सोमवार, 9 अप्रैल 2018

सूरतगढ:सीआरपीएफ के सातवेंं बैच का दीक्षांत समारोह


* करणीदानसिंह राजपूत *

सूरतगढ़ 9 अप्रैल 2018.

 केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के सूरतगढ़ रिक्रूटमेंट प्रशिक्षण केंद्र परिसर में आज सातवें बैच को बुनियादी प्रशिक्षण पूर्ण होने पर भव्य समारोह में शपथ एवं दीक्षांत परेड का आयोजन किया गया।

 केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के ये जवान पास आउट होकर देश के विभिन्न क्षेत्रों में नियुक्त होंगे। 

इस समारोह के मुख्य अतिथि भारतीय पुलिस सेवा के राजस्थान पुलिस रेंज बीकानेर के महा निरीक्षक विपिन कुमार पांडेय ने परेड की सलामी ली। 

इस अवसर पर भारतीय सेना भारतीय वायु सेना पुलिस और विभिन्न क्षेत्रों के अधिकारीगण, विभिन्न क्षेत्रों के अंदर कार्यरत नागरिकगण, विभिन्न स्कूलों के बच्चे आदि ने शिरकत की।  इन प्रशिक्षित जवानों को 44 सप्ताह का कठोर प्रशिक्षण दिया गया। इन्हें युद्ध कला, जंगल में रहना,विभिन्न तरह के हथियार उपयोग में लाना, निहत्थे लड़ाई करना,कठोर शारीरिक प्रशिक्षण, ड्रिल, कानून व्यवस्था, भीड़ नियंत्रण,राहत एवं बचाव कार्य,चुनाव आदि में ड्यूटी देने का गहन प्रशिक्षण दिया गया।

 इस अवसर पर बुनियादी प्रशिक्षण के दौरान उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले नव आरक्षियों को बेस्ट इंडौर बेस्ट फायरर बेस्ट आउटडोर एवं ऑलराउंड की ट्रोफी व मेडल प्रदान कर सम्मानित किया गया।

 मुख्य अतिथि ने अपने संबोधन में पास आउट हुए सभी नव आरक्षियों व उनके परिवार के सदस्यों को बधाई दी एवं कहा कि आज आप इस महान बल का हिस्सा बनने जा रहे हैं। बल में अनुशासन का बहुत महत्व है। प्रशिक्षण का मकसद आपके पूरे जीवन को अनुशासन में ढालना,आपको शारीरिक एवं मानसिक रूप से मजबूत करना है, जिससे कि आप में सहनशीलता नेतृत्व व राष्ट्रभक्ति जैसे गुण विकसित हो सकें।

 विभिन्न राज्यों से आए ये जवान भाषा धर्म खान पान रहन सहन व संस्कृति में विभिन्नताओं को दरकिनार करते हुए टीम भावना के साथ गहन व कठिन प्रशिक्षण में सफल हुए हैं । 

इस सिखलाई का भरपूर फायदा देश के विभिन्न क्षेत्र जो आज नक्सलवाद आतंकवाद और उग्रवाद से प्रभावित हैं मैं क्षमता के साथ कार्य करने के दौरान अवश्य होगा, जब ये वास्तविकता से रूबरू होंगे।

 मुख्य अतिथि के संबोधन के उपरांत बल के जवानों द्वारा भिन्न-भिन्न तरह के प्रदर्शन कर शारीरिक दक्षता युद्ध कला वह निहत्थे लड़ाई सीने पर पत्थर तोड़ना अपने फौलादी शरीर के ऊपर से मोटरसाइकिल गुजारना अग्नि गोले के बीच में से कूदनाआदि जैसे प्रदर्शन किए गए।

 अंत में संस्थान के कमांडेंट में मुख्य प्रशिक्षण अधिकारी श्री सूरजपाल वर्मा ने मुख्य अतिथि व इस समारोह का हिस्सा बने अधिकारियों गणमान्य अतिथियों स्कूली बच्चों नए आरक्षियों के उनके परिवारजनों इलेक्ट्रॉनिक  व प्रिंट मीडिया का समारोह में पधारने पर आभार प्रकट किया। 




कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें