीब है।

 इनमें करीब मतदान 90,000 का होता है। 


(चर्मकार वर्ग)

(मोची खटीक रेगर सांसी आदि)


 सूरतगढ़ विधानसभा क्षेत्र में 4000 रायसिंहनगर में  7000 श्रीकरणपुर 4000 श्री गंगानगर में  35000 संगरिया में 8000 पीलीबंगा में 15000 हनुमानगढ़ में 5000 सादुल शहर में 4000 करीब हैं जो कुल  82000 वोट है। मतदान में 50000 वोट पड़ते हैं।


इस बार भी भारतीय जनता पार्टी को  वोट मोदी के नाम से ही मिलेंगे इसलिए चर्मकार वर्ग ने भी अपना दावा शक्तिशाली तथ्यों से पेश किया है।

कि टिकट चर्मकार वर्ग में से दी जाए।


इस दावे के अंदर यह मानना है कि विधानसभा चुनाव 2018 में बीकानेर संभाग में 5 विधानसभा क्षेत्र आरक्षित थे। जिनमें दो सुजानगढ़ और खाजूवाला मेघवाल समुदाय को दिए गए और यह दोनों सीटें भारतीय जनता पार्टी हारी।  गैर मेघवाल समुदाय में 3 सीटें दी गई जो सभी जीती, जिनमें पीलीबंगा में धर्मेंद्र मोची चर्मकार वर्ग  जीते। रायसिंहनगर से बलवीर लूथरा रामदासिया वर्ग से जीते। अनूपगढ़ से श्रीमती संतोष बावरी बावरी वर्ग से जीती। श्री गंगानगर 8 विधानसभा क्षेत्रों में से दो रिजर्व है रायसिंहनगर और अनूपगढ़ दोनों पर गैर मेघवाल जीते।


अब आप देखिए कि मेघवाल समुदाय से दो व्यक्ति जो कि अन्य पार्टियों के थे वह पराजित हुए। पीलीबंगा से कांग्रेस के विनोद गोठवाल  हार गए। रायसिंहनगर से शोपत मेघवाल खड़े हुए मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी की तरफ से जो हारे। 


दावे अपने अपने स्तर से अलग अलग हैं श्री गंगानगर सीट पर इस बार यह दावा चर्मकार वर्ग से अशोक आसेरी जीनगर ( मोची) ने प्रस्तुत किया है। करीब 48 वर्षीय अशोक आसेरी क्षेत्र में समाज सेवा में और राजनीति में लोकप्रिय माने जाते हैं। भाजपा के हर अभियान में सक्रिय रहने वाले अशोक आसेरी अन्य सामान्य वर्ग में भी लोकप्रिय हैं।

************



शनिवार, 16 फ़रवरी 2019

सूरतगढ़ में नकली नोट गिरोह के 3 गिरफ्तार:राजस्थान, पंजाब हरियाणा में सक्रिय:1,20,000 के नकली नोट बरामद.

***** करणीदानसिंह राजपूत *


- एक सूरतगढ़, एक सरदार गढ का शामिल- 


पुलिस को सूरतगद शहर में पिछले कुछ दिनों से 2000 रूपये के 2 नकली नोट बाजार में  प्रचलन मे आने की सूचना मिली थी।

 इस पर तुरंत ही पर हेमन्त शर्मा पुलिस अधीक्षक  श्री गंगानगर व सुरेंद्र सिंह अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री गंगानगर एवम  सीओ सूरतगद को सूूचित किया गया और उनके निर्देशानुसार थानाधिकारी निरीक्षक निकेतकुमार पारीक के नेतृत्व मे एक टीम गठित की गई।


 टीम ने सुखबीर की सूचना पर कार्यवाही करते हुए अश्वनी कुमार पुत्र श्री प्नसाद गिरी जाति गुंसाई उम्र 28 साल निवासी वार्ड नम्बर 6 सूरतगढ एवम मोहम्मद हुसेन पुत्र नूरहसन जाति मुसलमान उम्र 36 साल निवासी सरदारगढ पुलिस थाना जैतसर हाल निवासी वार्ड नम्बर 6 सूरतगढ एवं अजीत नगर धान मण्डी के पीछे अबोहर पुलिस थाना सीटी अबोहर पंजाब के अंग्रेज सिंह के कब्जा से कुल 40,000 रूपये के नकली नोट बरामद कर मुकदमा न० 45 दिनाक 13-2-2019 दर्ज करया।

 दौराने अनुसंधान मोहमद हुसैन की इत्तला से मुलजिम अंग्रेजसिह पुत्र हंसासिह जाति मजबी सिख उम्र 34 साल निवासी उतम नगर गली न० 3 पुरानी फाजिल्लका रोड वार्ड न० 32 अबोहर पुलिस थाना सिटी अबोहर जिला फाजिल्का पंजाब को गिरफतार कर अंग्रेजसिह के कब्जे से 20,000 रूपये के नकली नोट बरामद किये ।


 अंग्रेजसिह ने पूछताछ मे उक्त नकली नोट सुरजीत कुमार पुत्र  केसरा राम जाति चमार निवासी हुडीना जिला महेन्द्रगढ हरियाणा के घर से लेकर आना बताया। यह भी बताया कि सुरजीत कुमार अपने घर पर ही नकली नोट तैयार करता है।

अंग्रेजसिह की सुचना पर कार्यवाही करते हुए सुरजीत कुमार के घर दबिश दी। सुरजीत कुमार घर पर नही मिला। उसके घर से 40,000 के नकली नोट तथा नोट छापने की सामग्री एक रंगीन प्रिंटर , एक महात्मा गांधी के चित्र लगी मोहर,एक नम्बरिंग मशीन, एकेलिक पेंट की शीशी व दो तरह के  सफेद कागज बरामद हुऐ । 

मुलजिम अशवनी के घर से 20,000 के  नकली नोट और बरामद हुए।

 इस प्रकार अब तक इस कार्यवाही में  कुल 1,20,000 रूपये के नकली नोट बरामद हुऐ है। ये सभी नोट 2000-2000 के हैं।

मुलजिम मोहम्मद हुसेन, अश्वनीकुमार एवम अंग्रेजसिह पुलिस रिमाण्ड पर है जिनसे और अनुसंधान जारी है।

टीम के सदस्य… निकेतकुमार मु०नि० थानाधिकारी सूरतगढ शहर , लक्ष्मणसिंह एएसआई. ,इन्द्राज कानि:, टिकमचन्द कानि, देबीलाल कानि, हनुमान कानि, नागरमल कानि ।

******






सूरतगढ़ पालिका कर्मियों द्वारा शहीद सीआरपीएफ जवानों को मौन श्रद्धाजंलि


 जम्मू कश्मीर के पुलवामा में शहीद हुए सीआरपीएफ के जवानों को आज नगर पालिका कर्मचारियों के द्वारा श्रद्धांजलि अर्पित की गई।

 श्रद्धांजलि कार्यक्रम में पालिका अध्यक्ष श्रीमती काजल छाबड़ा, पूर्व पार्षद सुनील छाबड़ा,पार्षद ओम अठवाल, अधिशासी अधिकारी लालचंद सांखला व अन्य अधिकारी कर्मचारियों ने भाग लिया।

शहीदों को  2 मिनट का मौन रखकर श्रद्धांजलि अर्पित की गई।

शुक्रवार, 15 फ़रवरी 2019

सीमांत क्षेत्र के लिये महत्वपूर्ण योजनाः- जिला कलक्टर

श्रीगंगानगर, 15 फरवरी। जिला कलक्टर श्री शिवप्रसाद मदन नकाते ने कहा कि सीमांत क्षेत्र विकास योजना सीमा क्षेत्र के गांवों के लिये एक महत्वपूर्ण योजना है, जो राजस्थान के सीमा से लगे चार जिलों में इस योजना के तहत विकास के कार्य करवाये जाते है। श्रीगंगानगर जिला कृषि जिला होने के कारण सीमा के नजदीक तक हमारे गांव व ढाणियों बसी हुई है। बीएडीपी के निर्माण व विकास कार्यों से आमजन के साथ-साथ सुरक्षा बलों को भी विकास कार्यां का लाभ मिलता है। 

जिला कलक्टर शुक्रवार को कलेक्ट्रेट सभाहॉल में सीमांत क्षेत्र विकास योजना के वर्ष 2019-20 के प्लान के लिये सीमा से 0 से 10 किलोमीटर के क्षेत्र में विकास कार्यों से संबंधित बैठक में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि अत्यधिक जरूरत के कार्य 10 किलोमीटर से थोडा बाहर निकलकर भी लिये जा सकते है। बैठक में गंगानगर विधायक श्री राजकुमार गोड व जिला प्रमुख श्रीमती प्रिंयका श्योरान ने भी सीमा क्षेत्र में करवाये जाने वाले निर्माण व विकास कार्यों के संबंध में अपने सुझाव रखें। 

जिला कलक्टर ने बताया कि प्रथम प्राथमिकता में विकास कार्यों के लिये 29.59 करोड़ तथा द्वितीय प्रथमिकता विकास कार्यों के लिये 14.79 करोड़ रूपये की राशि के प्रस्ताव तैयार कर राज्य सरकार के माध्यम से भारत सरकार को भेजे जायेगें। उन्होंने बताया कि प्राप्त राशि 44.38 करोड़ की राशि में से 10 प्रतिशत राशि सुरक्षा बलों के लिये विकास कार्यों पर खर्च की जायेगी। 60 प्रतिशत राशि से पेयजल, चिकित्सा, शिक्षा, महिला बाल विकास, समाज कल्याण से संबंधित विकास कार्यों को लिया जायेगा। इसके अलावा शेष राशि से सड़क, भवन व अन्य विकास कार्य लिये जा सकते है।

बैठक में सुरक्षा बलों की ओर से 51 लाख रूपये की राशि के प्रस्ताव दिये गये है। जिले की विभिन्न पंचायत समितियों के माध्यम से प्रथम प्राथमिकता में गंगानगर पंचायत समिति ने 328.71 लाख, करणपुर पंचायत समिति ने 603.76 लाख, रायसिंहनगर पंचायत समिति ने 483.01 लाख, अनूपगढ़ ने 778.18 लाख, घडसाना पंचायत समिति ने 764.76 लाख रूपये की राशि के प्रस्ताव दिये है। इसी प्रकार दूसरी प्राथमिकता में गंगानगर पंचायत समिति ने 164.36 लाख, करणपुर पंचायत समिति ने 301.88 लाख, रायसिंहनगर पंचायत समिति ने 241.51 लाख, अनूपगढ़ ने 359.09 लाख, घडसाना पंचायत समिति ने 382.38 लाख रूपये की राशि के प्रस्ताव प्रस्तुत किये है। 

गंगानगर विधायक श्री राजकुमार गौड ने कहा कि गर्मी के मौसम में पेयजल की ज्यादा मांग रहती है। आमजन को स्वच्छ पेयजल मिले, इसके लिये पेयजल परियोजनाओं पर अधिक ध्यान दिया जाये। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रा में अधिकांश पेयजल परियोजनाओं में फिल्टर काम नही करते तथा ग्रामीणों को सीधा ही रॉ वाटर सप्लाई किया जाता है, जो स्वास्थ्य के लिये अनुकूल नही है। 

बैठक में जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री अजीत सिंह, उपवन संरक्षक श्री पंयोग शशि, पेयजल विभाग के अधीक्षण अभियंता श्री अशोक गुप्ता, विधुत विभाग के अधीक्षण अभियंता श्री के.के.कस्वा एवं सुरक्षा बलों के अधिकारियों सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

-----------



गुरुवार, 14 फ़रवरी 2019

मदनलाल कस्वां : न फोनकॉल आती न नहर में गिरते- होनी होकर रहती है

-- करणीदानसिंह राजपूत --




नौ फरवरी रात के करीब आठ बजे भयानक शीत में मदनलाल कस्वां को मोबाइल पर काल आई और वे बात करते करते नहर में फिसल गए। मोबाइल काल न आती और न नहर में  गिरते। इंदिरा गांधी नहर की बुर्जी नं 285 पर यह दुर्घटना हुई। सर्दी में भयानक ठंडे पानी और बहाव में गिरने के बाद संभावना भी कितनी की जाए?यहां आकर आदमी कह उठता है कि होनी को कोई टाल नहीं सकता।

वह काल कहां से आई और इतनी चली कि उसमें ऐसी क्या बात रही जिसमें खोकर कस्वां नहर किनारे चले गए और फिसल गए। न काल आती न यह दुर्घटना होती। 


सोमवार, 11 फ़रवरी 2019

श्रीगंगानगर से दिल्ली को कम किराए की ट्रेन मंजूर

**तिलक ब्रिज सादुलपुर ट्रेन को श्रीगंगानगर विस्तार को मंजूरी**

*सांसद निहालचंद जल्द दिखायेंगे हरी झण्डी, रेलवे बोर्ड ने जारी किया नोटिफिकेशन*

श्रीगंगानगर, 11 फरवरी। इलाके की जनता को कम किराये में दिल्ली के लिये एक ओर रेल सेवा की सौगात जल्द ही मिलने जा रही है। यह रेलगाड़ी पूरी तरह से ओवरनाईट पेसेंजर रेल सेवा होगी। इसे रेलवे बोर्ड से मंजूरी मिल चुकी है। रेलवे बोर्ड के ईडी कोचिंग श्री आशीष कुमार ने इस गाड़ी के विस्तार का नोटिफिकेशन जारी कर दिया है। रेल प्रशासन अब इसके लिये रैक की व्यवस्था कर रहा है। उसके बाद पूर्व केन्द्रीय राज्यमंत्री एवं सांसद श्री निहालचंद श्रीगंगानगर रेलवे स्टेशन से इसे झण्डी दिखाकर रवाना करेगें।

संभवतः अगले सप्ताह यह गाड़ी

श्रीगंगानगर से रवाना हो जायेगी।  जेडआरयूसीसी के पूर्व सदस्य श्री भीम शर्मा ने बताया कि पूर्व केन्द्रीय राज्यमंत्री एवं सांसद श्री निहालचंद को इस संबंध में विगत अगस्त माह में प्रस्ताव तैयार करके दिया था। जिसके बाद सांसद रेलवे बोर्ड के सदस्य यातायात श्री गिरिश पिल्लई से मिले थे। प्रस्ताव के अनुसार दिल्ली के उपनगरीय स्टेशन तिलक ब्रिज से सादुलपुर जंक्शन के मध्य चलने वाली गाड़ी संख्या 54011/54012 को श्रीगंगानगर तक विस्तारित करने के प्रस्ताव के अंतर्गत उतर रेलवे से अतिरिक्त रैक की मांग के साथ इस गाड़ी को श्रीगंगानगर तक विस्तारित करने की मांग की गई थी। इस गाड़ी के श्रीगंगानगर तक विस्तारित होने के बाद  जनता को पहली बार दिल्ली के लिये सीधी रेल सेवा की सुविधा उपलब्ध होगी, वहीं इस क्षेत्र के लोगों को भी हरियाणा के अन्य नगरों के लिये सीधी रेल सेवा की सुविधा मिल पायेगी। 

इन स्टेशनों पर होगा ठहराव

श्रीगंगानगर से रवाना होने के बाद यह गाड़ी सादुलशहर, हनुमानगढ़ जंक्शन, हनुमानगढ टाउन, टीबी, ऐलनाबाद, नोहर, भादरा, सिद्धमुख, सादुलपुर, हरपालू, रामपुराबेरी, परवेजपुर, लुहारू, सुहासड़ा, सतनाली, नावां, नांगल डकरोटा, जैरपुर पाली, महेन्द्रगढ, भोजावास, गुडाकेमला, कनीनाखास, डहीना जैनाबाद, नांगलमूंदी, रेवाड़ी, कुम्भावास मुंडलिया डाबड़ी, खलीलपुर, इंछापुरी, जटोला जोड़ी सांपका, ताजनगर, पातली, गढी हरसरू, बसई धनकोट, गुडगाव, बीजवासन, पालम, दिल्ली केंट, पटेलनगर, दयाबस्ती, विवेकानंदपुरी हॉल्ट, दिल्ली किशनगंज, नई दिल्ली व शिवाजी ब्रिज (दिल्ली) स्टेशनों पर ठहराव करेगी। 


स्लीपर कोच भी होगेंं 

इस गाड़ी में यात्रियों की सुविधा के लिये 4 स्लीपर कोच भी लगाये जा रहे है। इसके अलावा 16 जनरल कोच व दो एसएलआर सहित यह गाड़ी कुल 22 कोच की होगी। 

समय सारणी जारी

श्रीगंगानगर से गाड़ी संख्या 54012 श्रीगंगानगर-तिलक ब्रिज पेसेंजर प्रतिदिन रात्रि 8.30 बजे रवाना होकर अगले दिन सुबह 9.10 बजे तिलक ब्रिज (दिल्ली) पहुंचेगी व वापसी में गाड़ी संख्या 54011 तिलक ब्रिज-श्रीगंगानगर पेसेंजर गाड़ी सायं 5.45 बजे रवाना होकर अगले दिन प्रातः 6.25 बजे श्रीगंगानगर पहुंचा करेगी।स्टेशनों की समय सारणी जल्द जारी होगी। 

कविताओं के रंगों में रंगी बंसत पंचमी

* स्वामी केशवानंद ज्ञानालय में उठी राजस्थानी भाषा मान्यता की मांग*

ज्ञानालय को भेंट की गई एक दर्जन पुस्तकें

गोलूवाला

स्वामी केशवानंद ज्ञानालय में बसंत पंचमी के अवसर पर कवि गोष्ठी का आयोजन किया गया।

चौटाला के नवोदित रचनाकार अंकित ने सूरज कविता प्रस्तुत कर कार्यक्रम की शुरुआत की।व्याख्याता डॉ. दयाराम वर्मा ने बसंत पंचमी पर अपनी कविता "मेरे लिए तुम ही सब कुछ हो" प्रस्तुत की।सुखवीर सिंह त्यागी ने सम सामयिक मुद्दों पर अपनी कविताएं प्रस्तुत की।

बहलोलनगर के युवा राजस्थानी कवि हरीश हैरी ने अपनी राजस्थानी कविताएं प्रस्तुत की।हैरी ने राजस्थानी भाषा को संविधान की आठवीं अनुसूची और राज्य स्तर पर राजस्थानी को राजभाषा घोषित करने की मांग उठाई। युवाओं से आह्वान किया की हर प्रदेश ने अपने राज्य में भाषा की बाड़ लगा रखी है परंतु राजस्थान के लोगों को चंद लोग भ्रम में डालकर राजस्थानी भाषा को मान्यता नहीं दे रहे हैं।यह पूरे विश्व में फैले हुए 21 करोड़ राजस्थानीयों का अपमान है। राजस्थानी भाषा को मान्यता नहीं होने से राजस्थान की लोक कला संस्कृति को बहुत बड़ा नुकसान हुआ है। राजस्थान के लोग अब बहुत देर तक अपना अपमान बर्दाश्त नहीं करेंगे और अपना हक लेकर ही रहेंगे।

हनुमानगढ़ के शायर सुरेंद्र शर्मा सत्यम ने कविता और ग़ज़ल के विविध रंगों से उपस्थित श्रोताओं की खूब वाहवाही लूटी।"सोनोग्राफी की रिपोर्ट,मिलने के बाद कल जीऊंगी या मरूंगी ये,पता चल पाएगा।" इसके अलावा "जिंदगी की खेलनी हैं मुझको भी कुछ पारियाँ

क्यों हुई माँ कोख में ही कत्ल की तैयारियां" सुनाकर कन्या भ्रुण हत्या जैसे अपराध से दूर रहने की सीख दी। इसके बाद उन्होंने अपनी हास्य रचनाओं के माध्यम से भी उपस्थित श्रोताओं को खूब गुदगुदाया।

मनोज देपावत ने युवा श्रोताओं से आह्वान किया की वे भी साहित्य से जुड़कर अपने विचारों को अपनी रचनाओं के माध्यम से प्रस्तुत करें। कार्यक्रम में पधारे कविगण को सम्मान प्रतीक देकर सम्मानित किया गया।इस दौरान सुरेन्द्र शर्मा सत्यम ने करीब एक दर्जन पुस्तकें स्थानीय लाइब्रेरी को भेंट की।इस अवसर पर काफी संख्या में स्थानीय लाइब्रेरी के विद्यार्थी उपस्थित थे।कार्यक्रम का मंच संचालन मनोज देपावत ने किया।सफल कार्यक्रम हेतु स्वामी केशवानंद ज्ञानलय के शिशुपाल सुथार ने सब का आभार जताया।




श्रीगंगानगर से सीकर के लिये ट्रेन 12-2-2019 से शुरू होगी-सांसद निहालचंद झण्डी दिखाएगें

बहुप्रतिक्षित श्रीगंगानगर-सीकर ट्रेन का इंतजार कर रहे रेल यात्रियों के लिये बडी खुशखबरी है। आगामी 12 फरवरी मंगलवार को रात्रि 10 बजे पूर्व केन्द्रीय राज्यमंत्री एंव सांसद श्री निहालचंद इस ट्रेन को पहली बार झण्डी दिखाकर रवाना करेगें। 

जेडआरयूसीसी के पूर्व सदस्य श्री भीम शर्मा ने बताया कि श्रीगंगानगर रेलवे स्टेशन पर इस अवसर पर एक समारोह का आयोजन किया जायेगा, जिसमें सांसद श्री निहालचंद के अलावा अन्य जनप्रतिनिधि व मण्डल रेल प्रबंधक श्री ऐ.के.दुबे सहित अधिकारी मौजूद रहेगें। श्री शर्मा ने बताया कि फिलहॉल श्रीगंगानगर से सीकर के मध्य त्रि-साप्ताहिक गाड़ी का संचालन शुरू हो रहा है। 

उन्होंने बताया कि गाड़ी संख्या 14715 श्रीगंगानगर-सीकर एक्सप्रेस प्रत्येक मंगलवार, गुरूवार व शनिवार को रात्रि 10 बजे श्रीगंगानगर से रवाना होकर अगले दिन सुबह 6.05 बजे सीकर पहुंचेगी। इसी प्रकार गाड़ी संख्या 14716 सीकर-श्रीगंगानगर एक्सप्रेस प्रत्येक बुधवार, शुक्रवार व रविवार को सीकर से रात्रि 11.10 बजे प्रस्थान कर अगले दिन प्रातः 7.20 बजे श्रीगंगानगर पहुंचा करेगी। दोनो ओर से इस गाड़ी का सादुलशहर, हनुमानगढ जंक्शन, हनुमानगढ टाऊन, ऐलनाबाद, नोहर, भादरा, सादुलपुर, चूरू व फतेहपुर शेखावाटी स्टेशनों पर ठहराव होगा। यह गाड़ी एक थर्ड ऐसी, दो स्लीपर, 6 जनरल कोच व दो गार्ड डिब्बों सहित कुल 13 कोच की होगी। रेल प्रशासन रींगस-जयपुर रेल मार्ग के आमान परिवर्तन का कार्य सम्पन्न होने के बाद इस गाड़ी का जयपुर तक विस्तार कर देगा।  इसे जल्द ही नियमित कर दिया जायेगा। 

---------


श्रीगंगानगर रेल मैकेनाईज्ड लांडरी: शुरू 12 फरवरी से.सासद निहाल चंद द्वारा

श्रीगंगानगर, रेलवे स्टेशन पर नव स्थापित मेकेनाईज्ड लॉंडरी का मंगलवार को सायं 6 बजे सांसदटं एवं पूर्व केन्द्रीय राज्यमंत्री श्री निहालचंद शुभारंभ करेगें।

महाप्रबंधक श्री राजेश नायर ने बताया कि मेकेनाईज्ड लॉडरी में 90 किलोग्राम क्षमता के तीन वाशर लगाये गये है। इस लॉंडरी में 270 किलोग्राम प्रतिघंटा लगभग 600 चद्दरे प्रतिघंटा धुलाई होगी। मेकेनाईज्ड लॉंडरी में 150 किलोग्राम के दो ड्रायर लगाये गये है। इस प्रोजेक्ट में लगाया गया आयरन प्रति घंटा एक हजार चद्दरों की प्रेस करता है। इस प्रकार पूरे दिन में 7 से 7.50 टन तक चदद्रे, तकियां, कम्बल इत्यादि की धुलाई की जाती है। इस प्रोजेक्ट में चद्दरे तकिया की धुलाई के बाद श्रीगंगानगर, बीकानेर, हिंसार, भिवानी तक आपूर्ति की जायेगी। इस प्रोजेक्ट में लगभग 50 से 55 युवाओं को रोजगार दिया गया है।

उन्होंने बताया कि यात्रियों को दी जाने वाली चद्दर तकिया इत्यादि एक यूनिट का वजन लगभग 1 किलोग्राम होता है। उन्हांने बताया कि वाशिंग लाईन बनने से नई गाड़ियां आने की संभावना बढ़ गई है तथा इस लॉंडरी से हिंसार, बीकानेर, भिवानी तक धुली हुई चद्दरें जायेगी। इस प्रोजेक्ट की कीमत लगभग साढे़ इक्कीस करोड़ रूपये है। जयपुर के बाद राजस्थान में यह दूसरा प्रोजेक्ट है तथा देश भर में इस प्रकार के 12-13 प्लांट संचालित है। 







शनिवार, 9 फ़रवरी 2019

सूरतगढ़ कृषि विभाग के क्षतिग्रस्त भवन में खतरा


* कर्मचारियों और आने वाले कृषक वर्ग को खतरा*

* करणीदानसिंह राजपूत *

कृषि विभाग का भवन बुरी तरह से क्षतिग्रस्त है जहां कर्मचारियों अधिकारियों को ड्यूटी पूरी करनी पड़ रही है।

 वहां पूछताछ के लिए सलाह के लिए प्रशिक्षण के लिए आने वाले कृषक वर्ग को भी भारी खतरा है ।

भवन बाहर से छत से सीढ़ियों से और टॉयलेट से बुरी तरह से क्षतिग्रस्त नजर आ रहा है।

 यहां पर किसी भी प्रकार का कार्य नहीं होना चाहिए। इसको बंद कर ताले लगाए जाने चाहिए ताकि लोगों की जान को खतरा टल सके।

कृषि विभाग के अलावा भूमि विकास बैंक का कार्यालय भी क्षतिग्रस्त है। छत आदि की आरसीसी के सरिए निकले हुए हैं। ऐसी स्थिति में भवन कब नुकसानदेह साबित हो इसका ध्यान रखा जाना बहुत जरूरी है।









शुक्रवार, 8 फ़रवरी 2019

मलकाना कलां में नशा मुक्ति शिविर:पुलिस का आयोजन


श्रीगंगानगर, 8 फरवरी 2019.

 जिला पुलिस अधीक्षक श्री हेमन्त कुमार शर्मा के निर्देशानुसार पुलिस प्रशासन द्वारा स्वास्थ्य एंव शिक्षा विभाग के सहयोग से जिला स्तर पर चलाए जा रहे नशा मुक्ति अभियान के अन्तर्गत पुलिस थाना केसरीसिंहपुर द्वारा राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय मलकाना कलां में नशा मुक्ति जन जागृति कार्यशाला एंव निशुल्क नशा मुक्ति परामर्श शिविर का आयोजन किया गया। इस कार्यशाला में राजकीय उ0मा0वि0 मलकाना कलां के विद्यार्थियों सहित भारी संख्या में ग्रामीणों ने भाग लिया ।

       कार्यशाला के मुख्य वक्ता नशा मुक्ति विशेषज्ञ डॉ.रविकान्त गोयल ने इस अवसर पर कहा कि नशा हजार मुसीबतों की जड है। दिहाडी मजदूरी करने वाले अनेकों लोग अपने दिनभर की कमाई को शाम के समय नशे में बरबाद कर देते हैं तथा खाली हाथ घर जाकर गाली गलौच, मारपीट व तोडफोड करते है ऐसे लोगों के परिजन अकारण ही मारपीट, अपमान व अभाव आदि यातनाएें भोगने को मजबूर हो जाते है। डा0 गोयल ने बताया कि ऐसे व्यक्ति उनसे अपना इलाज करवाकर नशा छोड देते है जिसके फलस्वरूप उनके जीवन में सुखद परिवर्तन स्पष्ट दृष्टि गोचर होने लगते हैं एंव उनके परिवार में सुख, शांति समृद्वि संतुष्टि आदि सगुण स्थापित हो जाते हैं खुशियों एंव आशाओं के दीपक जलने लगते हैं। डा0 गोयल ने नशे से बचने, बचाने ,छोडनें, छुडवाने के सरल उपायों की जानकारी देते हुए उपिंस्थत जन समूह से नशा मुक्त समाज की रचना करने आहवान किया।

       पेरालीगल वोलन्टीयर इन्द्रमोहन सिंह जुनेजा ने अपने सम्बोधन में कहा कि नशा विनाश का ही दूसरा रूप है, नशा करने वाला अपना धन , स्वास्थ्य , सम्मान , भविष्य व अपने अच्छे साथी खो देता है तथा अभावग्रस्त होकर एकाकी जीवन जीता हुआ दर दर की ठोकरें खाने को मजबूर हो जाता है। नशे से बचाव में ही मानव की भलाई है। जुनेजा ने पुलिस द्वारा चलाए जा रहे नशा मुक्ति अभियान की जानकारी देते हुए इसकी सफलताओं पर प्रकाश डाला ।

       कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पुलिस थाना केसरीसिंहपुर के एएसआई भूराराम ने कहा कि आम लोग नशा बेचने वाले लोगों की सूचना पुलिस तक पहुंचाए ताकि समाज में जहर फैला रहे लोगों पर प्रभावी कार्यवाही की जा सके। जो लोग किसी भी कारण नशे की चपेट में आ गये हैं वे जिला पुलिस प्रशासन एंव स्वास्थ्य विभाग द्वारा संचालित पुराना राजकीय चिकित्सालय परिसर स्थित  राजकीय नशा मुक्ति परामर्श एंव उपचार केन्द्र की सेवांए लेकर नशा छोडें। 

------------

निहालचंद ने लोकसभा मेंं उठाया ओलावष्टी का मुद्दा

*लोक सभा शून्य काल*

श्रीगंगानगर, 8 फरवरी2019.

 आज लोकसभा सांसद व पूर्व केन्द्रीय राज्यमंत्रा, भारत सरकार श्री निहाल चन्द के द्वारा श्रीगंगानगर व हनुमानगढ़ जिले में कल हुई भारी वर्षा व ओलावृष्टि पर संसद का ध्यान आकर्षित किया और शून्य काल के दौरान अपनी बात रखी। 

    सांसद ने कहा कि जिला श्रीगंगानगर, राजस्थान का एक कृषि सम्पन्न और अंतर्राष्ट्रीय सीमा से लगा हुआ जिला है और यहाँ बड़े पैमाने पर गेहूँ, सरसों चना, कपास, गन्ना, जौ आदि की पैदावार होती है। देश को खाद्यान्न संपन्न करने के उद्देश्य से किसान अपनी पूरी मेहनत व लगन से खेती करता है, और अपनी मेहनत का फल मिलने का इंतजार करता है, परन्तु अचानक आई प्राकृतिक आपदाओं के कारण किसान को पुरे वर्ष परेशानियों का सामना करना पड़ता है । 

    कल मेरे संसदीय क्षेत्रा श्रीगंगानगर व हनुमानगढ़ में बहुत भयंकर वर्षा और भारी ओलावृष्टि हुई जिसके कारण किसान की पूरी सरसों, चना, जों व गेहूँ की लगभग तैयार फसलों को बहुत ही नुकसान हुआ है। बहुत से किसानों की लगभग शत-प्रतिशत फसल ख़राब हो गई है । क्षेत्रा के किसान ने अपनी पूरी मेहनत व लगन से खून-पसीना एक कर इन फसलों को सींचा है और अब जब फसल पूरी तरह से तैयार हुई तो अचानक हुई इस वर्षा व ओलावृष्टि ने किसानों की पूरी मेहनत को बर्बाद कर दिया है ।

    उन्होंने केंद्र सरकार से अनुरोध किया गया कि संसदीय क्षेत्रा के किसानों को अचानक हुई इस वर्षा व ओलावृष्टि से होने वाले नुकसान की भरपाई हेतु जल्द से जल्द राज्य सरकार से आंकड़े मंगवाकर उचित मुआवजे की व्यवस्था की जाए। इस संबंध में उन्होंने केन्द्रीय कृषि मंत्रा श्री राधामोहन सिंह जी से भी किसानों को उचित मुआवजा देने के संबंध में बात की। 

लोकसभा चुनाव 2019 श्रीगंगानगर चुनाव कार्य:26 प्रकोष्ठों का गठन


श्रीगंगानगर, 8 फरवरी। जिला कलक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री शिवप्रसाद मदन नकाते ने लोकसभा आम चुनाव 2019 सफलतापूर्वक सम्पन्न करवाने के लिये विभिन्न 26 प्रकोष्ठों का गठन किया है। 

    जिला निर्वाचन अधिकारी श्री नकाते ने बताया कि निर्वाचन शाखा के लिये प्रभारी अधिकारी अतिरिक्त जिला कलक्टर प्रशासन, अतिरिक्त प्रभारी अधिकारी श्री विजयकांत पाठक, श्री दीपक पाण्डे, श्री जगदीश कुमार कामरा, श्री कुलविन्द्र सिंह को नियुक्त किया गया है। कानून व्यवस्था प्रकोष्ठ के लिये प्रभारी अधिकारी जिला पुलिस अधीक्षक, अतिरिक्त प्रभारी अधिकारी पुलिस श्री सुरेन्द्र सिंह, अतिरिक्त प्रभारी अधिकारी अतिरिक्त जिला कलक्टर सर्तकता को नियुक्त किया गया है। रूट चार्ट प्रकोष्ठ के लिये प्रभारी अधिकारी भूअभिलेख उपखण्ड अधिकारी को नियुक्त किया गया है। मतदान/मतगणना दलों का गठन प्रकोष्ठ के लिये प्रभारी अधिकारी मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद, अतिरिक्त प्रभारी अधिकारी श्री अश्वनी कुमार पालीवाल, श्री परमजीत सिंह को नियुक्त किया गया है। यातायात एवं पीओएल प्रकोष्ठ के लिये प्रभारी अधिकारी अतिरिक्त जिला कलक्टर सर्तकता, अतिरिक्त प्रभारी अधिकारी सुश्री सुमन, जिला रसद अधिकारी को नियुक्त किया गया है। 

भण्डार प्रकोष्ठ के लिये प्रभारी अधिकारी जिला रसद अधिकारी, अतिरिक्त प्रभारी अधिकारी श्री जुबेर खान को, इवीएम प्रकोष्ठ के लिये नोडल अधिकारी अतिरिक्त जिला कलक्टर सर्तकता, अतिरिक्त प्रभारी अधिकारी सहायक निदेशक लोक सेवाएं, श्री अश्वनी कुमार पालीवाल व श्री परमजीत सिंह को नियुक्त किया गया है। प्रशिक्षण प्रकोष्ठ के लिये प्रभारी अधिकारी मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद, अतिरिक्त प्रभारी अधिकारी श्री मूलचंद मीणा, श्री सुरेन्द्र सोनी व श्री गौरीशंकर को नियुक्त किया गया है। मतपत्रा मुद्रण प्रकोष्ठ के लिये प्रभारी अधिकारी श्री सुनील ढाका, अतिरिक्त प्रभारी अधिकारी अतिरिक्त कोषाधिकारी जिला कोषालय को नियुक्त किया गया है। 

भुगतान, लेखा प्रकोष्ठ के लिये प्रभारी अधिकारी श्री मनोज मोदी, अतिरिक्त प्रभारी अधिकारी श्री चन्द्रमोहन छाबड़ा व श्री प्रेम प्रकाश गोयल को नियुक्त किया गया है। ईडीसी, डाक मतपत्रा एवं फेसिलिटेशन प्रकोष्ठ के लिये प्रभारी अधिकारी महाप्रबंधक शुगरमिल, अतिरिक्त प्रभारी अधिकारी श्री विजय कुमार को नियुक्त किया गया है। सामान्य व्यवस्था एवं मतगणना प्रकोष्ठ के लिये प्रभारी अधिकारी सचिव नगरविकास न्यास, अतिरिक्त प्रभारी अधिकारी उपखण्ड अधिकारी, आयुक्त नगरपरिषद, तहसीलदार श्रीगंगानगर, श्री के.के.कस्वा, श्री सुमन मनोचा, श्री दिनेश कुमार गर्ग, श्री वी.के.जैन, श्री लाजपत बिश्नोई को नियुक्त किया गया है। सांख्यिकी प्रकोष्ठ के लिये प्रभारी अधिकारी श्री गिर्राज प्रसाद मीणा, अतिरिक्त प्रभारी अधिकारी श्री अनिल शर्मा को नियुक्त किया गया है। आईटी प्रकोष्ठ के लिये प्रभारी अधिकारी श्री राहुल छिम्पा, अतिरिक्त प्रभारी अधिकारी श्री आशीष दत्त, श्री गगनदीप सिंह को नियुक्त किया गया है। 

क्रय, उपापन कमेटी प्रकोष्ठ के लिये प्रभारी अधिकारी अतिरिक्त जिला कलक्टर प्रशासन, अतिरिक्त प्रभारी अधिकारी श्री रामजीलाल, श्री सुनील ढाका, श्री शशी भूषण शर्मा को नियुक्त किया गया है। विधि प्रकोष्ठ के लिये प्रभारी अधिकारी श्री ओमप्रकाश आर्य, अतिरिक्त प्रभारी अधिकारी श्री हेमराज सोनी, श्री राजेन्द्र सेवटा को नियुक्त किया गया है। निर्वाचन व्यय प्रकोष्ठ के लिये प्रभारी अधिकारी राजस्व अपील अधिकारी एवं श्री सुनील ढाका, अतिरिक्त प्रभारी अधिकारी श्री सुरेन्द्र सिंह, श्री नरेश अग्रवाल को नियुक्त किया गया है। 

पेड न्यूज प्रकोष्ठ, एमसीएमसी एवं मीडिया प्लान प्रकोष्ठ के लिये प्रभारी अधिकारी उपखण्ड अधिकारी, अतिरिक्त प्रभारी अधिकारी श्री रामकुमार राजपुरोहित को नियुक्त किया गया है। स्वीप प्लान प्रकोष्ठ के लिये नोडल अधिकारी स्वीप मुख्य कार्यकारी अधिकारी, अतिरिक्त प्रभारी अधिकारी श्री विक्रम जोरा, श्री शिवराम सिंह यादव, श्री हरचन्द गोस्वामी, श्री रामकुमार राजपुरोहित को नियुक्त किया गया है। आचार संहिता एवं शिकायत प्रकोष्ठ के लिये प्रभारी अधिकारी सहायक निदेशक लोक सेवाएं, अतिरिक्त प्रभारी अधिकारी श्री लाजपत बिश्नोई, श्री केशव कालीराणा, श्री छगनलाल को नियुक्त किया गया है। 

जिला संपर्क केन्द्र एवं हैल्पलाईन प्रकोष्ठ के लिये प्रभारी अधिकारी सहायक निदेशक लोक सेवाएं, अतिरिक्त प्रभारी अधिकारी सुश्री आकाशदीप सिद्धू को नियुक्त किया गया है। चुनाव पर्यवेक्षक व्यवस्था प्रकोष्ठ के लिये प्रभारी अधिकारी श्री सी.पी.मीणा, अतिरिक्त प्रभारी अधिकारी श्री दीपक कुक्कड़, उप पंजीयक व श्री भूपेन्द्र सिंह को नियुक्त किया गया है। आवास व्यवस्था प्रकोष्ठ के लिये प्रभारी अधिकारी आयुक्त नगरपरिषद, अतिरिक्त प्रभारी अधिकारी श्री हरिकिशन नागपाल, श्री बीपी चंदेल को नियुक्त किया गया है। दिव्यांग जन, वृद्धजन सहायता प्रकोष्ठ के लिये प्रभारी अधिकारी सहायक निदेशक सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग, अतिरिक्त प्रभारी अधिकारी श्रीमती मोनिका यादव, माइक्रो आर्ब्जवर प्रकोष्ठ के लिये प्रभारी अधिकारी श्री बीसी जैन एंव अतिरिक्त प्रभारी अधिकारी श्री गुरप्रीत सिंह मान को नियुक्त किया गया है। 

विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रा के निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण पदाधिकारी, सहायक रिटर्निंग अधिकारी एवं समस्त तहसीलदार के इलेक्शन सैटअप प्रकोष्ठ के लिये समस्त सहायक रिटर्निग अधिकारी, समस्त उपखण्ड अधिकारी, समस्त तहसीलदार एवं समस्त नायब तहसीलदार को नियुक्त किया गया 

तिलक ब्रिज( दिल्ली) सादुलपुर ट्रेन के श्रीगंगानगर विस्तार को रेलवे बोर्ड की मंजूरी


श्रीगंगानगर, 8 फरवरी2019.इलाके की जनता को कम किराये में दिल्ली के लिये सीधी रेल सेवा की सौगात जल्द ही मिलने जा रही है। यह रेलगाड़ी पूरी तरह से ओवरनाईट पेसेंजर रेल सेवा होगी। इस गाड़ी में 100 रूपये से कम किराये में यात्रा दिल्ली के लिये सीधी यात्रा कर पायेगें। इसके अलावा इसी सौ रूपये में एक कप चाय भी रास्ते में पी सकेगे। इसे रेलवे बोर्ड से मंजूरी मिल चुकी है। अब इसके रैक का इंतजार है। उसके बाद पूर्व केन्द्रीय राज्यमंत्री एवं सांसद श्री निहालचंद इसे झण्डी दिखाकर रवाना करेगें। यह गाड़ी वाया सादुलशहर, हनुमानगढ़ , नोहर, भादरा, सादुलपुर, लुहारू, महेन्द्रगढ, रेवाड़ी संचालित होगी। जेडआरयूसीसी के पूर्व सदस्य श्री भीम शर्मा ने बताया कि पूर्व केन्द्रीय राज्यमंत्री एवं सांसद श्री निहालचंद को इस संबंध में विगत अगस्त माह में प्रस्ताव तैयार करके दिया था। जिसके बाद सांसद रेलवे बोर्ड के सदस्य यातायात श्री गिरिश पिल्लई से मिले थे। प्रस्ताव के अनुसार दिल्ली के उपनगरीय स्टेशन तिलक ब्रिज से सादुलपुर जंक्शन के मध्य चलने वाली गाड़ी संख्या 54011/54012 को श्रीगंगानगर तक विस्तारित करने के प्रस्ताव के अंतर्गत उतर रेलवे से अतिरिक्त रैक की मांग के साथ इस गाड़ी को श्रीगंगानगर तक विस्तारित करने की मांग की गई थी। उतर पश्चिम रेलवे व उतर रेलवे की सहमति के बाद इस गाड़ी को श्रीगंगानगर तक विस्तारित करने की प्रक्रिया पर काम शुरू हुआ। इस गाड़ी के श्रीगंगानगर तक विस्तारित होने के बाद सादुलशहर मण्डी की जनता को पहली बार दिल्ली के लिये सीधी रेल सेवा की सुविधा उपलब्ध होगी, वहीं  इस क्षेत्र के लोगों को भी हरियाणा के अन्य नगरों के लिये सीधी रेल सेवा की सुविधा मिल पायेगी। इन स्टेशनों से होगा सीधा जुड़ावश्रीगंगानगर तक विस्तारित होने के बाद इस क्षेत्र की जनता को हरपालू, रामपुराबेरी, परवेजपुर,  लुहारू, सुहासड़ा, सतनाली, नावां, नांगल डकरोटा, जैरपुर पाली, महेन्द्रगढ, भोजावास, गुडाकेमला, कनीनाखास, डहीना जैनाबाद, नांगलमूंदी, रेवाड़ी, कुम्भावास मुंडलिया डाबड़ी, खलीलपुर, इंछापुरी, जटोला जोड़ी सांपका, ताजनगर, पातली, गढी हरसरू, बसई धनकोट, गुडगाव, बीजवासन, पालम, दिल्ली केंट, पटेलनगर, दयाबस्ती, विवेकानंदपुरी हॉल्ट, दिल्ली किशनगंज, नई दिल्ली व शिवाजी ब्रिज (दिल्ली) के लिये सीधी रेल सेवा का लाभ मिल सकेगा। श्रीगंगानगर से सादुलपुर के लिये रेल सेवा पहले से ही चल रही है। इसके अलावा ऐलनाबाद, नोहर, भादरा की जनता को भी उक्त स्टेशनों की सीधी यात्रा का लाभ मिल सकेगा।

गुरुवार, 7 फ़रवरी 2019

गैंगस्टर अंकित भादू इनकाउंटर में मारा गया:पंजाब पुलिस से इनकाउंटर

*उसके 2 साथियों को पकड़ने की खबर है*अंकित भादू के दो साथी किंदा काणा और जरमजीत गिरफ्तार किये। लॉरेंस बिश्नोई गैंग के 3 गैंगस्टर पीर मुशल्ला के महालक्ष्मी अपार्टमेंट्स में थे मौजूद।पूरे पीर मुशाल्ला इलाके को पुलिस ने चारों तरफ से घेरा और किया सील। करीब4 महीने से रह रहे थे। अंकित भादू और उनके साथी रात को शराब पीकर हुल्लड़बाजी करते थे जिसको लेकर आसपास के लोगों ने पुलिस को शिकायत भी की थी परन्तु पुलिस ने कोई ध्यान नहीं दिया। अंकित भादू ने मकान के पीछे से भागने की कोशिश की और पड़ोस की एक की लड़की को अगुआ कर लिया ताकि उसकी आड़ में बच निकले परन्तु पुलिस ने बच्ची को बचाते हुए गोली मारी।

 चंडीगढ़ के समीप जीरकपुर में पीर मुछला में अंकित और पंजाब की संगठित अपराध सेल के बीच मुठभेड़ हुई थी। जिसमें पुलिस ने पीरमुछला को चारों तरफ से घेर लिया। इसके बाद पुलिस और बदमाशों के बीच फायरिंग हुई। जिसमें अंकित की गोली लगने से मौत हो गई।

 इनकाउंटर में अंकित के दो साथियों को भी गोली लगी हैं। पिछले साल मई में श्रीगंगानगर में हिस्ट्रीशीटर जॉर्डन उर्फ विनोद चौधरी पर ताबड़तोड़ फायिरंग कर उसकी हत्या कर देने के मुख्य आरोपी अंकित भादू का पुलिस कई दिनों से पीछा कर रही थी।

 राजस्थान के डीजीपी ने बुधवार को डीजीपी ने एक लाख रुपए का ईनाम घोषित किया था।


जानकारी के अनुसार पंजाब में पुलिस और अंकित भादू के बीच मुठभेड़ हो गई। इसमें अंकित की गोली लगने से मौत हो गई। अंकित की गैंग में शामिल बदमाशों के भी घायल होने की खबर है। अंकित के खिलाफ हत्या, लूट, रंगदारी जैसे अनेक गंभीर मामले पंजाब और राजस्थान में दर्ज हैं। इस कुख्यात बदमाश को लॉरेंश बिश्नोई का दाहिना हाथ बताया जाता था।


हिस्ट्रीशीटर जॉर्डन का किया था मर्डर

राजस्थान के श्रीगंगानगर में पुरानी आबादी के मोहर सिंह चौक निवासी हिस्ट्रीशीटर जॉर्डन उर्फ विनोद चौधरी पर 23 मई 2018 को ताबड़तोड़ फायिरंग कर उसकी हत्या कर दी गई थी। वारदात को तब अंजाम दिया गया जब जॉर्डन इंदिरा वाटिका के पास मेटालिका जिम में सुबह करीब पांच बजे वर्क आउट करने गया था।

अंकित भादू जॉर्डन की हत्या का मुख्य आरोपी भी है। सूचना देने वाले को मिलेंगे एक लाख रुपए जॉर्डन की हत्या के बाद से अंकित भादू फरार चल रहा था। इसको पकड़ने के लिए राजस्थान पुलिस लगातार प्रयास कर रही, मगर इस कुख्यात बदमाश का अभी तक कोई पता नहीं चल पाया था। इसकी सूचना देने पर 50 हजार रुपए का ईनाम रखा गया था, जो बढ़ाकर एक लाख रुपए कर दिया गया है।

बुधवार, 6 फ़रवरी 2019

आत्माराम तरड़ भारतीय कृषि अनुसंधान के .सदस्य मनोनीत

मन्नीवाली। भाजपा किसान मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष आत्माराम तरड़ को भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के केन्द्रीय शुष्क बागवानी संस्थान की प्रबंध समिति के सद्स्य पद के लिए मनोनीत किया गया है।बागवानी विभाग के अवर सचिव पी के श्रीवास्तव द्वारा जारी पत्र में लिखा गया है कि भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के लिए तीन वर्ष के लिए स्थाई रूप से चुना जाता है।इससे क्षेत्र में खुशी का माहौल है।आत्माराम तरड़ के घर बधाई देने वालों का तांता लगा हुआ है। आत्माराम तरड़.ने सभी को धन्यवाद देते हुए बताया कि वे अपने कृषि के क्षेत्र.में.काश्तकारों का भरपूर सहयोग करेंगे।


राजेश तिवारी उत्तर पश्चिम रेलवे के नये महाप्रबन्धक बने

सूरतगढ़/श्रीगंगानगर, 6 फरवरी 2019.

 श्री राजेश तिवारी ने उत्तर पश्चिम रेलवे के नये महाप्रबन्धक का पदभार ग्रहण किया। उत्तर पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक का कार्यभार ग्रहण करने से पूर्व श्री राजेश तिवारी उत्तर रेलवे में अपर महाप्रबन्धक के पद पर कार्यरत थे।

    श्री राजेश तिवारी, 1981 बैच के ‘‘भारतीय रेलवे इलैक्ट्रीकल इंजीनियरिंग सेवा’’ के वरिष्ठ अधिकारी हैं। श्री राजेश तिवारी ने भारतीय रेल में विभिन्न वरिष्ठ प्रमुख  जोन व यूनिट जैसे मध्य रेलवे, उत्तर मध्य रेलवे, पूर्व मध्य रेलवे, दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे, पूर्व तटीय रेलवे, उत्तर रेलवे, रेलवे विद्युतीकरण संगठन, अनुसंधान व अभिकल्प मानक संगठन तथा डीजल लोकोमोटिव वर्क्स में सेवाएं प्रदान की है। श्री राजेश तिवारी को रेलवे के विभिन्न विभागों में महत्वपूर्ण पदों पर कार्य करने का गहन अनुभव प्राप्त है।

------------


मंगलवार, 5 फ़रवरी 2019

शिक्षण संस्थाओं को बालवाहिनी की शर्तों की पालना करनी होगी


श्रीगंगानगर, 5 फरवरी 2019.

पुलिस अधीक्षक श्री हेमंत शर्मा  ने कहा कि विद्यालयी बच्चों की सुरक्षा के लिये सभी शिक्षण संस्थाओं को बालवाहिनी की शर्तों की पालना करनी होगी। उन्होंने कहा कि बालवाहिनी के निर्देशों का अनुसरण करने से अधिकतम दुर्घटनाओं पर अंकुश लगाया जा सकता है। 

    श्री शर्मा मंगलवार को पुलिस लाईन के सभाहॉल में बालवाहिनी से संबंधित बैठक में आवश्यक निर्देश दे रहे थे। उन्होंने कहा कि बालवाहिनी के संचालकों का पुलिस वेरीफिकेशन करवाया जाये। चालक निर्धारित वर्दी में हो तथा नेम प्लेट होनी चाहिए। बालवाहिनियों के रंग इत्यादि निर्धारित शर्तों के अनुसार हो तथा ऑन स्कूल डयूटी लिखा होना चाहिए। वाहन चालकों का कम से कम पांच वर्ष का अनुभव होना चाहिए। ओटो रिक्शा के बजाय बस, वैन व छोटे चार पहिया वाहनों को प्राथमिकता दी जानी चाहिए। माननीय सर्वोच्च न्यायालय के अनुसार बैठक क्षमता डेढ गुणा से अधिक नहीं  होनी चाहिए। बच्चों की सुरक्षा के लिये बायी ओर चढ़ने उतरने वाले गेट पर लोहे की जाली लगाकर बंद किया जाये। बालवाहिनियों में फस्ट ऐड बॉक्स तथा अग्निशामक यंत्र होने चाहिए। वाहन में पानी की बोतल व स्कूल बैग रखने के लिये रैक होने चाहिए। वाहन चालकों को सीट बैल्ट का उपयोग करना चाहिए। बालवाहिनी के चालक व परिचालकों को निर्धारित वेशभूषा में रहना चाहिए। बालवाहिनियों में जीपीएस सिस्टम विकसित किया जाये। बैठक में भारतीय पुलिस सेवा की अधिकारी हितिका यासल, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री सुरेन्द्र सिंह, जिला परिवहन अधिकारी सुमन, जिला शिक्षा अधिकारी श्री हरचंद गोस्वामी सहित विभिन्न शिक्षण संस्थाओं के प्रधानाचार्यों व प्रबंधकों ने भाग लिया


रविवार, 3 फ़रवरी 2019

पेड़ों व वन्य प्राणियों बाबत: राज्य मंत्री सुखराम बिश्नोई की गंगानगर बैठक

श्रीगंगानगर, 3 फरवरी। वन एवं पर्यावरण राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री सुखराम बिश्नोई ने कहा कि पेड़ो की अवैध कटाई रोकने एवं पर्यावरण की रक्षा करना विभाग का पहला उत्तरदायित्व है। उन्होंने कहा कि अवैध कटाई रोकने के लिए पेड़ों  की नम्बरिंग करने के पश्चात विडियोग्राफी करवाई जाए। 

वन राज्यमंत्री रविवार 3-2-2019 को जिले के एक दिवसीय दौरे के दौरान कलेक्ट्रेट सभाहॉल में आयोजित बैठक में निर्देश दे रहे थे। उन्होंने कहा कि विभाग द्वारा लगाए गये पौधों में से अधिकतम पौधे जीवित रहे। हमारा प्रयास रहना चाहिए कि सौ पौधो में से कम से कम 80 पौधे जीवित रहे। उन्होंने ने वन विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि अधिकतम फलदार पौधे नर्सरियों में तैयार किये जायें । वन भूमि पर बसी आबादियों के नियमितिकरण के संबंध में कहा कि ऐसे प्रकरण पर्यावरण मंत्रालय भारत सरकार के अधीन आते है। 

उन्होने कहा कि वन्य जीवों की रक्षा के लिए वन्य जीव कानून की कडाई से पालना की जाये। बैठक में अधिकारियों ने बताया कि वन्य जीव अधिनियम के तहत 14 प्रकरण सामने आए, जिनमें 12 प्रकरणों में चालान कर दिया गया है। जिले में सूरतगढ व रायसिंहनगर क्षेत्र में हरिण व मोर के शिकार संबंधी प्रकरण सामने आये है। नील गाय के संबंध में वन राज्यमंत्री ने कहा कि नील गाय एक श्रृद्धा के साथ जुड़ा हुआ है। 


वन राज्यमंत्री ने कहा कि सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत अधिकतम पात्र नागरिकों को राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा का लाभ मिलना चाहिए। उन्होने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र में 59 प्रतिशत तथा शहरों में 49 प्रतिशत नागरिक लाभ ले रहे है। अभी इसमें और नागरिकों को जोडने की गुंजाईस है। उन्होने कहा कि कोई उपभोक्ता किसी भी दुकान से राशन ले सकता है। जिस दुकानदार का व्यवहार अच्छा नही होगा वहां उपभोक्ताओं की संख्या कम होती चली जाएगी। 

बैठक में नगर परिषद क्षेत्र में संचालित एसटीपी की प्रगति की जानकारी ली। उन्होने कहा कि नगरपालिकाओं के गंदे पानी को ट्रीट करने के बाद ही खेती व सब्जियां उगाने में काम में लिया जा सकता है। श्रीगंगानगर शहर में ठोस कचरे के निष्पादन के लिए प्लांट लगने की प्रक्रिया को गति देने के निर्देश दिए। उन्होने  कहा कि जैसे-जैसे आबादी बढेगी वैसे-वैसे कचरें में बढोतरी होगी। हमे समय रहते इसका उचित प्रबन्धन करना चाहिए। 


वन राज्यमंत्रा ने कहा कि चिकित्सालयों से निकलने वाले बायोवेस्ट को सामान्य कचरे में शामिल न किया जाए। जो चिकित्सालय बायोवेस्ट का सीटीएफ के माध्यम से विधिवत निस्तारण नही करवाते है, उनके विरूद्ध चिकित्सा विभाग व स्थानीय निकाय कार्यवाही करें। उन्होने कहा कि समय-समय पर बाट-माप की जांच होनी चाहिए। 

गंगानगर विधायक श्री राजकुमार गौड ने कहा कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा का लाभ अधिकतम गरीब परिवारों को मिलना चाहिए। उन्होने कहा कि संबंधित एसडीएम ऐसे पात्रा परिवारों की स्वीकृतियां जारी करे, जिससे पात्रा लोग सस्ता अनाज ले सके। उन्होने कहा कि जिले में अभी निर्धारित प्रतिशत से कम नागरिकों को लाभ दिया जा रहा है। श्री गौड ने शहर की सफाई व्यवस्था तथा गंदे पानी की स्थिति में सुधार के लिए सुझाव दिये। उन्होने कहा कि पेट्रोल पम्पों की भी समय-समय पर जांच होनी चाहिए, जिससे उपभोक्ता को पूरा व गुणवत्ता वाला ईधन मिल सके। 


बैठक में सादुलशहर विधायक श्री जगदीश जांगिड, एडीएम सतर्कता श्री गोपालराम बिरदा, न्यास सचिव श्री कैलाशचंद शर्मा, उपनिदेशक लोक सेवाएं श्री मुकेश बारहठ, उपवन संरक्षक श्री पयोंग शशि, केन्द्रीय सहकारी बैंक के प्रबन्ध निदेशक श्री दीपक कुक्कड, जिला रसद अधिकारी श्री पार्थ सारथी, पूर्व विधायक श्री सन्तोष सहारण, पूर्व सांसद श्री शंकर पन्नू, श्री कुलदीप इंदौरा, श्री अशोक चांडक सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी व जनप्रतिनिधि उपस्थित थे। वन राज्यमंत्री ने अधिकारियों की बैठक के पश्चात जनसुनवाई की जिसमें जिले के नागरिकों ने पेडो की अवैध कटाई, लकडी मंडी, आवासीय पट्टों के अलावा सार्वजनिक व नीजि समस्याएं बताई।




शनिवार, 2 फ़रवरी 2019

भू माफिया और नशा माफिया को पकड़ने पर आता फोन' हमारे आदमी हैं छोड़ दो'

 सूरतगढ़ में विधानसभा चुनाव के बाद से नगर पालिका की खाली पड़ी जमीन पर बेशुमार बड़े-बड़े अतिक्रमण दिन रात हो रहे हैं। अतिक्रमणकारियों को पकड़ने पर सत्ताधारी राजनीतिक दल के एक नेता के नाम से संदेश फोन पर आता है हमारे आदमी है इनको छोड़ दो।

 सूरतगढ़ में करोड़ों रुपए की नगरपालिका जमीन पर 1 महीने में बेशुमार कब्जे हो चुके हैं।

 यह कब्जे 1-,2-2 बीघों के अंदर हो रहे हैं। गरीब आदमी सिर छुपाने के लिए छत बनाता है तो वह मामूली सी जमीन पर ही कब्जा कर पाता है और वह कब्जा हटा भी दिया जाता है। लेकिन 1-2 बिघों में जो लोग कब्जा करते हैं गरीब नहीं बड़े लोग हैं।

 इतनी बड़ी जमीन पर कब्जा करने के लिए 50 हजार से लेकर लाख ₹2 लाख की ईंटें ही लग जाती है और मिस्त्री मजदूर निर्माण सामग्री पर  ₹50हजार से लाखों रुपए लग जाते हैं। यह कब्जे धारी गरीब नहीं हो सकते, लेकिन सत्ता की शह पर सरकारी जमीन  पर धड़ल्ले से कब्जे हो रहे हैं।


सूरतगढ़ में भयानक शीत के अंदर हजारों बीघा जमीन पर अतिक्रमण हो चुके हैं। अभी वार्ड नं5 में भूमाफिया सक्रिय है।

 1 फरवरी को वार्ड नंबर 5 में सरकारी जमीन पर बहुत बड़े-बड़े कब्जे हो रहे थे। एक अतिक्रमण पर तो कई मजदूर मिस्त्री लगे हुए थे। साफ था कि कोई रोक-टोक नहीं है। नगर पालिका की ओर से भी इन दिनों में कोई रोक नहीं हुई। 

नगरपालिका संपत्ति के बोर्डों को चारदिवारियों में छुपा दिया गया है और कुछ बोर्ड काले कर दिए गये हुए भी वहां दिखाई पड़ते हैं।

बहुत से घरों में कब्जों में कोई रहने वाला नहीं है।

वहां पर बिजली पानी कैसे पहुंचेगा सड़कें कैसे बनेगी।

 बिजली के खंभे बिना तारों के अभी लगे हुए दिखाई पड़ते है।

यहां पर अतिक्रमण करने वाले लोगों के हौसले बुलंद हैं बहुत बड़े अतिक्रमण पर आसपास के गुजरते लोगों ने बताया कि पार्षद कब्जे करवा रहा है। और यह बहुत बड़ा अतिक्रमण हो रहा है यहां पार्षद अपने रिश्तेदार को कब्जे करवा रहा है।

 यही हाल बढ़ते हुए नशे का है।

सरकार और उच्च स्तरीय पुलिस अधिकारियों का आदेश है कि अवैध दारू कहीं भी नहीं बिके। ठेकों पर भी रात के 8:00 बजे के बाद किसी भी हालत में अवैध बिक्री नहीं हो लेकिन जो लोग बेखौफ यह कार्य कर रहे हैं। उन्हें पकड़ा जाता है तब सत्ताधारी पार्टी के नेता का फोन आता है कि छोड़ दो हमारे आदमी है।

अभी तक यह स्थिति नहीं हुई है कि अतिक्रमणकारियों को और अवैध दारू बेचने वालों को छोड़ दिया गया हो। लेकिन पूरे सूरतगढ़ उपखंड में पकड़ धकड़ पर रुकावट के लिए भारी दबाव डाला जा रहा है।

 सूरतगढ़ उपखंड में इससे अपराध बढ़ेंगे। पुलिस प्रशासन और सिविल प्रशासन दोनों की ही जिम्मेवारी है कि कड़ाई के साथ सरकारी जमीन को बचाया जाए व लोगों को अवैध दारू बाजो के चक्कर से दूर रखा जाए।

इन दिनों नगरपालिका की जे सी बी मशीन ढिली पड़ी है। नगर पालिका प्रशासन खुलेआम हो रहे अतिक्रमण ओं को तुुड़वाने के लिए मौन व्रत धारण किए हुए हैं।

मुख्य मंत्री अशोक गहलोत से और सरकार से भी खुद को बड़े मानने लगे हैं और उनकी शह अपराधियों पर है।

जिला कलेक्टर और जिला पुलिस अधीक्षक को कड़ाई कर अपराधों पर नियंत्रण करना होगा।

******












यह ब्लॉग खोजें