रविवार, 25 फ़रवरी 2018

होळी री मसखरी 2018: हंसो हंसाओ: खेलो रंग गुलालः


होली: हंसी मजाक चुटकियों से भरी ठिठोली

बुरा ना मानो होली है

================

नरेन्द्र भाई- बिना भाभी

वसुंधरी- सदा धुलंडी खेल्योड़ी

भाजपा - भागै पाछै नीं देखे

कांग्रेस- फूट्यौड़ो घड़ो आवती सत्ता कुण सामसी

बसपा- लारली बात कोनी-अंजन सपीड कोनी पकड़



 

 राजेन्द्र भादू -मुस्कुराते मारै

अमित भादू - बाप सूं दो कदम आगै

महेश सेखसरिया-  आपां बैठ्या पूजीजां

हरचंदसिंह सिद्धु-टिकस री जुगाड़

गंगाजल मील - फाट्योड़ो ढब्बू कीयां फूल सी

डूंगर राम गेदर - अबकै कीं बटण री आस में 

पृथ्वीराज मील -आ रिपियां री कांई मजाक  

 बलराम वर्मा-टिकट आपणी पक्की समझो, समझ गया

शोपत मेघवाल- सरकार क तगड़ो डोको

राकेश-कांग्रेस रो छल कपट


रामप्रताप कासनियां- पक्का लड़स्यां,हुक्के री गुड़गुड़ सूं

अशोक नागपाल -  पंप मांय पड़्या है वोट   

काजल छाबड़ा- मुड़दे शहर री मजेदार अध्यक्षता

सुनील छाबड़ा -   आपणो राज

श्रीमती राजेश सिडाना - ताबै कोनी आवै 

श्रीमती रजनी मोदी -  हुण चंगी हां

हरबक्सकौर बराड़-  नेतागिरी आपणी

लालचंद सांखला -अब करणपुर रो लालो

मुरली पारीक -नांव रो नेता

प्रेमप्रकाश राठौड़- पुतला बाल नेता     

गौरव बलाना- कासनिये रो लाऊडस्पीकर      

बाबूसिंह खीची-   ठेकेदार      

अशोक आसेरी -   कठै रैवे भाईड़ा

विजय गोयल-लुप्त

राजेन्द्र तनेजा-आजकाल कठै,निजरां कोनीआवै

पीताम्बरदत्त शर्मा-कीं कोनी,पण लड़स्यू

शरणपालसिंह-आपा नूं ठगी जांदे

परमजीतसिंह बेदी-विधायकी में लड़ांगै     

एन.डी.सेतिया -  अब पालिका का स्पीकर  

विष्णु शर्मा - पेट संभाल

श्याम मोदी-ओ विधायक तो जमा काम रो नहीं

परसराम भाटिया-टूल

गुरदर्शनसिंह सोढ़ी -जियां गंगलो कैवे,बीं रे सागै   

वली मोहम्मद -  दारू री धार         

इकबाल कुरैशी-  पालिका रा पुरखा

बनवारीलाल  मेघवाल-चुनाव री तैयारी

संजय धुआ-कित्थे चले गये

पी.के.मिश्रा-  साई किल समेत भाजपा में 

लक्ष्मण शर्मा-रेल में पेल

मदन औझा-लाल सलाम

महावीर भोजक-     भासणी नेतो

ओम पुरोहित-करसाणा रो नेतो

प्रवीण अरोड़ा-कनपटी सफेद,बुजुर्ग हुवे

राजकुमार अग्रवाल-मसालेदार 

सुशील जेतली-   अब कहीं फिट करलो     

महावीर सैनी-दौड़ भाईड़ा,दौड़

चांदमल वर्मा-उम्मीदां पर खरो

सीता शर्मा-सूरतगढ़ री अजब रामलीला,

अजय गोदारा-सूको कोई नीं जावै

निकेत पारीक- ठीक ठाक चालै

प्रवीण भाटिया- राजनीति रा सपना,

घनश्याम शर्मा-निजरां रो खिलाड़ी

सुखवंत-सगला साथी

रवि खुराना-सब ठीक ठाक

बीरबल सैनी-बाईपास

साहित्यकार

मनोज स्वामी-कीं हंसले

हरिमोहन रूंख -बीण बजावण मांय माहिर

परमानन्द दर्द,-अब कोई नहीं दर्द

राजेश चड्ढा - मस्ती री जुगलबंदी

रामेश्वर दयाल तिवाड़ी-मेरी किताब

नन्दकिशोर सोमाणी-टैम सर छाप लै

साहबराम स्वामी- आच्छी करै मजाक

नगेन्द्र सिंह शेखावत-थारी सोगन

खबरां रा धणी

करणीदानसिंह राजपूत-तीखी मार

हरिमोहन सारस्वत-      एकलो खिलाड़ी

जितेन्द्र - पुठो आयो जीत

हनुमंत-ओ भी हड़मान

ब्रह्मप्रकाश-दादै री बात

मनोज स्वामी-टीपलै भाईड़ा

मालचंद जैन -बिना कलम रो पत्रकार

राजेन्द्र पटावरी-दुकानदारी रो चैनल

विजय स्वामी- स्टोरी चालै

प्रवीण डी जैन-रामलीला री खबर

शिव सारड़ा-स्याणो पत्रकार

नवल भोजक-फोटू पत्रकार

सुभाष राजपूत-टींगरपणो

गोविंद भार्गव-आजकल खूब चालै

राजेन्द्र उपाध्याय-राजा 

प्रेमसिंह सूर्यवंशी-सगळा रो साथ

महेन्द्र जाटव-धारदार खबर

कैलाश सोनी-बहकते समाचार

सुरेन्द्र निराणियां -  दोपहर तक

कृष्ण सोनी आजाद -  एसीबी भी भ्रष्ट

सुमित्रा मांगीलाल-स्टोरी राईटर

डाक्टरां रो टोळौ

मनोज अग्रवाल -      बेहोशी री कमाई

विजय भादू- हड्डियां जोड़ 



राजेन्द्र छाबड़ा,विजय बेनीवाळ,अरविंद बंसल, संजय बजाज- एपेक्स की दुकान

के.एल.बंसल-   अच्छा काम,आच्छा नाम

पर्वतसिंह-    गळा कान 

जी.डी.शर्मा-गोड गिफ्ट

अक्षय भंसाली - सब नजरों का खेल

इन्द्र चुघ-सच्चा डागधर

राहुल छाबड़ा - बढते कदम

जे.एम.डे.  - ठीक ठाक

विशाल छाबड़ा - दांतां री किरपा

अनिल पैंसिया-  दांतों का गौरव

हरप्रीतसिंह - प्रीत की बेल

सतीष मिश्रा   - ईलाज भी, बातां भी

रतनलाल जोशी- पेट सफा चूरण

*******

बाकी रैया गेलसफा!

आगली होली मांय बियां नै भी कीं न कीं जरूर देस्यां।

**********



कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें