मंगलवार, 1 मई 2018

सूरतगढ के 2 अधिकारियों को सर्विस रूल्स के तहत सख्त धारा में नोटिस



न्याय आपके द्वार अभियान 2018 की शुरूआत में ये 2 अथिकारी आए ही नहीं


* स्पेशल रिपोर्ट- करणीदानसिंह राजपूत *

श्रीगंगानगर/ सूरतगढ 1 मई 2018.

राज्य सरकार के निर्देशानुसार राजस्व लोक अदालत अभियान के प्रथम दिन मंगलवार को जिले की 9 पंचायत समितियों की 11 ग्राम पंचायतों में अभियान की शुरूआत हुई। 

जिला कलक्टर श्री ज्ञानाराम सूरतगढ़ पंचायत समिति के गांव गुरूसर मोडिया में आयोजित न्याय आपके द्वार शिविर में पहुंचे तथा शिविर की व्यवस्थाओं को देखा तथा आवश्यक निर्देश दिये। जिला कलक्टर श्री ज्ञानाराम ने महिला बाल विकास विभाग के सीडीपीओ तथा पशुपालन विभाग के संबंधित अधिकारी द्वारा अभियान में नही आने के कारण चार्जशीट देने तथा 17सीसीए के तहत कार्यवाही करने के निर्देश दिये है। इसी प्रकार न्याय आपके द्वार अभियान में अधीक्षण अभियंता विद्युत, अधीक्षण अभियंता जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग, लीड बैंक के एलबीएम तथा महिला बाल विकास विभाग की क्षेत्रीय उपनिदेशक द्वारा अभियान में रूचि नही दिखाने के कारण बताओ नोटिस दिये जायेंगे। 

जिला कलक्टर ने समस्त जिला स्तरीय अधिकारियों, समस्त एसडीएम व राजस्व अधिकारियों को निर्देशित किया है कि आयोजित शिविरों में उपस्थित रहें, आमजन की समस्याओं को सुनें तथा मौके पर ही समस्या का निवारण करने का प्रयास किया जाये। उन्होंने अधिकारियों व कार्मिकों के निर्देशित किया है कि सरकार की मंशा के अनुरूप अभियान की गंभीरता को समझें। गत वर्ष आयोजित न्याय आपके द्वार अभियान काफी सफल रहा था तथा आमजन को लाभ मिला था। उसी के अनुरूप अभियान 2018 भी सफल रहना चाहिए तथा अधिकतम समस्याओं का मौके पर ही समाधान होने चाहिए। राजस्व अभियान के दौरान सूरतगढ़ विधायक श्री राजेन्द्र सिंह भादू, एसडीएम श्रीमती सीता शर्मा, विकास अधिकारी श्री रोमा सहारण, सरपंच व विभिन्न विभागों के अधिकारी व ग्रामीण जन उपस्थित थे। 





कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें