गुरुवार, 19 अप्रैल 2018

सीएम जनसंवाद प्रकरण निपटाने में 3 एसडीएम 2 दिन में स्थिति बताएंगे

* जिला बैठक में अनुपस्थित रहने वाले अधिकारियों से जवाब तलब होगा*

श्रीगंगानगर, 19 अप्रैल। जिला कलक्टर श्री ज्ञानाराम ने कहा कि जिला स्तरीय बैठक में अनुपस्थित रहने वाले अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस दिए जाएंगे। उनसे 15 दिवस में जवाब लिया जाएगा, नोटिस में पूछा जाएगा कि क्यो ना उनके विरूद्ध 17 सीसीए की कार्यवाही अमल में लाई जाए। 

जिला कलक्टर गुरूववार 19-4-2018  को कलैक्ट्रेट सभाहॉल में आयोजित बैठक में बोल रहे थे। उन्होने कहा कि मुख्यमंत्री के जनसंवाद कार्यक्रम के दौरान आए प्रकरणों का तत्काल व गंभीरतापूर्वक निपटारा करे। उन्होने निर्देश दिए कि सूरतगढ, गंगानगर व सादुलशहर एसडीएम को आगामी दो दिवस में अपने-अपने प्रकरणों की ताजा स्थिति से अवगत करवाना होगा। 

जिला कलक्टर ने बताया कि राज्य सरकार के निर्देशानुसार आगामी माह से न्याय आपके द्वार कार्यक्रम प्रारम्भ होगा, जिसमें राजस्व, समाज कल्याण, पशु पालन, चिकित्सा, महिला बाल विकास, विद्युत, पेयजल, आयोजना, सैनिक कल्याण, पंचायतीराज, श्रम, कृषि, रसद तथा आयुर्वेद विभाग की महत्वपूर्ण जिम्मेदारी रहेगी। सभी विभाग ब्लॉकवार एक अधिकारी को उत्तरदायित्व सौंपेंगे। ब्लॉक स्तरीय अधिकारी प्रत्येक शिविर में उपस्थित रहेंगे। उन्होने कहा कि प्रत्येक विभाग एक एडवांस टीम का गठन करेंगे, जो शिविर से पूर्व गांव में जाकर समस्याओं का निदान करेंगे। 

जिला कलक्टर ने ग्राम स्वराज अभियान की समीक्षा की तथा निर्देश दिए कि चिन्हित 111 गांवों में कोई भी महिला बिना गैस कनैक्शन के या कोई परिवार विद्युत कनैक्शन के बिना न रहे। भारत सरकार के निर्देशानुसार उज्ज्वला, उजाला, सौभाग्य, प्रधानमंत्री जनधन योजना, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति  बीमा योजना, सुरक्षा बीमा योजना तथा मिशन इन्द्र धनुष योजनाओं का सौ प्रतिशत नागरिकों  को लाभ दिया जाए।

बैठक में मुख्यमंत्री हैल्प लाईन, भामाशाह, अन्नपूर्णा भण्डार, अनपूर्णा रसोई, स्वच्छ भारत मिशन, प्रधानमंत्री आवास योजना, फसल बीमा योजना, भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना, राजश्री, शुभशक्ति योजना तथा शहर में 20 करोड़ की लागत से बनने वाली सड़कों  की अब तक की प्रगति की समीक्षा की तथा आवश्यक निर्देश दिए। 

बैठक में नगर परिषद आयुक्त सुनीता चौधरी, न्यास सचिव श्री कैलाशचंद्र शर्मा, एसडीएम श्री यशपाल आहूजा, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ0 नरेश बंसल, अधीक्षण अभ्रियन्ता विद्युत श्री संजय वाजपेई, सहायक निदेशक समाज कल्याण श्री बी.पी. चन्देल सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

इस उपस्थिति से मालूम पड़ता है कि कई अधिकारी सरकार के निर्देशों की परवाह नहीं कर रहे यहां तक कि मुख्यमंत्री के निर्देशों की भी परवाह नहीं कर रहे।


/s640/IMG_20180419_142021.jpg" width="640" />

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें