गुरुवार, 20 दिसंबर 2018

सूरतगढ़ थर्मल की राख का खुले में ढुलाई न होः- जिला कलक्टर


श्रीगंगानगर, 20 दिसम्बर 2018.

जिला कलक्टर  ज्ञानाराम ने कहा कि सूरतगढ क्रिटीकल थर्मल पॉवर स्टेशन से निकलने वाली राख का खुले में परिवहन न हो, इसके लिये राजस्थान राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अधिकारी समय-समय पर निरीक्षण करें। 

जिला कलक्टर गुरूवार को कलेक्ट्रेट सभाहॉल में जिला स्तरीय औद्योगिक समिति की बैठक में आवश्यक निर्देश दे रहे थे। उन्होंने कहा कि थर्मल की राख को सीमेंट सहित कई अन्य ईकाईयां परिवहन करती है। खुली राख से प्रदूषण फैलता है, इसलिये बंद कंटेनरों में ही राख का परिवहन किया जाये। प्रदूषण विभाग भी समय-समय पर निरीक्षण कर व्यवस्था सुनिश्चित करेंगें। 

बैठक में रिको में सफाई व्यवस्था बनाये रखने के निर्देश दिये। बैठक में राजस्थान वित निगम के पास विचारनीय प्रकरणों, राजस्थान विद्युत मंडल के पास 21 विचारनीय प्रकरणों, रिक्को, पेयजल कनेक्शन नगरपालिकाओं द्वारा दिये जाने वाले लाईसेंस, वाटर पोल्यूशन कन्ट्रोल बोर्ड तथा फैक्ट्री एवं बॉयलर्स एक्ट के अंतर्गत विचारनीय प्रकरणों पर चर्चा हुई तथा जिला कलक्टर ने आवश्यक निर्देश दिये। 

जिला कलक्टर ने रीको के अधिकारियों को निर्देशित किया कि जिले में जहां भी औद्योगिक क्षेत्र है, उस भूमि को अधिसूचित श्रेणी से मुक्त करवाने के लिये संबंधित एसडीएम के पत्रावली प्रस्तुत करें तथा प्रस्तुत पत्रावलियों में जो पूर्ति की जानी है, आवश्यक पूर्ति कर भूमि को अधिसूचित श्रेणी से मुक्त करवाने की कार्यवाही करावें। 

बैठक में उधोग केन्द्र की महाप्रबंधक श्रीमती मंजू नैण गोदारा, रिक्को के क्षेत्रीय प्रबंधक, राजस्थान वित्त निगम के प्रबंधक, विधुत विभाग के अधिशाषी अभियंता, वाणिज्य एवं प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अधिकारियों ने भाग लिया। 


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें