सोमवार, 14 मई 2018

वसुंधरा ने 2013 में झूठ बोलकर सत्ता हथियाई,अब 2018 में बंटाधार हो जाएगा- सचिन पायलट


*भाजपा विधायकों पर नियंत्रण नहीं*


* बहुत फर्क है भाजपा और कांग्रेस में।

भाजपा के पास प्रदेशाध्यक्ष तक नहीं, कांग्रेस के ब्लाॅक अध्यक भी सक्रिय*

जयपुर 14 मई 2018.

ज्ञान विहार विश्वविद्यालय के सभागार में राजस्थान कांग्रेस के सभी 400 ब्लाॅक अध्यक्षों का एक प्रशिक्षण शिविर हुआ, इसमें कांग्रेस के वरिष्ठ नेता भी शामिल थे। इस मौके पर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सचिन पायलट ने कहा कि राजनीतिक दृष्टि से भाजपा और कांग्रेस में बहुत फर्क है। 6 माह बाद होने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनजर हमारे ब्लाॅक अध्यक्ष सक्रिय हैं और  भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष तक का पता नहीं। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि सत्तारूढ़ पार्टी के संगठन के हालात कैसे हैं। अध्यक्ष बने या नहीं यह भाजपा का आंतरिक मामला है, लेकिन जब भाजपा संगठन में लोकतंत्र होने का दावा करती हैं तो हंसी आती है। 

पायलट ने कहा कि गत चुनाव में झूठ बोलकर वसुंधरा राजे ने सरकार बना ली, लेेकिन अब नवम्बर 2018 के विधानसभा चुनाव में भाजपा का बंटाधार हो जाएगा। जनता समझ गई है कि कांग्रेस और भाजपा में कितना फर्क है। आज पूरे प्रदेश में बिजली, पानी की त्राहि त्राहि मची हुई हैं। आम लोगों की सुनने वाला कोई नहीं है, मुख्यमंत्री तो प्रदेशाध्यक्ष के विवाद में उलझी है, जबकि सरकार के मंत्री सत्ता के नशे में मदहोश है। भाजपा के विधायक आपस में ही अपशब्दों का प्रयोग कर रहे हैं। विधायकों पर कोई नियंत्रण नहीं रहा है। आज जिन 400 ब्लाॅक अध्यक्षों ने वरिष्ठ नेताओं से प्रशिक्षण लिया है वे ब्लाॅक अध्यक्ष अब अपने अपने ब्लाॅक में जाकर वार्ड अध्यक्षों और पदाधिकारियों को प्रशिक्षित करेंगे।

एस.पी.मित्तल) (14-05-18)

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें