सोमवार, 19 फ़रवरी 2018

बलात्कार की कोशिश, गिरफ्तार हुए बीजेपी सरकार के मंत्री

एसिड अटैक पीड़िता से बलात्कार की कोशिश में मध्य प्रदेश भाजपा सरकार में दर्जा राज्य मंत्री राजेंद्र नामदेव गिरफ्तार किए गए हैं। राजधानी भोपाल के हनुमानगंज थाने की पुलिस ने पीडब्ल्यूडी के गेस्ट हाउस से उन्हें गिरफ्तार किया। इससे पहले नामदेव को मध्य प्रदेश राज्य सिलाई कला मंडल के उपाध्यक्ष पद से भी हटाया जा चुका है। उधर, मंत्री ने खुद को फंसाए जाने का आरोप लगाया है।

*******

नई दिल्ली | February 19, 2018.

एसिड अटैक पीड़िता से बलात्कार की कोशिश में मध्य प्रदेश भाजपा सरकार में दर्जा राज्य मंत्री राजेंद्र नामदेव गिरफ्तार किए गए हैं। राजधानी भोपाल के हनुमानगंज थाने की पुलिस ने पीडब्ल्यूडी के गेस्ट हाउस से उन्हें गिरफ्तार किया। इससे पहले नामदेव को मध्य प्रदेश राज्य सिलाई कला मंडल के उपाध्यक्ष पद से भी हटाया जा चुका है। उधर, मंत्री ने खुद को फंसाए जाने का आरोप लगाया है। एसिड अटैक पीड़ित लड़की को हवस का शिकार बनाने की कोशिश का मामला सामने आने पर मंत्री की सोशल मीडिया पर खूब भद्द पिट रही है। उधर, विपक्षी दल बीजेपी सरकार पर जमकर हमला बोल रहे हैं।

पुलिस के मुताबिक, 18 जून 2016 को सिवनी निवासी युवती पर एसिड अटैक हुआ था। न्याय दिलाने की बात कहकर मंत्री युवती के करीब आए और उसे नौकरी दिलाने का झांसा दिया। करीब चार महीने पहले 11 नवंबर 2017 को उन्होंने राजदूत होटल के कमरा नंबर 106 में उसे बुलाया। आरोप है कि मंत्री ने पहले दिन अश्लील हरकतें की। फिर अगले दिन जबरन कपड़े उतारने लगे। इस दौरान उन्होंने मोबाइल से अश्लील तस्वीरें भी उतारी। विरोध करने पर वीडियो वायरल करने की धमकी दी। डर के मारे युवती चार महीने तक चुप रही। रविवार (18 फरवरी) को उसने हनुमानगंज थाने पहुंचकर राज्य मंत्री नामदेव के खिलाफ केस दर्ज कराया।

उधर, मंत्री का कहना है कि विरोधियों के भड़काने पर युवती उनके खिलाफ झूठे आरोप लगा रही है। वे पुलिस और कोर्ट के सामने अपनी बेगुनाही के सबूत पेश करेंगे। केस दर्ज होने के बाद मध्य प्रदेश पुलिस हरकत में आई और न्यू मार्केट स्थित पीडब्ल्यूडी गेस्ट हाउस से मंत्री नामदेव को गिरफ्तार कर लिया। एएसपी राजेश सिंह भदौरिया के मुताबिक, युवती मूलतः सिवनी की रहने वाली है। 18 जून 2016 को उस पर हबीबगंज थाना क्षेत्र में एसिड अटैक हुआ था। राजेंद्र नामदेव ने इसी के बाद हमदर्दी दिखाई और मदद के बहाने युवती के करीब आ गए। इस दौरान नामदेव ने पीड़िता को नौकरी दिलाने का झांसा दिया था।

(जनसत्ता ओनलाइन 18-2-2018 से साभार,)


 


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें