बुधवार, 9 मई 2018

श्रीगंगानगर में सफाईकर्मियों की हड़ताल से मोदी का स्वच्छता अभियान फेल

कलक्टर से मिले श्रीगंगानगर चैम्बर ऑफ कॉमर्स के पदाधिकारी

श्रीगंगानगर 9-5-2018.

श्रीगंगानगर गंदगी कचरे के ढेर में तबदील हो रहा है जिससे गर्मी के मौसम में बीमारियों के फैलने की आशंका हो रही है। 

प्रतिष्ठित व्यापारिक संस्था श्रीगंगानगर चैम्बर ऑफ कॉमर्स के पदाधिकारी बुधवार को जिला कलक्टर से मिले और सफाईकर्मियों की हड़ताल के चलते चरमराई शहर की सफाई व्यवस्था के मामले में वार्ता की। इस दौरान कलक्टर ने प्रशासनिक तौर पर अपना पक्ष रखते हुए व्यापारी नेताओं को वस्तुस्थिति से अवगत करवाया।

मुख्य संरक्षक जयदीप बिहाणी के नेतृत्व में पहुंचे अध्यक्ष विजय जिन्दल, महासचिव तेजेंद्रपालसिंह 'टिम्मा', वरिष्ठ उपाध्यक्ष ओम असीजा, बनवारी बिश्नोई आदि ने कलक्टर से इस मामले को हल्के में न लेने को कहा, क्योंकि इस हड़ताल के चलते शहर में जगह-जगह गंदगी का आलम हो गया है और बारिश-तूफान की आशंका के चलते यह भयावह हालात पैदा करने वाला है। बिहाणी ने मृतक सफाईकर्मी के परिवार के लिए आर्थिक सहायता की घोषणा के साथ सरकारी नौकरी की मांग को जायज बताया। जिन्दल ने शहर हित में सफाईकर्मियों के साथ वार्ता कर हल निकाले जाने के लिए श्रीगंगानगर चैम्बर ऑफ कॉमर्स की ओर से हर संभव सहयोग का विश्वास दिलाया। टिम्मा ने तीन दिन में बद् से बद्तर हुए हालात के लिए प्रशासन को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि इतने संवेदनशील मामले में प्रशासनिक अधिकारियों की उदासीनता शर्मनाक है। श्रीगंगानगर चैम्बर ऑफ कॉमर्स के पदाधिकारियों ने प्रशासन को चेताया है कि शहर के व्यापारी एकजुटता के साथ हर नाजायज फरमान का विरोध करेंगे और सफाईकर्मियों की जायज मांग के समर्थन में खड़े हैं।


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें