गुरुवार, 28 फ़रवरी 2019

श्रीगंगानगर से बान्द्रा टर्मिनल के लिये जल्द शुरू हो सकती है ट्रेन

श्रीगंगानगर, 28 फरवरी। श्रीगंगानगर रेलवे स्टेशन से जल्द ही एक ओर नई गाडी को झंडी दिखाई जा सकती है। यह गाडी श्रीगंगानगर से मुम्बई के उपनगरीय स्टेशन बान्द्रा टर्मिनल के लिये संचालित किया जाना प्रस्तावित है। 


जेडआरयूसीसी के पूर्व सदस्य श्री भीम शर्मा ने बताया कि इस गाड़ी का प्रस्ताव इंडियन रेलवे टाईम टेबल कमेटी में पारित हो चुका है। अब इसे रेलवे बोर्ड से मंजूरी मिलनी बाकी है। उन्होंने बताया कि जो प्रस्ताव बनाकर भेजा गया था, उसके अनुसार यह गाडी सप्ताह में दो दिन संचालित होगी। श्रीगंगानगर से यह गाडी प्रत्येक मंगलवार व शनिवार को रात्रि 12.30  बजे रवाना होकर वाया हनुमानगढ़, नोहर, भादरा, सादुलपुर, चुरू, रतनगढ, सुजानगढ, मेडता रोड, जोधपुर, लूनी होते हुए गुजरात के रास्ते 1610 किलोमीटर का सफर तय कर बुधवार व रविवार को प्रातः 6.25 बजे बान्द्रा टर्मिनल पहुंचना प्रस्तावित है। वापसी में बान्द्रा टर्मिनल से प्रत्येक वीरवार व रविवार को प्रातः 8.05 बजे रवाना होकर दोपहर 2 बजे श्रीगंगानगर पहुंचना प्रस्तावित है। इसके शुरू होने से श्रीगंगानगर व चुरू जिले की जनता को गुजरात व मुम्बई के लिये सीधी रेल सेवा की सुविधा मिल सकेगी।

 उधर दूसरी ओर श्रीगंगानगर से वाया केसरीसिंहपुर, करणपुर, गजसिंहपुर, रायसिंहनगर, जैतसर, सूरतगढ़, बीकानेर के रास्ते मुम्बई के लिये सीधी दैनिक रेल सेवा का प्रस्ताव रेलवे बोर्ड के विचाराधीन है।





इंदिरा गांधी नहर में प्रस्तावित बंदी 26 मार्च से 24 अप्रैल

* पेयजल का पर्याप्त भण्डारण करने के निर्देश*


श्रीगंगानगर, 28 फरवरी2019.

 इंदिरा गांधी नहर परियोजना की प्रस्तावित बंदी 26 मार्च 2019 से 24 अप्रेल 2019 से पूर्व की जाने वाली तैयारियों को लेकर गुरूवार को राजस्थान सरकार के मुख्य सचिव ने विडियों कांन्फ्रेंसिंग के माध्यम से निर्देश दिये। उन्होंने आईजीएनपी क्षेत्र के समस्त जिलों के जिला कलक्टर व अन्य अधिकारियों से बातचीत की। उन्होंने कहा कि समय रहते पर्याप्त मात्रा में पेयजल का भंडारण कर लिया जाये। नहरबंदी के दौरान पेयजल की समस्या नही रहनी चाहिए।

उन्होंने निर्देश दिये कि नहरबंदी से पूर्व लाईनिंग वाले क्षेत्रा में सामग्री इत्यादि का स्टॉक कार्यस्थल पर होना चाहिए। मजदूरों, मिस्त्रियों की पर्याप्त व्यवस्था हो। नहर बंदी के बाद निर्माण कार्य शुरू होने में एक भी दिन खराब नही होना चाहिए। 

जिला कलक्टर श्री शिवप्रसाद मदन नकाते ने बताया कि गंगानगर जिले में अधिकांश क्षेत्र में गंगनहर से पानी उपलब्ध होता है। इंदिरा गांधी नहर परियोजना से अनूपगढ़, सूरतगढ़ क्षेत्र तथा भाखडा नहर से सादुलशहर क्षेत्रा में पानी उपलब्ध होता है।


पेयजल भण्डारण के निर्देश


जिला कलक्टर श्री नकाते ने प्रस्तावित नहरबंदी से पूर्व पेयजल परियोजनाओं में पर्याप्त भण्डारण करने के निर्देश दिये है। उन्होंने कहा कि जनता जल योजना के अलावा सार्वजनिक डिग्गियों में भी पानी का भंडारण किया जाये। नहरबंदी से पूर्व नहर वितरिकाओं में चल रहे पानी से पेयजल का पर्याप्त स्टॉक सुनिश्चित करना होगा। पेयजल भण्डारण में किसी प्रकार की लापरवाही को गंभीरता से लिया जायेगा। 


विडियों कांन्फ्रेंसिंग में अतिरिक्त जिला कलक्टर प्रशासन श्री नख्तदान बारहठ, जल संसाधन के अधीक्षण अभियंता श्री प्रदीप रूस्तगी, पेयजल, विधुत विभाग के अधीक्षण अभियंता उपस्थित थे। 

--------------




बुधवार, 27 फ़रवरी 2019

सूरतगढ़ में अलर्ट:सीएलजी की बैठक:भारतपाक तनाव में सतर्कता महत्वपूर्ण: जानिए पूरी रपट


विशेष रिपोर्ट- करणीदानसिंह राजपूत*

सीएलजी सदस्यों की बैठक थाना धिकारी निकेतकुमार पारीक की अध्यक्षता में हुई। थानाधिकारी ने कहा कि सूरतगढ़ सामरिक दृष्टि से महत्वपूर्ण है। पाकिस्तान के साथ तनावपूर्ण माहौल बना हुआ है जिसमें हरवक्त सतर्कता जरूरी है।

इस माहौल में किसी भी प्रकार की सैन्य गतिविधियों की जानकारी सोशल मीडिया पर ना डाली जाए। कोई  फोन कॉल पर भी कोई अंतर्राष्ट्रीय सीमा से संबंधित या सेना के मूवमेंट आदि बाबत पूछे तो कोई बात नहीं बताएं। यह भी कहा कि सोशल साइट्स पर आने वाली सूचनाएं फोटो आदि फारवार्ड न करें, क्योंकि अफवाहों व झूठी सूचनाओं के फारवर्ड करने पर कानूनी दायरे में फंस सकते हैं।

पुलिस व प्रशासन का सहयोग करने की अपील भी की गई। 

थानाधिकारी ने अफवाहों पर ध्यान नही देने और सतर्क व सावधान रहते हुए आपसी सौहार्द बनाये रखने की अपील की।

 किसी भी  संदिग्ध व्यक्ति,सामग्री वस्तु व घटना की जानकारी तुरंत पुलिस थाना या प्रशासन को देने की अपील की। 

थानाधिकारी ने कहा कि सीएलजी सदस्य इस बाबत अन्य नागरिकों को भी सतर्क करें।

सीएलजी सदस्यों की तरफ से सुझाव भी आए। 

आकाशवाणी केन्द्र से सूचनाएं प्रसारित करवाई जाए ताकि उससे अधिक लोगों तक गांवों तक सूचना पहुंचे।

सूरतगढ की धर्मशालाओं,होटलों, व अन्य ठहरने वाले स्थानों पर परिचय पत्र की फोटोकॉपी लेकर ही ठहराया जाए। यह निर्देश पूर्व में पालन हो रहा है जिसे पुनः सूचित किया जाए।

सीसीटीवी कैमरे हरवक्त दुरूस्त रखे जाएं व लोगों द्वारा लगाए हुए कैमरों को दुरूस्त रखने की अपील की जाए।

बीट कांस्टेबल सतर्कता बाबत वार्ड पार्षद व प्रमुख लोगों से संपर्क करे ताकि कोई संदिग्ध व्यक्ति हो तो वे पुलिस को सूचना दें।

यह भी सुझाव आया कि अन्य सामाजिक, व्यापारिक संगठन अपने संगठनों में बैठक कर सतर्कता बाबत जानकारी का लेन देन करें।

********





लोकसभा चुनाव 2019 वार टीमों व उडनदस्तों का गठन-श्रीगंगानगर जिला

श्रीगंगानगर, 27 फरवरी। लोकसभा आम चुनाव 2019 सफलतापूर्वक सम्पन्न करवाने के लिये विधानसभावार विभिन्न टीमों व उडनदस्तों का गठन किया गया है। 

जिला कलक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री शिवप्रसाद मदन नकाते ने बताया कि सहायक व्यय पर्यवेक्षण के लिये 9 कार्मिकों को लगाया गया है, वही पर विधानसभा सादुलशहर, गंगानगर, करणपुर, सूरतगढ़, अनूपगढ व रायसिंहनगर में उडनदस्तों का गठन किया गया है। इसी प्रकार जिले की 6 विधानसभाओं में स्थैनिक निगरानी दलों का भी गठन किया गया है। विडियों निगरानी दल, विडियो अवलोकन टीम एवं जिला स्तरीय लेखा टीम का गठन किया जाकर कार्मिकों को लगाया गया है। 

2 व 3 मार्च को मतदाता सत्यापन व सूचना कार्यक्रम-श्री गंगानगर जिला:पूरी खबर


*सभी मतदान केन्द्रों पर बीएलओ रहेंगे उपस्थित*

श्रीगंगानगर, 27 फरवरी। जिला कलक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री शिवप्रसाद मदन नकाते ने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार मतदाता सूचियों का अंतिम प्रकाशन करने के बाद 2 व 3 मार्च को मतदाता सत्यापन व सूचना कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे। 2 व 3 मार्च को जिले के सभी मतदान केन्द्रों पर बीएलओ प्रातः 9 से सायं 6 बजे तक उपस्थित रहेंगे। 22 फरवरी को प्रकाशित अंतिम मतदाता सूचियों का प्रदर्शन करेंगे तथा आमजन को मतदाता सूची दिखायेंगे। मतदाता सूची पुनरीक्षण कार्यक्रम में किसी नागरिक ने आवेदन नही किया है, तो मतदाता सूची में नाम जुडवाने के लिये आवेदन प्राप्त करेंगे। पंजीकृत मतदाता अपनी प्रविष्टियों में संशोधन करवाना चाहते है, वे भी आवेदन कर सकते है। मतदान केन्द्रों पर निर्वाचन आयोग द्वारा उपलब्ध करवायी जा रही एनवीएसपी पोर्टल, मोबाईल ऐप,  सी-विजिल गोल्ड एवं कॉल सेन्टर 1950 के माध्यम से मिलने वाली सुविधाओं की भी जानकारी देंगे। 

लोकसभा चुनाव 2019-विधानसभा स्तरीय मास्टर ट्रेनर को दिया प्रशिक्षण


श्रीगंगानगर, 27 फरवरी 2019.

लोकसभा आम चुनाव 2019 को भली प्रकार से सम्पन्न करवाने के लिये मतदान दलों, सैक्टर अधिकारी तथा माइक्रो ओबजर्वर को दिये जाने वाले प्रशिक्षण के लिये विधानसभा स्तरीय मास्टर ट्रेनर का प्रशिक्षण एम.डी.बीएड कॉलेज में दिया गया।

जिला कलक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री शिवप्रसाद मदन नकाते ने बताया कि लोकसभा चुनाव में विभिन्न प्रकार के प्रशिक्षण देने के लिये जिला स्तरीय मास्टर ट्रेनर जिन्होंने जयपुर से प्रशिक्षा प्राप्त किया है, वे प्रशिक्षण देगें। प्रशिक्षण कार्यक्रम में मतदान प्रक्रिया निर्वाचन व्यय, मॉनिटरिंग कानून व्यवस्था, विधिक  जानकारी, ईवीएम, वीवीपेट का संचालन आदि का प्रशिक्षण मास्टर ट्रेनर द्वारा मतदान दलों व अन्य अधिकारियों को प्रशिक्षण दिया जायेगा। प्रशिक्षण उपजिला निर्वाचन अधिकारी श्री नख्तदान बारहठ एवं अतिरिक्त जिला शिक्षा अधिकारी श्री सुरेन्द्र कुमार सोनी के मार्गदर्शन में दिया गया। 

मंगलवार, 26 फ़रवरी 2019

श्रीगंगानगर जिले में सतर्कता:लोग क्या करें:पूरी खबर*

26-2-2019.जिला कलक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट श्री शिवप्रसाद मदन नकाते ने आमजन को सूचित किया है कि सीमा के इर्द-गिर्द, छावनियों के आस-पास, सुरक्षा एजेंसियों के स्थनों के आस-पास, रेलवे स्टेशन, बस स्टैण्ड, बाजार, धर्मशालाओं, भीड वाले क्षेत्रों में कोई भी संदग्द्धि व्यक्ति, संदिग्द्ध गतिविधि या वस्तु दिखाई दे तो इसकी जानकारी सुरक्षा कार्मिकों,नजदीक के थाने में या प्रशासनिक अधिकारियों को देवें। जिला मजिस्ट्रेट श्री नकाते ने सभी पुलिस प्रशासन व जिला प्रशासन के अधिकारियों को सतर्क रहने के निर्देश दिए है।

^^^^^^^^^



श्रीगंगानगर सीमा पर रात में धारा 144:पूरी खबर

श्रीगंगानगर, 26 फरवरी2019.

 भारत-पाक अन्तर्राष्ट्रीय सीमा की 2 किलोमीटर की पट्टी में दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 की 144 के अन्तर्गत प्रतिबन्धात्मक आदेश प्रभावशील है। प्रतिबन्धात्मक क्षेत्र में सायं 7 बजे से प्रातः 6 बजे तक किसी तरह का आवागमन नही होगा।

 किसान कृषि कार्य के लिए सुरक्षा बलों की अनुमति से ही जा सकेंगे। इस क्षेत्र में सायं 7 बजे से प्रातः 6 बजे तक किसी प्रकार के पटाखें, बैण्ड इत्यादि का उपयोग नही होगा। 

प्रतिबन्ध क्षेत्र में अग्नेय शस्त्रों को सुरक्षा बलों, राजकीय सेवा में लगे अधिकारियों के अलावा अन्य लेकर नही जा सकेंगे।

००००००००००००००





श्री गंगानगर जिले में 6 तहसीलदार बदले:सूरतगढ़ में सुशील कुमार सैनी

*करणीदानसिंह राजपूत*

 श्री गंगानगर जिले में 6 तहसीलदार स्थानांतरित किए गए हैं।

6 स्थानों पर नए तहसीलदारों में सुशील कुमार सैनी सूरतगढ़, संजय कुमार श्री गंगानगर, ताराचंद वेंकेट अनूपगढ, शिव भगवान रेगरसादुलशहर,पन्ना लाल मीणा रायसिंहनगर  और विजय सिंह राजपुरोहित पदमपुर में लगाए गए हैं। राजस्व मंडल ने यह स्थानांतरण 26 फरवरी 2019 को किए हैं।

*****************



श्रीगंगानगर जिला:विद्युत समिति की बैठक 26-2-2019 की कार्यवाही


*उपभोक्ताओं की समस्याओं का त्वरित गति से हो निस्तारण*


श्रीगंगानगर, 26 फरवरी। जिला कलक्टर श्री शिवप्रसाद मदन नकाते ने कहा कि विधुत वितरण निगम आम उपभोक्ताओं की समस्याओं पर ध्यान देकर उनका तत्काल निराकरण करने का प्रयास करें।जिला कलक्टर मंगलवार को कलेक्ट्रेट सभाहॉल में जिला स्तरीय विधुत कमेटी की बैठक में आवश्यक निर्देश दे रहे थे। उन्होंने कहा कि बिजली उपभोक्ताओं की सामान्यता शिकायतें रहती है कि संबंधित बिजली अभियंताओं द्वारा उनके फोन नही उठाये जाते। जिला कलक्टर ने कहा कि विधुत वितरण निगम के कार्मिक उपभोक्ताओं की समस्याएं सुने तथा उसका हल करें। जिला कलक्टर ने आईपीडीएस योजना, दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति विकास योजना तथा सौभाग्य योजना की प्रगति की जानकारी ली तथा आवश्यक निर्देश दिये। विद्युत उपभोक्ताओं की किसी भी प्रकार की समस्या के समाधान के लिये टोल फ्री नम्बर 18001806045 पर शिकायत दर्ज करवा सकते है। गंगानगर विधायक श्री राजकुमार गौड़ ने कहा कि विद्युत उपभोक्ताओं को अच्छी गुणवत्ता की विद्युत मिलनी चाहिए। आम उपभोक्ताओं के साथ-साथ कृषि कार्य के लिये किसानों को भी थ्री फेज बिजली राज्य सरकार के निर्देशानुसार उपलब्ध करवायी जाये। उन्होंने कहा कि आम उपभोक्ताओं की बिजली से संबंधित छोटी-छोटी समस्याएं होती है, जिसका त्वरित निस्तारण करने से उपभोक्ता को राहत मिलती है। बैठक में सूरतगढ़ विधायक श्री रामप्रताप कासनिया, अनूपगढ विधायक श्रीमती संतोष, विद्युत विभाग के अधीक्षण अभियंता श्री के.के.कस्वा सहित विद्युत विभाग के अधिकारी उपस्थित थे। 

*********



मैं हूं हिन्दुस्तान, नशे में पाकिस्तान



मैं हूं हिन्दुस्तान, 
नशे में पाकिस्तान
पगलाया पाकिस्तान
हिन्दुस्तान का जब हो नाम
तब पगलाए पाकिस्तान
मेरा तिरंगा चूमे आकाश
तब पगलाए पाकिस्तान
संसार में गूंजे मेरा नाम
तब तड़पे पाकिस्तान
कहीं अध्यक्षता हो मेरी
दारूमें बहके पाकिस्तान
मेरा नारा लोग लगाएं
जमीं पर लोटे पाकिस्तान
मेरा नाम जब जब गूंजे
गरळावै पाकिस्तान
हिन्दुस्तान को सब माने
नशे में बहके पाकिसतान
मेरे साथ सूरज चमके
अंधियारे में पाकिस्तान
मैं हूं हिन्दुस्तान
पगलाया पाकिस्तान
मेरा नाम मित्रता तगड़ी


दारू में पगलाया पाकिस्तान।
मैं जब चाहूं थप्पड़ से
रसातल जाए पाकिस्तान
मैं हूं हिन्दुस्तान
नशे में मरता पाकिस्तान
पगलाया पाकिस्तान।


 

- करणीदानसिंह राजपूत
विजयश्री करणी भवन,
सूर्योदयनगरी,मिनी मार्केट
सूरतगढ़।

^^^^^^^^^^^^^^^^^^^^^^^^^
4-1-2016.
update 21-7-2016. 
update 10-8-2016.  
update 21-9-2016
update    1-5-2017.
update    25-1-2018.
Update   15- 2-2019.
Update.   26-2-2019.
*******************


मेरा तिरंगा आज भी ऊंचा-कविता-करणीदानसिंह राजपूत






कविता
 मेरा तिरंगा आज भी ऊंचा
   -  करणीदानसिंह राजपूत

मेरा तिरंगा आज भी ऊंचा
मेरे नाम की चतुर्दिक गूंज
मैं प्रगति की ओर निरंतर
आगे बढ़ता जा रहा

तुम्हारी ओछी सोच
मुझे गिराने की
मेरा नाम मिटाने की
तुम लेते रहो सपने
और एक दिन
तीर उल्टा जब खाओगे
नेस्तनाबूद हो जाओगे

तुमने कितनी बार टक्करें ली
हर बार मुंह की खाई
बेशर्मी तुम्हारे जेहन में
मात खाने को फिर पागलपन
कीड़ा तुम्हारे कुलबुलाने लगा है

सच, तम्हारे में अक्ल नहीं
मोल उधार भी तो मिलती नहीं
तुम्हारा जन्म हुआ बुद्धिहीन अवस्था में
और तुम भी तो
बुद्धि वाले पैदा नहीं कर पाए

नापाक तुम और नापाक इरादे
कच्चे कोठे से ढह जायेंगे
तुम्हे तो मरना है
आत्महत्या करके
मुझे छेड़ कर
यही तो कर रहे हो
--------------------

करणीदानसिंह राजपूत,
स्वतंत्र पत्रकार
23, करनाणी धर्मशाला,
सूरतगढ़  335 8o4
राजस्थान
94143 81356
------------------------------------------------------------
पाठकवृंद 13-8-2011 को यह कविता लिखी गई और ब्लॉग व फेस बुक पर डाली गई थी।
आज भी परिस्थितियां बदली नहीं है।

भारत सरकार जब तक पाक को जवाब नहीं देगी तब तक वह शैतानियां करता रहेगा।
up date 4-1-2016
up date 10-8-2016
up date 21-9-2016 
Up date 26-1-2017.
Up date 24-1-2018.
Up date 14-8-2018.
Up date 25-1-2019.
Up date 15-2-2019
Up date 26-2-2019.
********************

















----------------------------------------------------------


 

सूरतगढ़ एसडीएम सीता शर्मा का तबादला

दि. 25-2-2019.

सूरतगढ़ से उपखंड अधिकारी श्रीमती सीता शर्मा का स्थानांतरण छतरगढ़ उपखंड अधिकारी पद पर हुआ है।

*******




सोमवार, 25 फ़रवरी 2019

श्रीगंगानगर जिले में 5 नए डीएसपी:सूरतगढ़ में प्रतापमल केडिया

*करणीदानसिंह राजपूत *

1.प्रतापमल केडिया को सूरतगढ़ लगाया गया है। प्रताप मल को चिड़ावा से स्थानांतरित किया है। वहां जुलाई 2018 में ही लगाए गए थे। चिड़ावा में करीब 7 माह रहे।सूरतगढ़ से डीएसपी लोकेन्द्र दादरवाल का तबादला सहायक कमान्डेंट 11वीं बटालियन आर ए सी किया गया है।

2.कमल कुमार को लगाया श्रीगंगानगर ग्रामीण

3.प्रताप सिंह डूडी लगाया श्रीकरणपुर

4.जयसिंह तंवर को लगाया रायसिंहनगर

5.हुकुम सिंह होंगे अनूपगढ़ व्रताधिकारी

*160 से ज्यादा पुलिस उप अधीक्षकों के हुए स्थानांतरण व पदस्थापन*।




रविवार, 24 फ़रवरी 2019

पाक ने एक न्यूक्लियर बम फेंका तो भारत 20 बम फेंक कर हमें खत्म कर देगा-परवेज मुशर्रफ ने चेताया

पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति का यह बयान जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले के एक हफ्ते के बाद आया है। इस हमले में 40 सीआरपीएफ जवान शहीद हो गए थे। हमले की जिम्मेदारी पाकिस्तान आधारित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली थी।

February 24, 2019.

पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ ने कहा है कि अगर पाकिस्तान ने भारत पर एक भी न्यूक्लियर हमला किया तो भारत 20 न्यूक्लियर बमों से हमला कर हमें (पाकिस्तान) समाप्त कर सकता है। पाकिस्तान के अखबर डॉन में छपी रिपोर्ट के मुताबिक शुक्रवार (22-02-2019) को यूएई में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए परवेज मुशर्रफ ने कहा कि ‘भारत-पाकिस्तान के रिश्ते खतरनाक स्तर पर पहुंच चुके हैं। दोनों के बीच कोई परमाणु हमला नहीं होगा, अगर हम हिन्दुस्तान पर एक परमाणु बम से हमला करते हैं तो पड़ोसी देश 20 बमों से हमला कर हमें पूरी तरह नेस्तेनाबूद कर सकता है। इसलिए इसका सिर्फ एक ही उपाय है और वो यह कि हमें पहले उनपर 50 एटम बमों से हमला करना चाहिए ताकि वो हम पर 20 बम ना बरसा सकें। क्या आप पहले 50 बमों से हमला करने के लिए तैयार हैं?’

परवेज मुशर्रफ ने इस प्रेस वार्ता के दौरान यह भी दावा किया कि इजरायल पाकिस्तान के साथ रिश्ते स्थापित करना चाहता है। मुशर्रफ ने कहा कि देश के राजनीतिक हालात जैसे ही उनके मुताबिक हो जाएंगे वो पाकिस्तान आने के लिए तैयार हैं। मुशर्रफ ने कहा कि मेरा मानना है कि राजनीतिक वातावरण अच्छा है और मेरे पक्ष में है। परवेज मुशरर्फ ने वर्तमान इमरान सरकार का बिना नाम लिए कहा है कि ‘आधे मंत्री मेरे साथ हैं…कानून मंत्री और अटॉर्नी जनरल कभी मेरे वकील रह चुके हैं।’

पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति का यह बयान जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले के एक हफ्ते के बाद आया है। इस हमले में 40 सीआरपीएफ जवान शहीद हो गए थे। हमले की जिम्मेदारी पाकिस्तान आधारित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली थी। इस हमले के बाद भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ कड़ा रुख अख्तियार किया है और उससे ‘मोस्ट फेवरेट नेशन’ का दर्जा वापस ले लिया है। इतना ही नहीं भारत ने पाकिस्तान से आयात होने वाली वस्तुओं पर 200 फीसदी टैक्स भी बढ़ा दिया है।

बता दें कि मुशर्रफ ने साल 1999 में पाकिस्तान में तख्ता पलट किया था और पूर्व राष्ट्रपति नवाज शरीफ को गद्दी से हटा दिया था। मुशर्रफ उसके बाद पाकिस्तान के सैन्य शासक बन गए थे। पाकिस्तान की पार्टी ऑल पाकिस्तान मुस्लिम लीग के मुखिया परवेज मुशर्रफ यूएई में रहते हैं और वहां अपना इलाज करवा रहे हैं।

जनसत्ता ऑनलाइन


ईरानी सेना के जनरल ने पाकिस्‍तान को धमकाया


* एटम बम रखते हो, एक आतंकी समूह नहीं खत्‍म कर सकते?*

सुलेमानी आगे बोले, "हम पाकिस्तान से मैत्रीपूर्ण भाव से बात कर रहे हैं। हम यह बताना चाहते हैं कि आप अपनी सीमाओं को पड़ोसी मुल्कों के लिए असुरक्षा का स्रोत न बनने दें। अगर किसी और ने ऐसा किया, तो आपका देश बुरी तरह बिखर जाएगा।"

February 24, 2019.


ईरान की सेना के जनरल ने पाकिस्तान को खुली धमकी है। उन्होंने पूछा, “आप एटम बम रखते हो, पर एक आतंकी समूह नहीं खत्म कर सकते?” ईरान्स इस्लामिक रेव्यूल्यूशन गार्ड्स कॉर्प (आईआरजीसी) में कुद्स बल के कमांडर जनरल कासिम सुलेमानी देश के सर्वोच्च नेता अयातुल्ला अली खामेनी को सीधे रिपोर्ट करते हैं।

जनरल बोले, “हमने पाकिस्तान को हमेशा मदद की पेशकश की है, पर वहां की सरकार से मेरा सवाल है- आप लोग किस दिशा में जा रहे हैं? आपके सभी पड़ोसी देशों की सरहदों पर तनाव और अशांति का माहौल है। क्या कोई और पड़ोसी मुल्क बचा है, जिसे आप असुरक्षित महसूस कराना चाहते हैं?”

बकौल सुलेमानी, “आपके पास तो एटम बम है। फिर भी आप उस क्षेत्र में सक्रिय आतंकी संगठन को खत्म नहीं कर पा रहे हैं? चलिए यही बता दीजिए कि विभिन्न आतंकी ऑपरेशंस में आपके कितने लोग मारे? हमें आपकी सांत्वना नहीं चाहिए, आपकी सांत्वना ईरानी लोगों की कैसे मदद करेगी?”

उनके मुताबिक- पाकिस्तानी सेना को यूं खरबों डॉलर की बर्बादी नहीं करनी चाहिए और न ही उसे आतंकी संगठनों की फंडिंग करनी चाहिए। मैं पाकिस्तानी सरकार से पूछना चाहता हूं कि कि अब आपके देश के लिए आपने क्या बचा कर रखा है? मैं चेता देता हूं कि आप ईरान के सब्र की परीक्षा न लें। जिसने भी ईरान के साथ ऐसा किया है, उसे कड़ा जवाब दिया गया है।

सुलेमानी आगे बोले, “हम पाकिस्तान से मैत्रीपूर्ण भाव से बात कर रहे हैं। हम यह बताना चाहते हैं कि आप अपनी सीमाओं को पड़ोसी मुल्कों के लिए असुरक्षा का स्रोत न बनने दें। अगर किसी और ने ऐसा किया, तो आपका देश बुरी तरह बिखर जाएगा। ईरान अपने जवानों की शहादत का बदला लेगा उन आतंकियों से लेगा, जिन्होंने ये अपराध किया। फिर चाहे वे दुनिया में कहीं भी हों, मगर हम उन्हें नहीं बख्शेंगे। हम किसी भी कीमत पर अपने युवाओं को उनका शिकार नहीं बनने देंगे।”

जनसत्ता आन लाइन



शनिवार, 23 फ़रवरी 2019

जम्मू-कश्मीर में कुछ बड़ा होने वाला है-सुरक्षा बलों की 100 कंपनियां भेजी गई


23 Feb 2019.

पुलवामा हमले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस फोर्स के 40 जवानों के शहीद होने के बाद अब जम्मू-कश्मीर में पिछले 24 घंटों में हालात तेजी से बदले हैं। एक तरफ जवानों की संख्या बढ़ाई जा रही है तो वहीं, जवानों की छुट्टियां रद कर आम लोगों से राशन आदि जुटाने को कह दिया गया है।


पुलवामा हमले के बाद पीएम मोदी ने आतंकियों को दी थी चेतावनी


नई दिल्ली

क्या पुलवामा आतंकी हमले के बाद केंद्र सरकार जम्मू-कश्मीर में बड़ी निर्णायक कार्रवाई करने वाली है? पिछले 24 घंटे में जिस तेजी से हालात बदले हैं उससे इसके पुख्ता संकेत मिलने लगे हैं। 

पूरी घाटी में अलगाववादी नेताओं पर बड़ी कार्रवाई करते हुए यासीन मलिक सहित जमात-ए-इस्लामी के लगभग दो दर्जन नेताओं को अरेस्ट किया गया है। इसके अलावा घाटी में सुरक्षा व्यवस्था पिछले तीन दशकों में सबसे कड़ी करने की पहल की गई है। हालात का अंदाजा इसी बात से लगा सकते हैं कि अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने भी कह दिया है कि हालात नाजुक हैं और भारत कुछ बड़ा करने की सोच रहा है। हालांकि अमेरिका, चीन सहित कई देशों ने तनाव कम करने के लिए दोनों देशों से संपर्क भी साधा है।


धारा 35 ए पर सरकार कड़ा स्टैंड लेने को तैयार


 मोदी सरकार आम चुनाव से पहले धारा 35 ए पर कड़ा स्टैंड अपना सकती है। अगले हफ्ते एक याचिका पर सुनवाई हो सकती है जिसमें इस धारा की वैधता पर सवाल उठाए गए हैं। सरकार सुप्रीम कोर्ट में अपना पक्ष रखते हुए कह सकती है उसे इस धारा को हटाने से आपत्ति नहीं है और धारा 370 के मूल अवधारणा में यह नहीं थी। गौरतलब है कि धारा 35 ए के तहत जम्मू-कश्मीर में वहां के मूल निवासियों के अलावा देश के किसी दूसरे हिस्से का नागरिक कोई संपत्ति नहीं खरीद सकता है। इससे वह वहां का नागरिक भी नहीं बन सकता है। धारा 35ए पर सरकार अध्यादेश भी ला सकती है। 1954 में इस धारा को धारा 370 के तहत दिए अधिकारों के अंतर्गत ही जोड़ा गया था। धारा 370 को हटाना बीजेपी का हमेशा से राजनीतिक स्टैंड भी रहा है। 


पूरा कश्मीर हाई अलर्ट पर


इन हालातों से लगता है कि कश्मीर को हाई अलर्ट पर रखा गया है और हाल के वर्षों की सबसे अभूतपूर्व सुरक्षा व्यवस्था की गई है।

 शुक्रवार 22-2-2019 को देर शाम गृह मंत्रालय ने जम्मू-कश्मीर में तत्काल प्रभाव से केंद्रीय सशस्त्र पुलिस फोर्स ( CAPF) की 100 अतिरिक्त कंपनियों को तैनात करने का आदेश जारी किया। इनमें 45 सीआरपीएफ, 35 बीएसएफ, 10 एसएसबी और 10 आईटीबीपी की कंपनियां शामिल हैं।


आमतौर पर एक कंपनी में सैनिकों की संख्या 100 से 120 तक होती है। इन्हें तुरंत कश्मीर कूच करने को कहा गया है। इसके अलावा कश्मीर में मौजूद सभी जवानों की छुट्टियां रद कर दी गईं है। रिजर्व सैनिकों को अल्प नोटिस पर कूच करने के लिए तैयार रहने को कहा गया है। रक्षा विशेषज्ञ सी उदयभास्कर ने एनबीटी से कहा कि एक साथ 100 कंपनियों को वहां भेजना अभूतपूर्व है और ऐसा कभी कभार होता है।

उन्होंने कहा कि इससे लगता है कि वहां दुर्भाग्यवश हालात उतने बेहतर नहीं हैं। पुलवामा आतंकी हमले के बाद गार्ड की भूमिका में लगे सीआरपीएफ के अलावा इस काम में बीएसएफ,आईटीबीपी को भी लगाया गया है। अधिकारियों के अनुसार चूंकि अधिकतर जवानों को लॉ ऐंड ऑर्डर ड्यूटी में लगाया गया है ऐसे में इसमें फेरबदल किया जा रहा है।

नाजुक हालात को देखते हुए जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने आम लोगों को किसी तरह दिक्कत नहीं हो, इसके लिए दवा और राशन का पर्याप्त स्टॉक करने को कहा है। इसके लिए स्थानीय प्रशासन की ओर से निर्देश जारी किए गए हैं। वहीं, खुफिया एजेंसियों के अनुसार पूरी घाटी में अफवाहें फैलाकर भी अशांति फैलाने की कोशिश की जा सकती है। सरकार ने खुफिया एजेंसियों को सतर्क रहते हुए सुरक्षा बलों से लगातार संपर्क में रहने को कहा है।


फूड डिपार्टमेंट का आदेश


वहीं, कूटनीतिक स्तर पर भी भारत का पाकिस्तान को घेरने का सिलसिला जारी है। मुस्लिम बहुल देशों के शक्तिशाली संगठन OIC के विदेश मंत्रियों के उद्घाटन सत्र में भारत को आमंत्रित किया गया है और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज अगले महीने अबू धाबी में इसमें ‘गेस्ट ऑफ ऑनर’ के तौर पर शरीक होंगी।


कहां किसकी तैनाती


एलओसी पर- सेना के जवान

इंटरनैशनल बार्डर पर- बीएसएसफ के जवान

जम्मू-कश्मीर के अंदर- सीआरपीएफ के जवान।

( नभाटा. साभार)

शुक्रवार, 22 फ़रवरी 2019

केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल देश का शक्तिशाली गौरव

--------- यह रूपक 26-2-2016 को राजस्थान में आकाशवाणी के सभी केन्द्रों से एकसाथ प्रसारित हुआ था।


रूपक- करणीदानसिंह राजपूत,

23,करनाणी धर्मशाला,

सूरतगढ़।

मो.फोन. 94143 81356.

==================================================

उदघोष ध्वनि...........

ध्वनि के साथ-

पुरूष आवाज-राजस्थान की रण विजेता धरती के श्रीगंगानगर जिले के विश्व विख्यात सूरतगढ़ में सूर्याेदयनगरी क्षेत्र में इंदिरागांधी नहर की टिब्बा कॉलोनी है।


नारी -आवाज-इस कॉलोनी के एक तरफ आकाश छूते रेतीले टिब्बे हैं और दूसरी ओर मैदानी लहलहाते खेत।


पुरूष आवाज-यह एक ऐसा क्षेत्र है जहां देश के लिए कुछ कर गुजरने का जोश पैदा होने लगता है।


नारी आवाज-कुछ कर गुजरने की कहानी....रोमांचित होने की कहानी। देश के गौरव की कहानी हर कोई सुनना चाहेगा।


पुरूष आवाज-यह कहानी है सीआरपीएफ की कहानी। केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल की कहानी... जिसमें साधारण जवानों को विभिन्न तरह की ट्रेनिंग से सुदृढ जवानों में ढाल दिया जाता है।


नारी आवाज-ये जवान देश के विभिन्न क्षेत्रों में विभिन्न राज्यों में विभिन्न प्रकार की सुरक्षा सेवाओं में बुलंद हौंसले और जोश के साथ कर्तव्य पर डट जाते हैं।


पुरूष आवाज-ध्यान से सुनें यह केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल की कहानी जो कल आपके  या किसी के भी परिवार को नया रास्ता दिखलाने वाली हो सकती है।


नारी आवाज-सूर्याेदय की पहली किरण के साथ ही भारत माता के जय घोष और सीआरपीएफ सदा अजेय के नारों के साथ शुरू होती है ट्रेनिंग।


पुरूष आवाज- कदम ताल.... दाएं बाएं.... दाएं बाए.... लेफ्ट राईट...लेफ्ट

राईट...दौड़...कूद...ऊंची कूद...लम्बी कूद...। दौड़।


नारी आवाज- संपूर्ण मैदान में जवानों की हलचल शुरू हो जाती है।


पुरूष आवाज-सच में यह ड्रिल देखने वाली होती है। एकटक देखते रहें और इतना खो जाएं कि समय का ध्यान ही नहीं रहे।


नारी आवाज- यही तो खासियत होती है जो जवानों को सुदृढ जवानों में ढाल देती है।


पुरूष आवाज-ये ड्रिल कौन कौनसी होती है और किस तरह के कर्तव्यों या ड्यूटी में काम आती हैं। इसकी जानकारी जरूरी है कि आखिर केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल को किस तरह के कार्य करने होते हैं।


नारी आवाज- भीड़ नियंत्रण जो कभी साधारण नहीं होती। समारोहों की भी भीड़ हो सकती है तो दंगाईयों की भीड़ भी हो सकती है। लाठी पत्थरों वाली भीड़ भी हो सकती है और हथियारों वाली भीड़ भी हो सकती है। यानि कि दंगाईयों की भीड़। जिसका नियंत्रण भी करना होता है।


पुरूष आवाज- आतंकवाद विरोधी आपरेशन में भी ड्यूटी होती है।


नारी आवाज- वाम चरम पंथ से निपटने का कार्य भी बड़ी होशियारी से करना होता है।

पुरूष आवाज- देश में कहीं न कहीं चुनाव भी होते रहते हैं। इनमें बड़े चुनाव में मतदान के वक्त जहां पर संवेदनशील इलाके हों...तनाव वाले इलाके हों...वहां ड्यूटी करना और बड़े पैमाने पर सुरक्षा व्यवस्था का कार्य करना होता है।


नारी आवाज-अति विशिष्ट लोगों की सुरक्षा का प्रबंध करना होता है।


पुरूष आवाज- अति विशिष्ट स्थलों की सुरक्षा का दायित्व भी सौंपा जाता है।


नारी आवाज - युद्धकाल में आक्रमण से बचाव का कार्य।


पुरूष आवाज- संयुक्त राष्ट्र संघ के शांति मिशन में भी जरूरत होने पर शामिल होने की ड्यूटी हो सकती है।


नारी आवाज- प्राकृतिक आपदाओं के समय बचाव व राहत कार्यों में ड्यूटी। भूकम्प बाढ़ और अन्य प्रकार की आपदाएं भी हो सकती हैं।


पुरूष आवाज- हमारे देश में कहीं पहाड़ कहीं रेतीले और कहीं दुर्गम जंगली वन क्षेत्र..जहां पर पर्यावरण सुरक्षा और जीवों की सुरक्षा में भी ड्यूटी लग सकती है।


नारी आवाज- यानि कि अलग अलग रोमांच को अनुभव करने की ड्यूटियां....वाह कितनी शानदार और जानदार रहती हैं ये ड्यूटियां।


पुरूष आवाज- जब इतनी प्रकार की दुरूह कर्तव्यों पर दिन रात सेवाएं होती हैं तो निश्चित है कि ये सभी ड्यूटियां आधुनिक हथियारों व साधनों के बिना नहीं हो सकती। जवानों व अधिकारियों को क्या क्या सीखना और अपने पास में रखना होता है।


नारी आवाज-प्रशिक्षण में मनोबल और हथियार दोनों काम देते हैं।


पुरूष आवाज- जवानों के पास आधुनिक हथियार और उनको चलाने का प्रशिक्षण। ऐसे उपकरण जिनसे रात्रि में देखा जा सके। उच्च तकनीक वाले रेडियो संपर्क उपकरण। इलाके की भौगोलिक स्थिति, नक्शे समझने और वनों की जानकारी। इन सबको ध्यान में रख कर प्रशिक्षण पाठ्यक्रम तैयार किया जाता है। बैंड की ध्वनि के साथ...


पुरूष आवाज- केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल आज विश्व का सबसे बड़ा अद्र्ध सैनिक बल है। विश्व के बड़े लोकतांत्रिक भारत देश में आवश्यकता के अनुरूप सेवाओं में ढाल कर यह बल कर्तव्य निर्वहन करता है। इसके कर्तव्यों की कई जानकारियां आपने सुनी लेकिन राज्यों की आवश्यकता के अनुसार भी यह बल अपनी सेवाएं देता है। इन्हीं सेवाओं के अनुरूप ही प्रशिक्षण व अभ्यास यानि कि ड्रिल करवाई जाती है।

ड्रिल की आवाजें विभिन्न ध्वनियां....


नारी आवाज- यूनिफार्म ड्रिल,हथियार ड्रिल, वाहन ड्रिल,रात्रि ड्रिल,खेल कूद ड्रिल आदि। इसके अलावा हेलि स्लिंदरिंग का अभ्यास आत्म विश्वास बढ़ाने के लिए कराया जाता है जिसमें जँगल में रहने का प्रशिक्षण कराया जाता है।


पुरूष आवाज- इस पुलिस बल की स्थापना देश की आजादी से पहले 27 जुलाई 1939 के दिन मध्यप्रदेश के नीमच स्थान पर हुई थी। उस समय इसका नाम क्राउन रिप्रजेन्टेटिव पुलिस था। आजादी के बाद 28 दिसम्बर 1949 को इसका नाम बदल कर केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल कर दिया गया। आजादी के बाद इसके कर्तव्य में बदलाव आ गया और बहुआयामी सेवाओं में इसने सदैव अपनी दक्षता का उच्च कोटि का परिचय दिया।


नारी आवाज-चाहे वाम पंथी उग्रवादियों का क्षेत्र हो,चाहे पूर्वाेत्तर का खतरनाक पहाड़ी इलाका हो,चाहे पंजाब के कट्टर उग्रवादी हों,चाहे जम्मू कश्मीर में पनप रहे आतंकवादी हों,हर खतरनाक जान जोखिम संघर्ष में केन्द्रीय रिजव पुलिस बल ने अपना उत्तरदायित्व बखूबी निभाया।


पुरूष आवाज- अमरनाथ यात्रा,जम्मू कश्मीर आँदोलन,कंधमाल जैसी घटना हो,सभी में केन्द्रीय रिजव पुलिस बल की भूमिका सराहनीय रही है।

नारी आवाज-केन्द्रीय रिजव पुलिस बल आज तीन अति कठिन इलाकों पूर्वाेत्तर विद्रोह,जम्मू कश्मीर आतंकवाद और वामपंथी उग्रवाद यानि कि नक्सलियों से प्रभावित क्षेत्र में ड्यूटी पर लगी हुई है।

नारी आवाज- नक्सलवादियों से प्रभावित क्षेत्र में सबसे अधिक ध्यान देना पड़ता है जहां पर इलाकाई जटिलताएं गंभीर है। नक्सलवादी आम नागरिकों पर,पुलिस पर और गश्ती दलों पर घात लगा कर हमले करते रहे हैं। वे लोग राष्ट्रीयता से दूर अपनी निम्र सोच के अनुसार आम नागरिकों को विकास से दूर रखना खहते हैं। लोगों के जीवन पर अपना अधिकार बनाए रखना चाहते हैं। ऐसी स्थिति में कोई भी सरकार अपने नागरिकों का जीवन खतरे में नहीं डाल सकती।

पुरूष आवाज-  केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल की नियुक्ति से नक्सलवादियों के हमले कम हुए हैं तथा आम नागरिकों के मारे जाने की संख्या भी कम हुई है।


नारी आवाज- केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल नक्सलवादियों से गैर कानूनी हथियार बरामद करने में भी सफल रही है।


पुरूष आवाज- केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल के विशेष संगठन कोबरा कमांडो को 24 नवम्बर 2011 के आक्रामक अभियान में बड़ी सफलता मिली थी। दुरूह इलाकों में जहां पर नागरिक प्रशासन व पुलिस प्रशासन नहीं पहुंच पाया था वहां पर कोबरा कमांडो ने पहुंच कर आक्रामक कार्यवाही की जिससे नक्सली भाग खड़े हुए। इस प्रकार के इलाकों में आम नागरिकों के लिए अनेक प्रकार की सुविधाएं देने दिलाने में भी केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल का विशेष सहयोग रहता है।


नारी आवाज- बुनियादी प्रशिक्षण के बाद अनेक प्रकार के विशेष प्रशिक्षण

दिए जाते हैं जिनके कारण ही कोबरा कमांडो आदि को सफलता मिलती है और केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल सदा अजेय का नारे की गगनचुम्बी गूंज होती है।


पुरूष आवाज- केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल ने पाकिस्तान के साथ हुए दो युद्धों 1965 और 1971 में अपनी उच्च कोटि की ड्यूटी देकर शौर्य दिखलाया।


नारी आवाज-संसद भवन पर 13 दिसम्बर 2001 को आतंककारी हमले में केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल ने अपनी इसी शौर्य एवं वीरता का अनूठा परिचय दिया और इतिहास में नाम लिखाया। केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल ने केवल 30 मिनट के अल्प समय में 5 आतंकवादियों को मार गिराया और हमारे जप प्रतिनिधियों व वहां कार्यरत अधिकारियों व कर्मचारियों की रक्षा की।


पुरूष आवाज- केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल को इसीलिए अनेक प्रकार के

प्र्र्र्रशिक्षण दिए जाते हैं। प्रशिक्षण में जितना अधिक पसीना बहाऐंगे,युद्धकाल व अन्य खतरनाक हालातों में उतना ही कम खून बहाना पड़ेगा। यह भी संभव है कि खून बहाए बिना ही आतंकवादियों,उग्रवादियों व नक्सलवादियों की सफलता से पकड़ हो और उन पर अंकुश लगे।


नारी आवाज- जवानों की ट्रेनिंग कभी खत्म नहीं होती। सदा अजेय रहने के लिए सदा नए नए प्रशिक्षण चलते ही रहते हैं।


पुरूष आवाज- सीआरपीएफ के जवानों के रोमांचकारी स्टंट प्रदर्शन भी देखने वाले दांतो तले अंगुलियां दबा लेते हैं। जवान की छाती रखा शिलाखंड तोडऩा। जवान की छाती पर से मोटरसाईकलों का गुजरना। आग के गोले में से छलांग लगाना आदि अनेक स्टंट प्रदर्शन।

 -समापन-

::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::


बुधवार, 20 फ़रवरी 2019

सूरतगढ़ क्षेत्र में तेज वर्षा:ठंड बढ़ी


* करणी दान सिंह राजपूत *

 20 फरवरी की शाम को मामूली वर्षा से शुरुआत हुई और रात को 11:00 बजे के बाद इलाके में तेज बरखा शुरू हो गई। एक प्रकार से इस मौसम की इस क्षेत्र में पहली तेज वर्षा है।

बरखा से सर्दी बढ गई है।

सूरतगढ़ पुलिस ने नकली नोट छापने वाला मुखिया गिरफ्तार किया


* करणी दान सिंह राजपूत*

 तीन राज्यों राजस्थान पंजाब हरियाणा में नकली नोट का धंधा करने वाले गिरोह के तीन जनों की गिरफ्तारी के बाद सूरतगढ़ पुलिस को बहुत बड़ी कामयाबी मिली है। इस गिरोह का मुखिया सुरजीत निवासी हुडीना( महेंद्रगढ-हरियाणा )को पुलिस ने नारनौल हरियाणा से गिरफ्तार किया।

इसके घर से नकली नोट छापने की सामग्री प्रिंटर इंक कागज नंबरिंग मशीन आदि पुलिस पहले बरामद कर चुकी थी।नकली नोट भी 20 हजार रूपये छपे हुए बरामद हुए थे। सूरतगढ़ के थाना अधिकारी पुलिस इंस्पेक्टर निकेत कुमार पारीक ने बताया कि 13 फरवरी को मुकदमा दर्ज किए जाने के बाद तत्परता से बनाई गई टीम और तत्परता से हुए कार्य से गिरफ्तारियां हुई जिसके कारण बहुत बड़ा अपराध इस क्षेत्र में पकड़ा गया। अभी मुखिया को गिरफ्तार किया गया है जिसका 22 फरवरी तक अदालत से रिमांड प्राप्त हुआ है।

आगे अनुसंधान में और कार्यवाही होने की पूर्ण संभावना है।

सूरतगढ़ में 2000 के नकली नोट प्रचलन में आने की सूचना पर पुलिस ने सूरतगढ़ के अश्विनी पुत्र प्रसाद गिरी और मोहम्मद हुसैन को पकड़ा इनसे 40,000 के नकली नोट बरामद हुए।इसके बाद अबोहर के अंग्रेज सिंह को पकड़ा और 20 के नोट बरामद हुए। इसका एक समाचार अलग से इसी साइट पर चल रहा है।

सोमवार, 18 फ़रवरी 2019

मतदाता जागरूकता रथ रवाना: 6 विधानसभाओं में ईवीएम व वीवीपेट की देगें जानकारी

श्रीगंगानगर, 18 फरवरी 2019.

भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार लोकसभा आम चुनाव 2019 के दौरान मतदाताओं को जागरूक करने के लिये जिले की 6 विधानसभाओं में प्रचार रथ रवाना किये गये।

जिला कलक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री शिवप्रसाद मदन नकाते ने प्रचार रथों को सोमवार को कलेक्ट्रेट परिसर से हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। उन्होंने बताया कि जिले की 6 विधानसभाओं  के लिये 12 प्रचार रथ रवाना किये गये है। यह रथ होर्डिग्स, बैनर तथा ऑडियों, विडियों के माध्यम से मतदाताओं को जागरूक करेंगे। प्रचार रथों पर अब कोई मतदाता नही छुटेगा, निर्भय हो मतदान करेगें, देश का हम सम्मान करेंगे, के स्लोगन लिखे हुए है। प्रचार रथों के माध्यम से ईवीएम व वीवीपेट की जानकारी दी जायेगी। 

इस अवसर पर उपजिला निर्वाचन अधिकारी श्री नख्तदान बारहठ, मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद श्री अजीत सिंह, उपनिदेशक लोक सेवाएं श्री मुकेश बारहठ सहित कलेक्ट्रेट परिसर के अधिकारी व चुनाव शाखा के अधिकारी उपस्थित थे। 





सांसद निहाल चंद कोटे की राशि सदुपयोग करने में राजस्थान में प्रथम

* करणीदानसिंह राजपूत *

राजस्थान के 25 संसदीय क्षेत्रों में गंगानगर के सांसद एवं पूर्व केन्द्रीय राज्यमंत्री श्री निहालचंद ने सर्वाधिक राशि का उपयोग विकास व निर्माण कार्यों में किया है। 

जिला परिषद से मिली जानकारी के अनुसार गत 5 वर्षों में प्रत्येक सांसद को सांसद क्षेत्र  विकास योजना में 25-25 करोड़ रूपये की राशि निर्माण व विकास के लिये दी गई थी। सांसद श्री निहालचंद ने दिसम्बर 2018 तक 25 करोड़ में से 22.5 करोड़ रूपये की राशि का सदुपयोग कर राज्य में पहला स्थान प्राप्त किया है। इसी प्रकार देश में 40वां स्थान रहा है। श्री निहालचंद ने छत्तीस प्राईवेट बिलों में से तीन बिल स्वयं प्रस्तुत कर 23वीं रैंक प्राप्त की है। इसी प्रकार संसद में उपस्थिति 89.19 प्रतिशत रही, जो उपस्थिति की 40वीं रैंक है। श्री निहालचंद द्वारा संसद में लगभग 37 बार विभिन्न महत्वपूर्ण विषयों पर बहस की गई। 

रविवार, 17 फ़रवरी 2019

कश्मीर के हुर्रियत व अलगाववादी नेताओं की सुरक्षा हटी. हर साल करोड़ों खर्च करती थी सरकार

जम्मू कश्मीर के पुलवामा में आतंकी हमले के बाद केंद्र सरकार की सख्ती के बाद जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने हुर्रियत और अलगाववादी नेताओं की सुरक्षा हटा ली है। 

गृहमंत्रालय के आदेश के बाद कश्मीर के हुर्रियत और अलगाववादी नेता मीरवाइज उमर फारूक, अब्दुल गनी बट्ट, बिलाल लोन, फजल हक कुरैशी, शब्बीर शाह की सरकारी सुरक्षा हटा ली गई है। सुरक्षा के साथ-साथ उन्हें मिल रही सारी सरकारी सुविधाएं छीन ली गई है। 

पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद सरकार ने यह बड़ा फैसला किया। इस हमले में देश से अपने 40 जवानों को खो दिया। 

 केंद्र सरकार इन अलगाववादी और हुर्रियत नेताओं की सुरक्षा पर करोड़ों रूपये खर्च करती है। 

 पिछले साल छपी एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक केंद्र सरकार ने पिछले 10 सालों में जम्मू कश्मीर के हुर्रियत नेताओं की सुरक्षा पर करीब 11 करोड़ रुपए खर्च किए हैं। हुर्रियत के 14 नेताओं पर सरकार ने साल 2008 से लेकर साल 2017 के बीच सुरक्षा मद में 11 करोड़ की मोटी रकम खर्च की। हुर्रियत के कई नेताओं को 5 सिक्योरिटी गार्ड और 4 पर्सनल सिक्योरिटी ऑफिसर मिले हुए थे,जिसे सरकार ने अब हटा लिया है।


हुर्रियत नेता उमर फारूख पर साल 2015 में  सुरक्षा पर 34 लाख रुपए खर्च किए गए तो साल 2016 में 36 लाख रुपए और साल 2017 में  37 लाख रुपए खर्च कर दिए। 

साल 2015 से 2017 के बीच हुर्रियत नेता प्रोफेसर अब्दुल गनी बट की सुरक्षा और ट्रांसपोर्टेशन पर करीब 2.15 करोड़ रुपए खर्च किए गए। 

जबकि इसी दौरान आगा सैयद हसन मौलवी, मौलवी अबास अन्सारी और बिलाल गनी लोन की सुरक्षा पर 1 करोड़ रुपए खर्च किए गए।


पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद सरकार ने कश्मीर के इन हुर्रियत नेताओं की सुरक्षा और सरकारी सुविधाएं हटा ली है। 


श्रीगंगानगर लोकसभा सीट:भाजपा टिकट:अशोक आसेरी भी दावेदार(गैर मेघवाल)


श्री गंगानगर लोकसभा चुनाव 2019 के लिए इस बार भारतीय जनता पार्टी की टिकट के लिए चर्मकार समुदाय के भाजपा नेता इंजीनियर अशोक कुमार आसेरी ने भी दावा किया है।


 श्री गंगानगर लोकसभा सीट पर  करीब 18 लाख 50 हजार वोट है जिनमें  31-32 प्रतिशत करीब 6 लाख वोट अनुसूचित जाति वर्ग के हैं।



(मेघवाल समाज)


 मेघवाल समुदाय के सूरतगढ़ विधानसभा क्षेत्र में 17 से 19 हज़ार रायसिंहनगर में 12 से 14 हजार श्रीकरणपुर में  12 से 14 हजार श्रीगंगानगर में 15 हजार संगरिया में 10 हजार  पीलीबंगा में 25 हजार हनुमानगढ़ में 15 हजार सादुलशहर में 15 हजार हैं।

 अनुमान है कि 127000 मेघवाल वर्ग के वोट हैं जिन्हें अधिकतम माना जाए तो 140000 के करीब है।

 इनमें करीब मतदान 90,000 का होता है। 


(चर्मकार वर्ग)

(मोची खटीक रेगर सांसी आदि)


 सूरतगढ़ विधानसभा क्षेत्र में 4000 रायसिंहनगर में  7000 श्रीकरणपुर 4000 श्री गंगानगर में  35000 संगरिया में 8000 पीलीबंगा में 15000 हनुमानगढ़ में 5000 सादुल शहर में 4000 करीब हैं जो कुल  82000 वोट है। मतदान में 50000 वोट पड़ते हैं।


इस बार भी भारतीय जनता पार्टी को  वोट मोदी के नाम से ही मिलेंगे इसलिए चर्मकार वर्ग ने भी अपना दावा शक्तिशाली तथ्यों से पेश किया है।

कि टिकट चर्मकार वर्ग में से दी जाए।


इस दावे के अंदर यह मानना है कि विधानसभा चुनाव 2018 में बीकानेर संभाग में 5 विधानसभा क्षेत्र आरक्षित थे। जिनमें दो सुजानगढ़ और खाजूवाला मेघवाल समुदाय को दिए गए और यह दोनों सीटें भारतीय जनता पार्टी हारी।  गैर मेघवाल समुदाय में 3 सीटें दी गई जो सभी जीती, जिनमें पीलीबंगा में धर्मेंद्र मोची चर्मकार वर्ग  जीते। रायसिंहनगर से बलवीर लूथरा रामदासिया वर्ग से जीते। अनूपगढ़ से श्रीमती संतोष बावरी बावरी वर्ग से जीती। श्री गंगानगर 8 विधानसभा क्षेत्रों में से दो रिजर्व है रायसिंहनगर और अनूपगढ़ दोनों पर गैर मेघवाल जीते।


अब आप देखिए कि मेघवाल समुदाय से दो व्यक्ति जो कि अन्य पार्टियों के थे वह पराजित हुए। पीलीबंगा से कांग्रेस के विनोद गोठवाल  हार गए। रायसिंहनगर से शोपत मेघवाल खड़े हुए मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी की तरफ से जो हारे। 


दावे अपने अपने स्तर से अलग अलग हैं श्री गंगानगर सीट पर इस बार यह दावा चर्मकार वर्ग से अशोक आसेरी जीनगर ( मोची) ने प्रस्तुत किया है। करीब 48 वर्षीय अशोक आसेरी क्षेत्र में समाज सेवा में और राजनीति में लोकप्रिय माने जाते हैं। भाजपा के हर अभियान में सक्रिय रहने वाले अशोक आसेरी अन्य सामान्य वर्ग में भी लोकप्रिय हैं।

************



मदन लाल कस्वां का शव मिला: इंदिरा गांधी नहर में बख्तावरपुरा के पास


 ^^ करणी दान सिंह राजपूत ^^


सूरतगढ़ की राजनीति और समाज सेवा में लोकप्रिय मदन लाल कस्वां  निवासी जानकीदास वाला 9 फरवरी रात्रि करीब 8:00 बजे इंदिरा गांधी नहर की बुर्जी संख्या 285 पर मोबाइल पर वार्ता करते हुए अंधेरे में फैसले और नहर में गिर गए थे।


 उसके बाद खूब भागदौड़ हुई पुलिस प्रशासन और पारिवारिक रूप से नहर में तलाश शुरू हुई। दिन रात तलाश हुई।एक एक दिन उम्मीदों के सहारे बीत रहा था। 

शनिवार दिनांक 16-2-2019 मध्य रात्रि के बाद बख्तावरपुरा के पास उनका शव नहर में ऊपर आया। आठवें दिन जाकर यह शव मिला।

उनका अंतिम संस्कार गांव में रविवार 17 फरवरी को किया गया।

 मदनलाल कस्वां इलाके में लोकप्रिय व्यक्ति रहे हैं।

उनकी धर्मपत्नी सूरतगढ़ कृषि उपज मंडी समिति की अध्यक्ष रह चुकी हैं। लोगों का मानना है कि ईश्वर इस प्रकार की दुर्घटना मृत्यु किसी को भी नहीं दे।


यह ब्लॉग खोजें